Home /News /knowledge /

ये हैं मक्का में हज के दौरान हुए सबसे बड़े हादसे

ये हैं मक्का में हज के दौरान हुए सबसे बड़े हादसे

File Photo

File Photo

मक्का इस्लाम का सबसे पवित्र स्थल है. यहां हज के दौरान दुनिया भर के मुस्लिम श्रृद्धालुओं की भारी भीड़ होती है. इसी भीड़ के चलते वहां कई बार हो चुके हैं बड़े हादसे. इस बार की हज यात्रा शुरू होने वाली है.

    24 सितंबर, 2015 को सऊदी अरब में मक्का के पास हज के दौरान भगदड़ मचने से 717 लोगों की मौत हो गई थी. हादसा मक्का के बाहरी इलाके में स्थित मीना नाम की जगह पर हुआ था. पवित्र मक्का तीर्थस्थल पर किसी दुर्घटना की यह पहली घटना नहीं थी. कुछ ही दिन पहले 2015 के ही सितंबर महीने में, मक्का की मुख्य मस्जिद में क्रेन गिरने से 107 लोगों की मौत हुई थी. पहले भी हुए हैं मक्का में बड़े हादसे.

    दिसंबर 1975: एक गैस सिलेंडर ब्लास्ट हुआ था जिसमें करीब 200 हज यात्रियों की मौत हुई थी.

    2 जुलाई 1990: पैदल चलने के लिए बनी एक टनल में भगदड़ में 1,426 लोगों की मौत हो गई थी. यह हज के इतिहास में दर्ज सबसे बड़ा हादसा है.

    23 मई 1994: शैतान को पत्थर मारने के दौरान 270 लोगों की मृत्यु हो गई थी.

    15 अप्रैल 1997: टेंट में आग लगने से करीब 343 हज यात्रियों की मौत हुई थी जबकि 1500 लोग इस दुर्घटना में घायल हो गए थे. इसके बाद से टेंट फायरप्रूफ बनाए जाने लगे.

    9 अप्रैल 1998: जमारात ब्रिज पर भगदड़ में 118 की मौत हो गई थी.

    5 जनवरी 2006: अल-गाजा होटल की बहुमंजिला इमारत मक्का के पास ग्रैंड मस्जिद पर गिर गई थी. 2006 में कई हज यात्री इस होटल में ही ठहरे थे. अभी तक इसका पता नहीं चल सका है कि उस समय होटल में कितने हज यात्री ठहरे हुए थे. इस घटना में 76 लोगों के मारे जाने और 64 लोगों के घायल होने की खबर थी.

    12 जनवरी 2006: शैतान को पत्थर मारने के दौरान भगदड़ में 360 लोगों की मौत हो गई थी.

    दिसंबर 2006: हज यात्रियों को मदीना से मक्का ले जाने वाला कोच दुर्घटनाग्रस्त हो गया था. इस घटना में 3 लोग मरे जबकि करीब 34 लोग घायल हुए. घायलो में दो बच्चे भी शामिल थे.

    5 मार्च 2001: शैतान को पत्थर मारने के रस्म के दौरान 35 लोगों की मौत हुई थी.

    11 फरवरी 2003: शैतान को पत्थर मारने के दौरान 14 जायरिन की मौत हो गई थी.

    1 फरवरी 2004: शैतान को पत्थर मारने के दौरान मची भगदड़ में 251 लोगों की मौत हो गई थी.

    नवंबर 2011: दो श्रद्धालुओं की कोच में आग लगने से मौत हो गई थी. दोनों पति-पत्नी थे.

    11 सितंबर 2015: मक्का की मशहूर ग्रैंड मस्जिद पर एक बड़ी क्रेन के गिर जाने से कम से कम 107 लोगों की मौत हो गई और 238 घायल हो गए.

    यह भी पढ़ें : चीन में बड़े पैमाने पर तोड़ी जा रही मस्जिदों पर रोक!

    Tags: Mecca Masjid Blast, Mecca stampede

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर