लाइव टीवी

कोरोना वैक्सीन: फेल हुआ ऑक्सफोर्ड का प्रोजेक्ट, थाईलैंड में एक नया ट्रायल शुरू

News18Hindi
Updated: May 20, 2020, 4:16 PM IST
कोरोना वैक्सीन: फेल हुआ ऑक्सफोर्ड का प्रोजेक्ट, थाईलैंड में एक नया ट्रायल शुरू
इस वक्त कोरोना की वैक्सीन बनाने के लिए दुनिया में सौ जगह प्रोजेक्ट चल रहे हैं.

कोरोना (Corona Virus) के इलाज के लिए दुनियाभर में बेहद उम्मीदों के साथ देखा जा रहा ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी का वैक्सीन प्रोजेक्ट फेल हो गया है. लेकिन अमेरिकी दवा कंपनी मॉडर्ना के वैक्सीन ट्रायल के शुरुआती नतीजे सकारात्मक आए हैं. वहीं वैक्सीन की इस दौड़ में अब थाईलैंड भी शामिल हो गया है.

  • Share this:
दुनिया में कोरोना संक्रमितों की संख्या 50 लाख का आंकड़ा पार कर चुकी है. इस बीच महामारी की रोकथाम के लिए वैक्सीन की तलाश और तेज हुई है. अमेरिका की बायोटेक कंपनी मॉडर्ना को उसके प्रोजेक्ट में शुरुआती सफलता मिली है, इससे आस बंधी है. लेकिन जिस प्रोजेक्ट पर पूरी दुनिया की निगाहें लगी हुई थीं वो फेल हो गया है. ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में चल रहा वैक्सीन का ट्रायल शुरुआती चरण में ही फेल हो गया है. इस वैक्सीन का बंदरों पर कोई खास असर होता नहीं दिख रहा है. लेकिन एक खुशखबरी है कि अब थाईलैंड भी कोरोना की वैक्सीन बनाने की दौड़ में शामिल हो गया है.

बोरिस जॉनसन ने की नए रास्ते तलाशने की वकालत
अगर देखा जाए तो अब भी कोरोना की वैक्सीन दूर की कौड़ी लग रही है. कोरोना वायरस के संक्रमण से खुद जूझ चुके ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने तो नए रास्ते तलाशने की बात तक कह दी है. उन्होंने साफ कहा है कि वैश्विक प्रयासों को बावजूद संभव है कि कोरोना वायरस पर रोक लगाने का ये तरीका सफल न हो. उन्होंने द मेल में लिखे एक लेख में कहा है कि हमें कोरोना वायरस को रोकने के लिए नए रास्ते तलाशने की जरूरत है.

Five already dead, UK, first coronavirus death, coronavirus, covid-19, boris johnson, बोरिस जॉनसन, कोरोना वायरस, कोरोना से मौत , ब्रिटेन
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन




100 प्रोजेक्ट चल रहे हैं


अगर कोरोना वैक्सीन बनाने के लिए दुनियाभर में चल रहे प्रोजेक्ट की संख्या की बात की जाए तो ये आंकड़ा 100 तक पहुंच गया है. इस सप्ताह बड़ा डेवलपमेंट अमेरिकी ड्रग कंपनी मॉडर्ना की तरफ से आया. उनसे अपने प्रोजेक्ट mRNA-1273 में शुरुआती सफलता की बातें कहीं. ये आंकड़े 8 लोगों पर किए गए ट्रायल पर आधारित हैं. लेकिन अभी इसे बेहद शुरुआती सफलता माना जा रहा है.

चीन में भी चल रहे हैं ट्रायल
कोरोना वायरस के उद्गम देश चीन में भी कोरोना वायरस की वैक्सीन तलाशने के लिए ट्रायल चल रहे हैं. पेकिंग यूनिवर्सिटी के साइंटिस्ट्स का कहना है कि एक नई दवा का ट्रायल जानवरों पर सफलतापूर्वक कर लिया गया है. इसके नतीजे भी बेहद सकारात्मक आए हैं. गौरतलब है कि इस ट्रायल में शामिल साइंटिस्ट्स का मानना है कि कोरोना को रोकने के लिए वैक्सीन से ज्यादा कारगर दवा साबित हो सकती है. न्यूज एजेंसी एएफपी की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि ये दवा कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों को तेजी से ठीक करेगी. साथ ही संभवत: ये कुछ समय के लिए दोबारा संक्रमण से इम्यून भी करेगी.

थाईलैंड में भी ट्रायल की शुरुआत
कोरोना वायरस के ट्रायल की दौड़ में अब थाईलैंड भी शामिल हो गया है. थाईलैंड की तरफ से कहा गया है कि अगले साल तक कोरोना की वैक्सीन बनाई जा सकती है. थाईलैंड के इस प्रोजेक्ट ने चूहों में सकारात्मक असर दिखाया है. अगले हफ्ते बंदरों में इस वैक्सीन का ट्रायल शुरू किया जाएगा. थाईलैंड की वैक्सीन देश का National Vaccine Institute डेवलप कर रहा है.

corona virus update, covid 19 update, corona virus vaccine, corona vaccine trial, corona virus treatment, कोरोना वायरस अपडेट, कोविड 19 अपडेट, कोरोना वायरस वैक्सीन, कोरोना वैक्सीन परीक्षण, कोरोना वायरस इलाज, कोरोना वैक्सीन, Coronavirus Vaccine, एक्सपर्ट्स की राय, शीर्ष वैज्ञानिक अनुसंधान संस्था, काउंसिल ऑफ साइंटिफिक एंड इंडस्ट्रियल रिसर्च, CSIR, 35 से ज्यादा लैब के वैज्ञानिक, 6 फार्मास्यूटिकल कंपनियां भी कोरोना वायरस, Coronavirus, वैक्सीन, कोरोना वैक्‍सीन, कोरोना वायरस की वैक्सीन, कोरोना वायरस का इलाज, कोरोना टीका, covid19 pandemic, coronavirus vaccine, Coronavirus in UK,Corona Vaccine,Coroanvirus outbreak
प्रतीकात्मक तस्वीर


एक और प्रोजेक्ट
अमेरिका की दवा कंपनी Pfizer जर्मन कंपनी BNTECH के साथ मिलकर एक वैक्सीन प्रोजेक्ट पर काम कर रही है. इस वैक्सीन का इंसानों पर पहले चरण का ट्रायल शुरू किया जा चुका है. इस चरण में 18 से 55 साल के 200 लोगों पर ट्रायल किया जाएगा. इसके अगले चरण में 160 लोगों पर ट्रायल किया जाएगा. इस प्रोजेक्ट का नाम ‘BNT162’ है. कंपनियों ने आशा जाहिर की है कि अक्टूबर 2020 तक कोरोना की वैक्सीन तैयार की जा सकती है.

यह भी पढ़ें:

कुछ लोग अधिक, तो कुछ फैलाते ही नहीं हैं कोरोना संक्रमण, क्या कहता है इस पर शोध

Antiviral Mask हो रहा है तैयार, कोरोना लगते ही बदलेगा रंग और खत्म कर देगा उसे

कोरोना संक्रमण से कितने सुरक्षित हैं स्विमिंग पूल, क्या कहते हैं विशेषज्ञ

Covid-19 की तरह किसी महामारी को लंबा नहीं खिंचने देगी क्वांटम कम्प्यूटिंग
First published: May 20, 2020, 4:00 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading