वॉशिंगटन में बाढ़ इमरजेंसी, क्या है मुंबई के हालात के साथ समानता?

व्हाइट हाउस में पानी भर गया, कारें डूब गईं, फ्लाइटें, मेट्रो हर तरफ यातायात बाधित हो गया. अमेरिका के वॉशिंगटन में बाढ़ इमरजेंसी घोषित कर दी गई है. वॉशिंगटन में भारी बारिश के हालात मुंबई के हालात जैसे दिखे, लेकिन जानें कि क्या कारण भी एक जैसे हैं.

News18Hindi
Updated: July 10, 2019, 4:41 PM IST
वॉशिंगटन में बाढ़ इमरजेंसी, क्या है मुंबई के हालात के साथ समानता?
वॉशिंगटन में एक दिन में एक महीने जितनी बारिश हुई.
News18Hindi
Updated: July 10, 2019, 4:41 PM IST
भारत में पिछले दिनों से मुंबई में भारी बारिश के बाद बाढ़ जैसे हालात बनने के बाद पूरे शहर की व्यवस्था पर एक बार फिर सवाल उठे थे. न्यूज़18 हिंदी ने आपको बताया था कि मुंबई में क्यों बार बार बाढ़ जैसी स्थिति बन जाती है. अब, पिछले कुछ दिनों से वॉशिंगटन सहित अमेरिका के कुछ हिस्सों में भारी बारिश से बने बाढ़ जैसे हालात सुर्खियों में हैं. दुनिया की सबसे बेहतर व्यवस्थाओं वाले इस शहर में बारिश ने इतना कहर कैसे बरपा दिया? मुंबई और वॉशिंगटन में बारिश से बने हालात के पीछे क्या एक जैसे कारण हैं?

पढ़ें : दिल्ली के 1 लाख लोग सिर्फ 17 बसों से कैसे सफर करें?



वॉशिंगटन में सामान्य बारिश के बाद बीते सोमवार को भारी बारिश हुई. जितनी बारिश एक महीने में अपेक्षित या सामान्य तौर पर होती है, उतनी 8 जुलाई को कुछ ही घंटों में हो गई और पूरा शहर भर गया. यहां तक कि अमेरिकी राष्ट्रपति के भवन व्हाइट हाउस में भी पानी लीकेज और पानी भरने की खबरें व तस्वीरें आईं. जो आंकड़े सामने आ रहे हैं, उनमें से फोर्ब्स की रिपोर्ट के मुताबिक वॉशिंगटन में 68 वर्ग किलोमीटर के दायरे में 3 अरब गैलन पानी बरसा. बताया जा रहा है कि महीने भर में 3 इंच से ज़्यादा बरसात एक दिन में हो गई.

ज़रूरी जानकारियों, सूचनाओं और दिलचस्प सवालों के जवाब देती और खबरों के लिए क्लिक करें नॉलेज@न्यूज़18 हिंदी

इस साल भारी बारिश के चलते अमेरिका में 50 से ज़्यादा मौतें हो चुकी हैं. अमेरिका, खासतौर से वॉशिंगटन में बाढ़ इमरजेंसी भी घोषित कर दी गई है. अलर्ट घोषित करने के बाद लोगों को चेतावनी दी जा रही है और रूट बदले जा रहे हैं. फ्लाइट, मेट्रो और सड़कों पर यातायात बाधित है. इन हालात के पीछे के कारणों के बारे में जानें.



पुराना ड्रेनेज सिस्टम है ज़िम्मेदार
वॉशिंगटन में भारी बारिश के बाद बाढ़ जैसे हालात बन जाने के बाद शहर के सिस्टम का सच सामने आ गया है. 70 से 100 साल पुराना ड्रेनेज सिस्टम सालों से मरम्मत और सुधार की मांग कर रहा था, लेकिन अनदेखी के चलते इस साल वॉशिंगटन को इन हालात का सामना करना पड़ा. एनवाय टाइम्स की एक रिपोर्ट में पर्यावरण इंजीनियरिंग प्रोफेसर के हवाले से कहा गया है कि 21वीं सदी में 20वीं सदी के इन्फ्रास्ट्रक्चर की समस्या लंबे समय से बनी हुई है.

इस रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि इस पूरे सिस्टम को अपडेट करने का खर्च काफी ज़्यादा है और सिर्फ वॉशिंगटन ही नहीं बल्कि पूरे अमेरिका में इस काम की ज़रूरत है. इस खर्च को जुटाने में आम नागरिकों पर बोझ पड़ेगा, जिससे एक और बड़ी समस्या स्लोडाउन या अर्थव्यवस्था को झटके की भी हो सकती है. मई में आई एक गैर लाभकारी संगठन की रिपोर्ट में कहा गया था कि देश में नगरपालिकाओं की वर्षा जल एजेंसियां साढ़े सात अरब रुपये की वार्षिक कमी से पहले ही जूझ रही हैं. हालांकि वॉशिंगटन के एक प्रवक्ता ने कहा है कि पुराने सिस्टम को दुरुस्त किया जाएगा ताकि आने वाले वक्त में ऐसी मुश्किल न हो.

mumbai rain update, america rain update, US floods news, white house rain, washington flood, मुंबई बारिश अपडेट, अमेरिका बारिश अपडेट, अमेरिका में बाढ़, व्हाइट हाउस बाढ़, वॉशिंगटन बाढ़
बचाव दल वॉशिंगटन में राहत कार्यों में जुटे रहे और सोशल मीडिया पर कई तस्वीरें शेयर हुईं.


दूसरा कारण है क्लाइमेट चेंज
बीते सोमवार को हुई भारी बारिश के लिए अमेरिका की कई एजेंसियां क्लाइमेट चेंज के कारण मौसमों में हुए अप्रत्याशित बदलाव को मान रही हैं. ग्लोबल वॉर्मिंग के चलते हवाओं में नमी बढ़ी है और पश्चिमी हवाओं की रफ्तार भी. इसी कारण बेमौसम या अचानक भारी और मूसलाधार बारिश होने की आशंकाएं बढ़ रही हैं. दूसरी ओर, दुनिया के पर्यावरण विशेषज्ञ ग्लोबल वॉर्मिंग और क्लाइमेट चेंज जैसी समस्याओं के लिए अमेरिका और यूरोप के विकसित देशों को ही ज़िम्मेदार ठहराते रहे हैं और इस समस्या का नतीजा पूरी दुनिया भुगत रही है.

अमेरिका में ताज़ा संकट के पीछे कुछ और कारण भी सामने आ रहे हैं जैसे लगातार बढ़ते शहरीकरण और औद्योगिकीकरण का बोझ जल संसाधनों पर पड़ा है और इसका सीधा संबंध मौसम से है. प्रदूषण को भी एक कारण माना जा रहा है, जो अप्रत्यक्ष रूप से ऐसी आपदाओं के लिए ज़िम्मेदार होता है.

mumbai rain update, america rain update, US floods news, white house rain, washington flood, मुंबई बारिश अपडेट, अमेरिका बारिश अपडेट, अमेरिका में बाढ़, व्हाइट हाउस बाढ़, वॉशिंगटन बाढ़
सोशल मीडिया पर वॉशिंगटन के बदले हुए रूट के बारे में जानकारी को लेकर भी कई पोस्ट देखने को मिले.


ये हैं मुंबई के हालात से समानताएं
न्यूज़18 हिंदी ने आपको बताया था कि मुंबई में बाढ़ जैसे हालात बन जाने के पीछे क्या कारण रहे हैं. उनमें सबसे बड़ा कारण पुराना और अपडेट नहीं हो सका ड्रेनेज सिस्टम ही था. यही हाल वॉशिंगटन में भी है, जहां ड्रेनेज सिस्टम सबसे बड़ा विलेन बनकर सामने आया है. दूसरी बात ये भी कि मुंंबई में काफी महंगा होने के कारण ड्रेनेज सिस्टम में अपेक्षित सुधार नहीं हो सका और अमेरिका में भी यही स्थिति है. तीसरी बात ये भी समान है कि मुंबई की तरह ही क्लाइमेट चेंज एक बड़ा फैक्टर है, जो वॉशिंगटन के साथ ही पूरी दुनिया के मौसम को प्रभावित कर रहा है.

यह भी पढ़ें-
आख़िर क्यों बार-बार बन जाते हैं मुंबई में बाढ़ जैसे हालात?
क्यों ईरान के हौसले हैं बुलंद? कितनी है ईरान की सैन्य ताकत?
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...