होम /न्यूज /ज्ञान /

पाकिस्तान में क्यों लोकप्रिय हो रही है चीनी बियर?

पाकिस्तान में क्यों लोकप्रिय हो रही है चीनी बियर?

चीनी बियर पाकिस्तान (Pakistan) के पश्चिमी और दक्षिणी प्रांतों में ज्यादा लोकप्रिय हो रही है.  (प्रतीकात्मक तस्वीर: shutterstock)

चीनी बियर पाकिस्तान (Pakistan) के पश्चिमी और दक्षिणी प्रांतों में ज्यादा लोकप्रिय हो रही है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: shutterstock)

पाकिस्तान (Pakistan) के शराब के बाजार में चीनी बियर (Chinese Beer) की लोकप्रियता तेजी से बढ़ी है. यहां इस्लाम धर्म में शराब (Alcohol) को हराम समझे जाने के बाद भी बहुत से लोग बियर की ओर आकर्षित हुए हैं. देश के पश्चिमी और दक्षिणी प्रांतों में चीनी बियर की लोकप्रियता बढ़ी है. स्थानीय लोगों का कहना है कि इसमें शराब का प्रतिशत ज्यादा होने और इसकी आकर्षक पैकेजिंग ग्राहकों को इसकी ओर खींच रही है.

अधिक पढ़ें ...

    पाकिस्तान एक इस्लामिक देश (Pakistan an Islamic Country) है. इस्लाम धर्म में शराब को हराम (Alcohol prohibition) कहा गया है. इसलिए सच्चा मुसलमान कभी शराब नहीं पीता. हैरानी की बात लगती है कि पाकिस्तान में पिछले कुछ सालों से चीनी बियर (Chinese Beer in Pakistan) काफी लोकप्रिय हुई है और उसकी लोकप्रियता बढ़ती भी जा रही है. लेकिन यह सच  है कि इस्लाम जैसे कड़े महजब वाले देश में बियर लोकप्रिय हो रही है. आखिर पाकिस्तान में बियर लोकप्रिय कैसे हो गई और वह भी चीनी बियर में ऐसा क्या है जो उसके ही ब्रांड की बियर पाकिस्तान के कुछ प्रांतों में लोकप्रियता हासिल कर रहे हैं.

    बियर उत्पादन का प्लांट
    कुछ साल पहले पाकिस्तान के पश्चिमी प्रांत बलूचिस्तान में एक चीनी कंपनी ने बियर का प्लांट स्थापित किया था. इस प्लांट से ना केवल बलूचिस्तान बल्कि दक्षिण में सिंध और व्यवसायिक राजधानी कराची तक में  बियर स्पलाई की जाती है. इन इलाकों में बियर की लोकप्रियता बढ़ती हुई देखी जा रही है.

    क्यों लोकप्रिय है बियर
    चीनी  बियर को पसंद करने वाले कह रहा है कि इसकी लोकप्रियता के कारणों में इसकी शानदार रंगीन पैकिंग, आसानी से उपलब्धता,और इसमें एल्कोहल का सबसे ज्यादा प्रतिशत होना शामिल है. डीयू की रिपोर्ट के मुताबिक ब्लूचिस्तान के एक्साइज एंड टेक्शेसन के डायरेक्टर जनरल मुहम्मद जमान खान बताते है कि हुई कोस्टल ब्रेवरी और डिस्टिलरी लिमिडेट नाम की चीनी कंपनी को 2018 में ही प्लांट का लाइसेंस मिला था.

    पहले केवल चीनी लोगों के लिए
    इस कंपनी ने पिछले साल ही रोजाना 65 हजार से एक लाख लीटर से उत्पादन शुरू किया था. खान ने माना कि शुरू में कंपनी का लक्ष्य चाइना पाकिस्तान इकोनोमिक कॉरिडोर परियोजनाओं में काम कर रहे चीनी लोग ही थे, लेकिन बाद में स्थानीय दुकानदारों को भी बियर बेची जाने लगी और जल्दी ही स्थानीय लोगों में लोकप्रिय हो गई.

    World, Research, Pakistan, China, Beer, Chinese Beer, Alcohol Market,

    पाकिस्तान (Pakistan) में मुस्लिमों में शराब की पाबंदी है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: Zaheer Ud Din Qureshi / Shutterstock)

    कौन कौन से वेरिएंट
    इस फैक्ट्री के शहर हब में रहने वाले एक स्थानीय व्यक्ति ने बताया कि कंपनी ने तीन तरह के बियर पेश की हैं. हर कैन में 500 मिलीलीटर की क्षमता है. इसमें हुंगची स्पेशल ब्रू, हुंगची एंबरलैगर और हुई चेंग वेरिएशन हैं. पिछले एक साल मे ये सभी वेरियएंट स्थानीय लोगों में तेजी से लोकप्रिय हुए हैं.

    यह भी पढ़ें: क्या चीन वाकई कर रहा है चंद्रमा पर कब्जा करने तैयारी?

    स्थानीय लोगों में  बढ़ती लोकप्रियता
    हुसैन का कहना है कि उनके 25 दोस्तों के समूह में सभी ने बियर को चखा है वे कहते हैं कि खुद उन्होंने सौ बार बियर चखी है. वहीं कराची के स्थानीय हिंदू शराब बेचने वाले का कहना है कि चीनी  बियर यहां के स्थानीय मिडिल क्लास और एलीट क्लास में ज्यादा लोकप्रिय होती जा रही है. ग्राहक भी चीनी बियर की लोकप्रियता का अलग अलग कारण बताते हैं.

    World, Research, Pakistan, China, Beer, Chinese Beer, Alcohol Market,

    पाकिस्तान में चीनी बियर (Chinese Beer) का उपयोग करने वाले बताते हैं कि बियर की पैकेजिंग बहुत आकर्षक है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: monticello / Shutterstock)

    एल्कोहल का ज्यादा प्रतिशत
    कुछ लोगों को चीनी बियर की अधिक एल्कोहल का प्रतिशत लुभावना लगता है, स्थानीय युवा बताते है कि उन्हें “दो कैन में ही ऐसा लगने लगता है कि उन्होंने शराब पी ली है.“ एल्कोहल का ज्यादा प्रतिशत खास तौर से उन लोगों के लिए आकर्षक है जो पहली बार बियर ट्राय कर रहे हैं. या फिर जो वास्तव में नशा महसूस करना चाहते हैं.

    यह भी पढ़ें: अमीर देशों ने पहुंचाया है गरीब देशों को भारी जलवायु नुकसान- शोध का दावा

    इसके अलावा कई लोग यह बताते हैं कि बियर के कैन के चमकीले रंग भी लोगों को आकर्षित करने में सफल रहे हैं. इसके अलावा कुछ लोगों कायह भी मानना है कि इस बियर का विदेशी होना भी इसे आकर्षक बनाता है. लेकिन इस लोकप्रियता का मतलब यह नहीं है कि पाकिस्तान में बियर मुस्लिमों में लोकप्रिय हो रही है. यहां मुस्लिमों में शराब अब भी प्रतिबंधित है. लेकिन यहां  बियर क्रिश्चियन, हिंदू और अन्य गैर मुस्लिम ही बियर बेच और खरीद रहे हैं. बलूचिस्तान और सिंध में बहुत से लोगों का मानना है कि चीनी  बियर बहुत ज्यादा आसानी से यहां उपलब्ध है.

    Tags: China, Pakistan, Research, World

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर