लाइव टीवी

जानिए पहले दिन दिल्ली में कैसा रहा ऑड-ईवन का असर

News18Hindi
Updated: November 5, 2019, 12:06 PM IST
जानिए पहले दिन दिल्ली में कैसा रहा ऑड-ईवन का असर
दिल्ली में ऑड ईवन के पहले दिन प्रदूषण में सुधार दिखा

दिल्ली (Delhi) में सोमवार से ऑड-ईवन (odd even) लागू हो गया. पहले ही दिन दिल्ली के प्रदूषण (pollution) में सुधार दिखा है...

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 5, 2019, 12:06 PM IST
  • Share this:
दिल्ली (Delhi) में प्रदूषण (Air Pollution) को कम करने के लिए सोमवार से ऑड ईवन फॉर्मूला (Odd Even formula) लागू हो चुका है. ऑड ईवन लागू होने के पहले ही दिन दिल्ली के प्रदूषण में कमी दर्ज की गई. हालांकि प्रदूषण का स्तर सिर्फ ऑड ईवन की वजह से ही नहीं कम हुआ है. इसके पीछे कई वजहें रहीं.

सोमवार सुबह के बाद अच्छी धूप खिली. दिनभर तेज हवाएं भी चलती रहीं. इसकी वजह से भी प्रदूषण में कमी आई. सोमवार सुबह हवा की क्वालिटी सीवियर (खतरनाक) थी, जो शाम होते-होते वेरी पुअर (बहुत खराब) के स्तर पर आ गई. एक दिन पहले दिल्ली में हवा का स्तर सबसे खराब 494 था, लेकिन सोमवार 4 बजे ये 407 पर आ गया. रात 8.30 बजे हवा की क्वालिटी 370 रही.

प्रदूषण का स्तर तो कम हुआ है. लेकिन सवाल है कि ऑड ईवन की वजह से कितना कम हुआ? पहले दिन दिल्ली में ऑड ईवन का क्या असर रहा?

15 लाख गाड़ियां सड़कों पर नहीं उतरीं

दिल्ली में तीसरी बार ऑड-ईवन फॉर्मूल लागू हुआ है. सोमवार को पहले दिन ऑड-ईवन फॉर्मूले की वजह से करीब 15 लाख गाड़ियां सड़कों पर नहीं उतरीं. दिल्ली की ट्रैफिक पुलिस सख्ती से ऑड ईवन फॉर्मूला लागू करवाने में लगी रही. प्रदूषण रोकने के लिए हरसंभव उपाय किए जा रहे हैं.

ऑड ईवन फॉर्मूला लागू करने के लिए सोमवार को दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के 3 हजार जवान मुस्तैद रहे. जबकि इनके साथ दिल्ली सरकार के 700 अधिकारियों को भी लगाया गया था. ये सब सुबह 8 बजे से ही सड़कों पर उतर गए. इनके साथ 5 हजार सिविल डिफेंस वोलंटियर को भी लगाया गया. सुबह 8 बजे से लेकर शाम के 8 बजे तक ऑड-ईवन नियम को तोड़ने वाले 255 गाड़ियों का चालान किया गया.

delhi air pollution report after first day of odd even smog air quality index
सोमवार को प्रदूषण के स्तर में कुछ सुधार दिखा

Loading...

पहले दिन ऑड ईवन लागू होने पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया- ऑड ईवन का पहला दिन कामयाब रहा. शाम 5 बजे तक 192 चालान काटे गए. दिल्ली जैसे बड़े शहर के लिए ये बिना जनता के समर्थन के संभव नहीं था. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सभी दिल्लीवासियों को बधाई दी. उन्होंने ट्वीट में लिखा कि अभी सिर्फ शुरुआत है. प्रदूषण कम करने में हम अपनी जिम्मेदारी आगे भी निभाते रहेंगे.

दिल्ली सरकार ने कहा-ऑड ईवन को जनता का समर्थन

ऑड ईवन के पहले दिन दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदियो ने नियम तोड़ने वालों पर थोड़ी नरमी रखने को कहा था. पहले दिन शाम 5 बजे तक हुए 192 चालान में ट्रैफिक पुलिस ने 170 चालान काटे, ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट ने 15 और एसडीएम ने 7 चालान काटे. दिन खत्म होते-होते ट्रैफिक पुलिस 233 चालान काट चुकी थी.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का कहना है कि ऑड-ईवन के लागू होने पर प्रदूषण के स्तर में सुधार हुआ है. रविवार की तुलना में सोमवार को हवा कम प्रदूषित हुई. उन्होंने सभी से अपील की है कि आने वाले दिनों में प्रदूषण को लेकर लोग जागरुक रहें.

मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में हर दिन करीब 30 लाख गाड़ियां सड़कों पर उतरती हैं. सोमवार को सिर्फ 15 लाख गाड़ियां सड़कों पर उतरीं. 15 लाख गाड़ियों में सिर्फ 100 या 200 गाडियों का चालान दिल्ली जैसे बड़े शहर के लिए बहुत कम है. ये कहा जा सकता है कि दिल्ली के लोगों ने ऑड-ईवन को 100 फीसदी समर्थन दिया है.

ऑड-ईवन की वजह से मेट्रो में ज्यादा लोगों ने सफर किया. ऐप्प बेस्ड कैब सर्विस के डिमांड में ज्यादा रहने की वजह से लोगों को कैब मिलने में दिक्कत हुई. दिल्ली सरकार की योजना थी कि ऑड-ईवन के दौरान 2 हजार प्राइवेट बसों को सड़कों पर उतारा जाएगा. लेकिन सिर्फ 643 प्राइवेट बसें ही सड़क पर उतरीं.

delhi air pollution report after first day of odd even smog air quality index
सोमवार को 15 लाख गाड़ियां सड़कों पर नहीं उतरीं


ऑड-ईवन के पहले दिन कितना कम हुआ प्रदूषण?

दिल्ली में ऑड-ईवन के पहले दिन प्रदूषण में सुधार दर्ज किया गया. प्रदूषण का स्तर खतरनाक से घटकर काफी खराब के स्तर पर आ गया. हालांकि इंडिया टुडे की एक रिपोर्ट बताती है कि सिर्फ एक दिन में प्रदूषण में 62 फीसदी की कमी दर्ज की गई.

रिपोर्ट के मुताबिक पीएम 2.5 का लेवल सोमवार सुबह से ही नीचे आना शुरू हुआ. सुबह 8 बजे एयर क्वालिटी इंडेक्स 575 था. एक घंटे के भीतर ही ये 454 पर आ गया. प्रदूषण के स्तर में गिरावट लगातार बनी रही. शाम 7 बजे एयर क्वालिटी इंडेक्स 103.6 दर्ज किया गया. इस तरह प्रदूषण के स्तर में करीब 62 फीसदी का सुधार हुआ. हालांकि ये सिर्फ ऑड-ईवन की वजह से नहीं हुआ. इसके पीछे तेज धूप और अच्छी हवा भी वजह बनी.

ये भी पढ़ें: अपने आखिरी वक्त में दयालु क्यों हो गया था सद्दाम हुसैन

एक दिन में कितने अंडे खाना है सेफ और कितनी पर जा सकती है जान? जानें यहां

जाने स्मॉग के जहरीले पदार्थ, जो कर सकते हैं आप को बहुत बीमार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नॉलेज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 5, 2019, 12:06 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...