लाइव टीवी

Fact Check: क्या गर्म पानी से गरारे करने पर मर जाता है कोरोना वायरस?

News18Hindi
Updated: March 31, 2020, 2:45 PM IST
Fact Check: क्या गर्म पानी से गरारे करने पर मर जाता है कोरोना वायरस?
डॉक्‍टर्स ने कोरोना वायरस से बचाव या इलाज में गरम पानी के गरारे को प्रभावी नहीं माना है.

Coronavirus in India: वायरल मैसेजज में गरम पानी (Hot Water) में अलग-अलग चीजें डालकर गरारे (Gargaling) कर कोरोना वायरस से बचाव का नुस्‍खा बताया जा रहा है. आइए स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञों से जानते हैं कि ऐसे तमाम वायरल मैसेज की सच्‍चाई (Fact Check) क्‍या है....

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 31, 2020, 2:45 PM IST
  • Share this:
कोरोना वायरस (Coronavirus) के पॉजिटिव मामले तेजी से बढ़ने के साथ ही सोशल मीडिया (Social Media) पर इससे बचाव के सटीक तरीकों के दावे वाले मैसेजज की बाढ़ आनी भी शुरू हो गई है. ऐसे में कुछ बातों को लेकर भ्रम की स्थिति पैदा हो गई है. कुछ मैसेजज में कहा जा रहा है कि लहसुन खाने से कोरोना वायरस ठीक हो सकता है. वहीं, कुछ मैसेज में बताया जा रहा है कि कुछ देर तक चांदी (Silver) डालकर रखने के बाद पानी पीने से शरीर में मौजूद कोरोना वायरस 12 घंटे में मर जाता है. इसके अलावा गरम पानी (Hot Water) में अलग-अलग चीजें डालकर गरारे (Gargling) कर बचाव का नुस्‍खा भी बताया जा रहा है. आइए डॉक्‍टर्स से जानते हैं कि वायरल मैसेजज की सच्‍चाई (Fact Check) क्‍या है....

गरम पानी के गरारे करने से सिर्फ लक्षणों में मिलेगा आराम, संक्रमण में नहीं
सबसे पहले बात करते हैं गरम पानी में सेंधा नमक, चांदी, सिरका, एथेनॉल या ब्‍लीच डालकर गरारे करके कोरोना वायरस संक्रमण से बचा जा सकता है या नहीं. इस बारे में इम्‍यूनोलॉजिस्‍ट डॉ. स्‍कंद शुक्‍ल का कहना है कि गरम पानी में सेंधा नमक डालकर या सिर्फ गरम पानी से गरारे करने पर आपको संक्रमण के लक्षणों में फायदा मिल सकता है. आसान शब्‍दों में समझें तो अगर आप संक्रमित हो चुके हैं और आपको खांसी, गले में खराश या दर्द की शिकायत हो रही है और आप गरम पानी से गरारे करते हैं तो आपको इन लक्षणों में फायदा मिल सकता है. लेकिन, इसका ये कतई मतलब नहीं है कि संक्रमण खत्‍म हो गया है. उनका कहना है कि वायरस शरीर में अपना काम करता रहेगा, बस उसके लक्षण दब जाएंगे. बेहतर होगा कि गरारे से आराम मिलने के बाद भी अगर आपको संक्रमण के लक्षण नजर आ रहे हैं तो तुरंत डॉक्‍टर से संपर्क करें. वहीं, गरम पानी में ब्‍लीच या एथेनॉल से गरारे करना खतरनाक होता है.

स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञों का कहना है कि नाक में सरसों का तेल डालकर कोरोना वायरस से बचाव नहीं हो सकता है.




चांदी डालकर पानी पीने खराब हो सकती हैं किडनी, लहसुन भी है बेअसर


सोशल मीडिया पर एक मेसेज में कहा जा रहा है कि हर 15 मिनट में पानी पीने से वायरस गले से पेट में चला जाएगा और वहां मौजूद एसिड से मर जाएगा. स्‍वास्‍थ्‍य विशेषज्ञों का कहना है कि सांस से जुड़ा कोई वायरस इस तरह खत्म नहीं होता है. अमेरिका में फर्जी दावा किया गया कि गरम पानी में चांदी डालने के बाद पानी से कोरोना 12 घंटे में मर जाता है. सच यह है कि फायदा होने के बजाय चांदी पीने से किडनी खराब हो सकती है. लिहाजा, यह दावा पूरी तरह गलत है. इसके अलावा एक और दावा किया जा रहा है कि अगर आप बिना खांसे 15 सेकेंड तक सांस रोक लेते हैं तो आपको कोरोना वायरस संक्रमण नहीं हुआ है. विशेषज्ञों का कहना है कि इस तरह से बिलकुल पता नहीं चलता है कि आपको संक्रमण है या नहीं. वहीं, विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन का लहसुन खाकर संक्रमण से बचे रहने के दावे पर कहा गया है कि इसमें बीमारियों से बचने के कुछ गुण होते जरूर हैं, लेकिन अभी तक कोराना वायरस पर इसके असर का कोई आकलन या शोध नहीं किया गया है.

सरसों का तेल नाक में डालने का कोई फायदा नहीं, नहीं मरेंगे वायरस
एक ट्वीट में दावा किया गया कि अगर आप सुबह नहाने से पहले नाक में सरसों का तेल लगा लेते हैं तो करीब 8-10 घंटे कोरोना वायरस से बचे रह सकते हैं. इसमें तर्क दिया गया कि सरसों का तेल वायरस रोधी है, जिसमें वायरस नाक की दीवारों से चिपक कर मर जाता है. इससे वायरस हमारे फेफड़ों तक नहीं पहुंच पाता और हम संक्रमण से बच जाते हैं. जब इस बारे में डॉ. स्‍कंद शुक्‍ल से पूछा गया तो उन्‍होंने कहा कि कोई भी ऐसी जानकारी नहीं मिली, जिससे ये साबित हो सके. उन्‍होंने कहा कि सरसों के तेल में वायरस रोकने की क्षमता नहीं होती है. वहीं, भारत सरकार की ओर से जारी सूचनाओं की नोडल एजेंसी प्रेस इन्फॉर्मेशन ब्यूरो (PIB) ने ट्विटर पर इस वायरल दावे को झूठ बताया है. पीआईबी ने कहा कि कोरोना वायरस का कोई कारगर इलाज अभी तक उपलब्ध नहीं हो पाया है. इस वायरस को किसी तेल से नहीं मारा जा सकता है. इसलिए ऐसे संदेशों के झांसे में आकर अपनी जिंदगी को खतरे में ना डालें. घर में ही रहें और खुद को सुरक्षित रखे.

ये भी देखें:

coronavirus: क्‍या पलायन कर इटली वाली गलती कर बैठे हैं भारतीय?

मदद के नाम पर कमाई कर रहा चीन, स्‍पेन को बेचे 3456 करोड़ के मेडिकल उपकरण

कोरोना टेस्‍ट पॉजिटिव आने पर भी जरूरी नहीं है आप संक्रमित हों
First published: March 31, 2020, 2:40 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading