लाइव टीवी

बड़ी संख्या में जहरीला पानी पी रहे अमेरिकी, पर्यावरण एजेंसी की रिपोर्ट

News18Hindi
Updated: January 23, 2020, 11:42 AM IST
बड़ी संख्या में जहरीला पानी पी रहे अमेरिकी, पर्यावरण एजेंसी की रिपोर्ट
एक पर्यावरण एजेंसी ने दावा किया है कि देश में मियामी, फिलाडेल्फिया और न्यू ऑरलियन्स सहित कई जगहों पर पानी में 'फॉरेवर केमिकल्स' के प्रमाण मिले हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

ये रिसर्च अमेरिकी पर्यावरण संस्था Environmental Working Group (EWG) ने की है. इस रिसर्च के मुताबिक करीब 1 करोड़ 10 लाख अमेरिकी गंभीर बीमारियों के खतरे से जूझ रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 23, 2020, 11:42 AM IST
  • Share this:
दुनिया के सबसे ताकतकर देश अमेरिका के नागरिकों को भी संक्रमित पानी पीने को मजबूर होना पड़ रहा है. एक पर्यावरण एजेंसी ने दावा किया है कि देश में मियामी, फिलाडेल्फिया और न्यू ऑरलियन्स सहित कई जगहों पर पानी में 'फॉरेवर केमिकल्स' के प्रमाण मिले हैं. फॉरेवर कमिकल या फिर PFA संक्रमण का ऐसा प्रकार जो एक बार पानी में शामिल हो जाए तो फिर खत्म नहीं होता. इस तरह के संक्रमण से कैंसर, लीवर डैमेज, गर्भाशय रोग और अन्य गंभीर बीमारियों का खतरा बना रहता है.

ये रिसर्च अमेरिकी पर्यावरण संस्था Environmental Working Group (EWG) ने की है. इस रिसर्च के मुताबिक करीब 1 करोड़ 10 लाख अमेरिकी गंभीर बीमारियों के खतरे से जूझ रहे हैं. संक्रमित पानी हर दिन उनकी जिंदगी पर खतरे के साए की तरह मंडरा रहा है. EWG के सीनियर साइंटिस्ट डेविड एंड्र्यू ने बताया है कि PFA केमिकल्स से संक्रमित पानी को बचा पाना तकरीबन नामुमकिन है. इन केमिकल्स की पर्यावरण में मौजूदगी पानी को दूषित कर देती है. कुछ अमेरिकी राज्य बुरी तरह इसकी चपेट में आ चुके हैं. एंड्र्यू के मुताबिक इन केमिकल्स का इस्तेमाल टेफ्लॉन, स्कॉचगार्ड और फायरफाइटिंग फोम जैसे प्रोडक्ट्स में धड़ल्ले के साथ किया जाता है.



कैसे हुई रिसर्च

रिसर्च एजेंसी ने अमेरिका 31 राज्यों में 44 जगहों से पानी का सैंपल लिया. इन 44 जगहों में वाशिंगटन डीसी भी शामिल है. एजेंसी के शोधकर्ताओं ने इन पानी के सैंपल्स पर गहन जांच की और इसमें PFA  मात्रा की मात्रा का पता लगाया. इस सभी जगहों में सिर्फ एक जगह (मिसीसिपी का इलाका) ऐसी मिली जहां पर पानी में PFA नहीं मौजूद था. यानी यहां के निवासियों के पानी बिल्कुल सुरक्षित है. वहीं अल्बामा में पानी में बहुत कम मात्रा में PFA केमिकल मिला है.

साथ ही EWG ने पाया कि तकरीबन सभी जगह पर 6 से 7 PFA कमिकल कंपाउंड पानी मिले हैं. एजेंसी ने इस संक्रमण की वजह से इलाके में मौजूद बीमारियों का भी जायजा लिया है. हालांकि बीमारियों को लेकर एजेंसी ने कोई सघन अध्ययन नहीं किया है लेकिन एजेंसी का मानना है कि ये कमिकल लोगों को बड़े स्तर पर नुकसान पहुंचा सकते हैं. एंड्र्यू का कहना है कि एक बड़ी आबादी जहरीला केमिकल मिश्रित पानी पीने को मजबूर है.

हालांकि इस एजेंसी की रिपोर्ट को लेकर अमेरिकी सरकार की तरफ से विरोधाभासी बयान भी आ चुके हैं. साल 2018 में एजेंसी द्वारा की गई एक रिपोर्ट पर अमेरिकी स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा था कि पानी प्रदूषित तो है लेकिन उतना नहीं जितना एजेंसी दावा कर रही है. 2018 में भी एजेंसी ने पेय जल में PFA की मौजूदगी को लेकर एक रिपोर्ट की थी.
ये भी पढ़ें:

अमीर सिंगल चीनी महिलाएं विदेशी स्पर्म से पैदा कर रही हैं बच्चे, नहीं करना चाहती शादी
क्या बकवास है LOVE JIHAD का दावा? पुलिस साबित करने में हमेशा रही नाकाम
Health Explainer : जानें शराब पीने के बाद आपके शरीर और दिमाग में क्या होने लगता है
जानें चीन की फैक्ट्री में किस तरह तैयार की जाती हैं एडल्ट डॉल्स
जब अटल सरकार ने दो राज्यों के कलेक्टर्स को दी थी हिंदू शरणार्थियों को नागरिकता देने की स्पेशल पॉवर

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नॉलेज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 23, 2020, 11:26 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर