Home /News /knowledge /

Difference Between Gun and Rifle: गन और राइफल में क्या है अंतर? मजेदार है ये जानकारी

Difference Between Gun and Rifle: गन और राइफल में क्या है अंतर? मजेदार है ये जानकारी

गन और राइफल में कई बेसिक अंतर हैं.

गन और राइफल में कई बेसिक अंतर हैं.

Difference Between Gun and Rifle: हम आम बोलचाल में अक्सर गन और राइफल (Gun aur Rifle Me Antar) के बारे में सुनते रहते हैं. ये दोनों हथियार बेहद आम हैं.

    Difference Between Gun and Rifle: हम आम बोलचाल में अक्सर गन और राइफल (Gun aur Rifle Me Antar) के बारे में सुनते रहते हैं. ये दोनों हथियार बेहद आम हैं. इनका इस्तेमाल पुलिस से लेकर अपराधी तक सब करते हैं. लेकिन दोनों हथियारों में बेहद खास अंतर हैं. इस कारण ये दोनों पूरी तरह से एक दूसरे से अलग होते हैं.

    दरअसल, प्राचीन चीन में गन पाउडर की खोज के साथ ऐसे फायर आर्म्स का विकास हुआ. फायर आर्म्स उन हथियारों को कहा जाता है जो बेहद तेज गति से गोली या मिसाइल को दागते हैं. इन गोलियों या मिसाइलों में जलता हुआ प्रणोदक (propellant) जैसे गन पाउडर भरा रहता है.

    प्राचीन युग में जंग या लड़ाइयां पारंपरिक हथियारों से लड़ी जाती थीं लेकिन इन फायर आर्म्स ने आधुनिक युद्ध को पूरी तरह बदल दिया. समय के साथ तमाम तरह के फायर आर्म्स विकसित हो गए. इसी में शामिल है गन, राइफल, पिस्तौल, रिवाल्वर आदि….आइए जानने की कोशिश करते हैं कि आखिर इन हथियारों में क्या अंतर हैं…

    गन यानी बंदूक- गन एक आर्टिलरी हथियार है. इस दायरा काफी व्यापक है. इसमें टैंक गन (tank guns) और कैनन (cannons ) और हॉवित्जर (howitzers) जैसे आर्टिलरी गन शामिल हैं.

    गन Breech-Loaded यानी पीछे से गोलियां भरे जाने वाले हथियार होते हैं. ये सीधे बेहद तेज गति से फायर करते हैं. गन का इस्तेमाल आम तौर पर लंबी दूरी की फायरिंग के लिए की जाती है. कई तरह के गन आते हैं. इसी में शामिल हैं मशीन गन, शिकार के लिए हंटिंग और ट्रेनिंग व मनोरंजन के लिए अन्य गन. विशेषज्ञ छोटे और हाथ पकड़े जाने वाले हथियारों को गन नहीं मानते हैं. क्योंकि इनको किसी एक व्यक्ति के इस्तेमाल के अनुसार बनाया जाता है. इन्हें हम पिस्तौल के नाम से जानते हैं. ये एक तरह के हैंडगन होते हैं.

    क्या होता है राइफल
    राइफल भी Breech-Loaded यानी पीछे से गोलियां भरे जाने वाले हथियार होते हैं. इसे कंधे पर रखकर फायर करने को कहा जाता है. इसके बैरल यानी नली में एक तरह का खांचा होता है. शुरू में राइफल को एक बार गोली दागने वाले हथियार के रूप में विकसित किया गया था, लेकिन समय के साथ इसमें काफी बदलाव आया और अब कई राउंड की गोलियां दागने वाले राइफल मौजूद हैं. इसी में से एक है असॉल्ट राइफल, जो एक साथ कई राउंड गालियां दाग सकता है.

    राइफल और गन में अंतर
    1. एक गन ऐसा फायर आर्म्स है जिसमें मेटल ट्यूब होता है, उससे बेहद तेज गति से गोली दागी जाती है. दूसरी तरह राइफल एक ऐसा फायर आर्म्स है, जिसमें लंबी नली (Barrel) होती है. इससे दागी जाने वाली गोली घुमते हुए (spinning motion) जाती है, जिससे वह लक्ष्य को ज्यादा सटीक तरीके भेदती है.
    2. गन की डिजाइन, एक समूह द्वारा इस्तेमाल करने की जरूरत को ध्यान में रखकर की गई है. जबकि राइफल की डिजाइन एक व्यक्ति के हिसाब की गई है.
    3. आमतौर पर गन भारी होते हैं और उनको ढोकर कहीं लाया जाता है. ये दूर से लक्ष्य पर वार करने में सक्षम होते हैं. वहीं राइफल को कंधे के सपोर्ट से चलाने को कहा जाता है.
    4. गन का इस्तेमाल टैंक, आर्टिलरी और खुली जंग में किया जाता है वहीं राइफल का इस्तेमाल शार्पशूटर करते हैं.

    5. मोर्टार्स, कैनन, मशीन गन, टैंक गन, होवित्जर और गैटलिंग गन ये सभी गन के प्रकार हैं. जबकि एके-47 और एम16 ऑटोमेटिक राइफल के प्रकार हैं.

    Tags: Gun Fire

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर