नेटवर्क 18 की 'बटन दबाओ देश बनाओ' मुहिम से प्रेरित हुए मतदाता

यह नेटवर्क 18 की एक पहल है. हर मतदाता से यह अपील करता है कि आने वाले वोटिंग डे को वोट डालने जरूर जाएं. अपने वोटिंग के अनुभव को सोशल मीडिया में #ButtonDabaoDeshBanao के साथ शेयर भी करें.

News18Hindi
Updated: April 29, 2019, 1:21 PM IST
नेटवर्क 18 की 'बटन दबाओ देश बनाओ' मुहिम से प्रेरित हुए मतदाता
नेटवर्क18 की मुहिम, 'बटन दबाओ, देश बनाओ'
News18Hindi
Updated: April 29, 2019, 1:21 PM IST
इलेक्शन कमीशन के अनुसार पहले फेज में कुल 91 सीटों पर 69.50 फीसदी और दूसरे फेज में 95 सीटों पर 69.44 फीसदी वोट पड़े हैं. जबकि मीडिया रिपोर्ट के अनुसार तीसरे चरण की 117 सीटों पर करीब 63.24 फीसदी मतदान हुए हैं. इस तरह से कुल 303 सीटों में 67.39 फीसदी मतदान हुए हैं. लेकिन कई रिपोर्ट में ऐसा दावा किया जा रहा है कि यह साल 2014 के आम चुनावों से भी कम है. ऐसे में आप सब को नेटवर्क 18 की की मुहिम 'बटन दबाओ' अभियान का हिस्सा बनना चाहिए. पहले ही इस मुहिम से मतदाता जुड़ चुके हैं.

ऐसे में सबसे ज्यादा उन मतदाताओं को ध्यान रखने की जरूरत हैं, जो इस बार पहली बार मतदान करेंगे. यह पहला लोकसभा चुनाव है जिसमें साल 2000 में पैदा हुए युवा वोट डालेंगे. युवा वोटर्स के लिए यह जानकारी बेहद जरूरी है कि वोटर आईडी की मदद से वे अपने पोलिंग बूथ का पता लगा सकते हैं. वे यह भी पता कर सकते हैं कि वोटर लिस्ट में उनका नाम है या नहीं.



इलेक्‍शन कमीशन के आंकड़े के अनुसार लोक सभा चुनाव 2019 में कुल 7.6 करोड़ वोटर्स नये होंगे. ऐसा माना जाता है कि पहली बार वोट देने जाने वाले वोटरों को जल्दी प्रभावित किया जा सकता है. इसलिए सभी इन युवा मतदाताओं के लिए तमाम तरीके अपना रहे हैं. ऐसे में मतदाताओं को सबसे ज्यादा सचेत रहने की जरूरत है. ऐसे में मतदाताओं को ये पांच बात जाननी बेहद जरूरी है.

वोटर लिस्ट में देखें अपना नाम

वोटर लिस्ट में अपना नाम देखने के लिए सबसे पहले नेशनल वोटर सर्विसेज पोर्टल (NSVP) के इलेक्टोरल सर्च पर जाएं. आप अपनी डीटेल्स को यहां दिए कॉलम में भरकर या निर्वाचन कार्ड (EPIC) नंबर डालते ही पता चल जाएगा. यह EPIC नंबर आपके वोटर आईडी कार्ड पर गाढ़े अक्षरों में लिखा होता है.button dabao desh bachao

1950 पर कॉल
इलेक्‍शन कमीशन ने हेल्प लाइन 1950 का जमकर प्रचार किया है. इसके जरिए इलेक्‍शन से जुड़े किसी भी तरह की जानकारी हासिल की जा सकती है. इसके अलावा एसएमएस से भी अपने मतदान केंद्र की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं. आपको EPIC लिखकर स्पेस देना है और फिर अपना वोटर आईडी नंबर लिखना है. इस मैसेज को आपको 51969 या 166 पर भेजें. इसके बाद रिप्लाई में आने वाले एसएमएस में सारी जानकारी होगी.
Loading...

cVigil App का इस्तेमाल
स्मार्ट फोन्स और तकनीकी विस्तार को देखते हुए इस बार इलेक्‍शन कमीशन ने cVigil App नाम से एप भी उतारा है. इसमें GPS फीचर है, ऐसे में अगर कोई भी शख्स आचार सहिंता का उल्लंघन करते दिखे तो cVIGIL ऐप की मदद से आप चुनाव आयोग को इसकी जानकारी दे सकते हैं. इससे EC शिकायतकर्ता के जगह की पहचान करेगा और 100 मिनट के भीतर उसपर कार्यवाई की जाएगी.

2019 आम चुनाव की मतदान की तारीख
इसके अलावा चुनाव के दौरान सबसे अहम बात चुनावों की तारीखें हैं. 2019 का लोकसभा चुनाव 11 अप्रैल से ही चुनाव शुरू हो गए थे. इसके बाद दूसरे चरण में 18 अप्रैल और तीसरे चरण में 23 अप्रैल को वोट डाले चुके हैं. लेकिन अभी 29 अप्रैल, 6 मई, 12 मई और 19 मई को मतदान होने बाकी है.

EVM और VVPAT
मतदान केंद्र पर पहुंचने के बाद इस बार दो चीजों का खास खयाल रखना है- पहला ईवीएम और दूसरा वीवीपैट. जब आप मतदान केंद्र पर पहुंचेंगे तो वहां आपको वॉलियंटर मिलेंगे. वॉलियंटर से आपको पर्ची मिलेगी, जिसमें आपकी बूथ संख्या लिखी होगी. इसके बाद आपको वोटिंग के लिए लाइन में लगना होगा.

haryana news, kurukshetra news, haryana lok sabha election 2019, haryana politics, lok sabha election 2019
सांकेतिक तस्वीर


अंदर एक चुनाव अधिकारी आपके साइन लेगा, जिसके बाद आपकी उंगली पर स्याही लगाई जाएगी. इसके बाद आप ईवीएम पर अपनी पसंद के उम्मीदवार को वोट डाल सकते हैं. इस चुनाव में नई चीज है VVPAT. VVPAT से निकली पर्ची से आप कन्फर्म कर सकते हैं कि वोट आपकी ही पसंद के उम्मीदवार को पड़ा या नहीं.

बटन दबाओ, देश बनाओ
(यह नेटवर्क 18 की एक पहल है. आरपी-संजीव गोएनका ग्रुप भारत के हर मतदाता से यह अपील करता है कि आने वाले वोटिंग डे को वोट डालने जरूर जाएं. यही नहीं अपने वोटिंग के अनुभव को सोशल मीडिया में #ButtonDabaoDeshBanao के साथ शेयर भी करें.)
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...