Home /News /knowledge /

जिन भारतीय विमानों ने पाकिस्तानी जेट भगाए उसकी मिसाइलों की जद में आता है पाकिस्तान का हर बड़ा शहर

जिन भारतीय विमानों ने पाकिस्तानी जेट भगाए उसकी मिसाइलों की जद में आता है पाकिस्तान का हर बड़ा शहर

सुखोई विमान

सुखोई विमान

भारतीय वायुसेना को सुखोई SU-30 जेट में हाल ही में ब्रह्मोस मिसाइल लांच करने के लिए संरचनात्मक बदलाव किए गए थे.

    पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वां स्थित बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े आतंकी कैंप पर भारतीय वायु सेना के हमले के बाद दोनों पड़ोसी मुल्कों में तनाव चरम पर है. इस बीच समाचार एजेंसी ANI ने बताया कि भारतीय सीमा में घुसे पाकिस्तान एयरफोर्स के विमान F-16 को भारतीय जवानों ने जवाबी कार्रवाई में मार गिराया. भारत की ओर से इस ऑपरेशन को सुखोई SU-30 विमानों ने अंजाम दिया है. सुखोई भारत के प्रमुख फाइटर जेट्स में से एक है.

    हाल ही में भारत ने HAL की मदद से 42 सुखोई विमानों में ब्रह्मोस मिसाइल लगावाई हैं. इसके लिए इस जेट में संरचनात्मक बदलाव किए गए थे. ब्रह्मोस और सुखोई एसयू-30 लड़ाकू विमान के संयोजन का मतलब है कि भारतीय वायु सेना अब चंद मिनट में अपने टारगेट को ध्वस्त कर देगी. यह रफ्तार के मामले में अमेरिकी सेना की टॉमहॉक मिसाइल से चार गुना तेज है.

    यह मिसाइल मेनुवरेबल तकनीक से लैस है. अगर लक्ष्य का रास्ता बदला तो मिसाइल भी रास्ता बदल लेगी. यह हवा से लक्ष्य भेदने का मिसाइल का पहला परीक्षण था. विश्व का सबसे तेज सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस अब जमीन, समुद्र और हवा से मार करने में सक्षम है

    सुखोई एक बार में 3000 किमी तक जा सकता है. उसमें हवा में ही ईंधन भरा जा सकता है. नौसेना के कई जंगी जहाजों को ब्रह्मोस से लैस किया जा रहा है.

    बता दें कि सुखोई एसयू-30 लड़ाकू विमान रूस के सैन्य विमान निर्माता सुखोई और भारत के हिन्दुस्तान ऐरोनॉटिक्स लिमिटेड के सहयोग से बना है. सुखोई SU-30 पूरी तरह से भारत में विकसित विमान हैं. जिन्हें अक्टूबर, 2018 में भारतीय एयरफोर्स को सौंप दिया गया है.

    यह भी पढ़ें: इन घातक विमानों से लैस भारतीय एयरफोर्स, पाकिस्तान से है दोगुनी ताकतवर

    Tags: Fighter jet, Fighter jet deal, Fighter Plane, Gwalior Air force Station, Jet, Kashmir, MIG-27

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर