लाइव टीवी

सैंडविच चोरी के आरोप में सस्पेंड हुआ 77 लाख महीने कमाने वाला बैंकर

News18Hindi
Updated: February 4, 2020, 3:01 PM IST
सैंडविच चोरी के आरोप में सस्पेंड हुआ 77 लाख महीने कमाने वाला बैंकर
सैंडविच चोरी के आरोप नें सस्पेंड होने के बाद पारस शाह मुश्किलों में फंस गए हैं. (तस्वीर-फेसबुक)

बैंक प्रशासन (Citi Bank) का कहना है कि पारस शाह (Pars Shah) पर कई बार खाना चुराने का आरोप लगा है. हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि पारस ने कितनी बार सैंडविच या खाने का दूसरा सामान चुराया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 4, 2020, 3:01 PM IST
  • Share this:
ब्रिटेन में सिटी बैंक (Citi Bank) में बड़े पद पर कार्यरत भारतीय मूल के एक व्यक्ति को सैंडविच चोरी के आरोप में सस्पेंड कर दिया गया है. इस व्यक्ति का नाम पारस शाह है. दिलचस्प है कि पारस शाह का सालाना पैकेज एक मिलियन पाउंड (9,22,40,943 रुपये) का है. उनकी मंथली सैलरी करीब 77 लाख रुपये है.

'कई बार लगे आरोप'
बैंक प्रशासन का कहना है कि पारस शाह पर कई बार खाना चुराने का आरोप लगा है. इसे लेकर ब्रिटिश अखबार फाइनेंशियल टाइम्स ने रिपोर्ट की है. हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि पारस ने कितनी बार सैंडविच या खाने का दूसरा सामान चुराया.

हाईप्रोफाइल बैंकर

पारस शाह को यूरोप के हाइयेस्ट प्रोफाइल क्रेडिट ट्रेडर्स के बीच रखा जाता है. बैंक में बड़े ओहदे पर होने के कारण उनकी धाक है. कम उम्र में उन्होंने ऊंचा मुकाम हासिल किया है, लेकिन अब कहा जा रहा है कि इन आरोपों की वजह से मुश्किल हो सकती है. हालांकि उन्हें अभी बस आरोपों के आधार पर सस्पेंड किया गया है. लेकिन मीडिया में सुर्खियां बन जाने के कारण इस केस को काफी हाइप मिल रही है. दूसरा लोगों यह भी हजम नहीं हो पा रहा है कि आखिर 77 लाख रुपये महीने सैलरी पाने वाला एक बैंकर सैंडविच की चोरी क्यों करेगा?

पारस शाह सिटी बैंक के लंदन स्थित हेडक्वार्टर में कार्यरत थे.
पारस शाह सिटी बैंक के लंदन स्थित हेडक्वार्टर में कार्यरत थे.


ब्रिटेन में ही की पढ़ाई31 वर्षीय पारस ने साल 2010 में ब्रिटेन की बाथ यूनिवर्सिटी से अर्थशास्त्र में ग्रेजुएशन किया था. इससे पहले की पढ़ाई उन्होंने लंदन के ही एक प्रतिष्ठित स्कूल से पूरी की थी. साल 2010 में ही वो एचएसबीसी बैंक के साथ जुड़ गए और सात साल तक वहीं काम करते रहे. इस दौरान पारस अपनी काबिलियत से वो एक के बाद एक कई पदों पर रहे. 2017 में उन्होंने सिटी बैंक जॉइन किया. पिछले तीन सालों से वो इसी बैंक में काम कर रहे हैं. वर्तमान समय में वो सिटी बैंक के क्रेडिट ट्रेडिंग डिपार्टमेंट में यूरोप, मिडिल ईस्ट और अफ्रीका के हेड थे.

उठाना पड़ सकता है बड़ा खामियाजा
पारस शाह के फेसबुक पेज के मुताबिक वो घूमने-फिरने के शौकीन हैं. हाल ही में उन्होंने जॉर्डर और पेरू की सैर की थी. कंपनी में हाईप्रोफाइल अधिकारी होने की वजह से उन्हें बहुत सारी सुविधाएं मुहैया कराई जाती हैं. अब माना जा रहा है कि अगर आरोप सिद्ध हुए तो इस केस की वजह से उन्हें बड़ा खामियाजा उठाना पड़ सकता है.



दूसरे बैंकर्स पर भी लगे हैं आरोप
पारस शाह पहले बैंकर नहीं हैं जिन्हें करियर की तेज उड़ान के दौरान झटके लगे हैं. साल 2016 में एक जापानी बैंक ने लंदन के एक बैंकर को मात्र 5 पाउंड चोरी करने की वजह से नौकरी से निकाल दिया था. इसी तरह से साल 2014 में एक बैंक ने अपने सीनियर अधिकारी को ट्रैवल एक्सपेंसेज में हेर-फेर के लिए बाहर का रास्ता दिखाया था.

ये भी पढ़ें:- 

मांसाहारियों और शराबियों को टिकट नहीं देती थी ये पार्टी, कभी नहीं जीता एक भी कैंडिडेट

गांधी से पहले भी हुआ था 'असहयोग आंदोलन', इस सिख धर्मगुरु ने की थी शुरुआत

#HumanStory: कहानी, ट्रक ड्राइवर की- 'लोग हमें औरत से दगा करने वाला मानते हैं'

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नॉलेज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 4, 2020, 2:44 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर