जहां पानी तुरंत जम जाता है! वैक्सीन स्टोर करने की चुनौती से कैसे निपट रहा ये देश?

वैक्सीन के लिए सांकेतिक चित्र

वैक्सीन के लिए सांकेतिक चित्र

आप जान चुके हैं कि फाइज़र कंपनी ने जो वैक्सीन (Pfizer Vaccine) डेवलप की है, उसके स्टोरेज के लिए अंटार्कटिक के सर्दियों के मौसम से भी ज़्यादा ठंडक चाहिए. स्टोरेज की चुनौती से निपटने के लिए एलएनजी वेयरहाउस (LNG Powered Warehouses) कितने कारगर होंगे?

  • News18India
  • Last Updated: December 14, 2020, 9:51 PM IST
  • Share this:
क्या आप कल्पना कर सकते हैं कि किसी वेयरहाउस में इतना ठंडा कमरा है जहां अगर एक कप गर्म पानी उछालें, तो वो फ़ौरन बर्फ़ में तब्दील हो जाए? जी हां, ऐसे वेयरहाउस हैं और इन्हें खास तौर पर इसलिए तैयार किया जा रहा है ताकि Covid-19 से निपटने के लिए फाइज़र कंपनी ने जो वैक्सीन (Vaccine Developed by Pfizer) बनाई है, उसे स्टोर किया जा सके. अस्ल में, वैक्सीन असरदार रह सके इसलिए इसे -70 डिग्री तापमान तक स्टोर किया जाना ज़रूरी बताया गया है. इसी चुनौती से निपटने के लिए कोरिया सुपरफ्रीज़ कंपनी ने इस तरह के वेयरहाउस (Superfreeze Warehouses) तैयार किए हैं.

दक्षिण कोरिया की राजधानी सिओल से करीब 65 किलोमीटर की दूरी पर​ जहां ये वेयरहाउस स्थित हैं, वहां तापमान अंटार्कटिक की सर्दियों की तुलना में भी काफी ठंडा है. कोरिया सुपरफ्रीज़ कंपनी के सीईओ किम के हवाले से कहा जा रहा है कि शायद दक्षिण कोरिया में यह इकलौती जगह है, जहां फाइज़र कंपनी की कोविड वैक्सीन को भारी मात्रा में स्टोर किया जा सकता है. लेकिन, यहां एक समस्या तब पेश आ सकती है, जब बिजली कटौती के हालात बन जाएं.

ये भी पढ़ें :- देश के किस राज्य में कैसे लोगों की दी जाएगी वैक्सीन?

अस्ल में, यह कंपनी इस उम्मीद में है कि इसे कोरिया सरकार के रोग नियंत्रण विभाग से वैक्सीन स्टोर करने का कॉंट्रैक्ट मिलेगा. गोल्डमैन सैक्स और एसके होल्डिंग्स कंपनी लिमिटेड के बैकअप वाली कोरिया सुपरफ्रीज़ कंपनी से वैक्सीन के स्टोरेज को लेकर खर्च और योजना का ब्योरा मांगा गया है और यह भी पूछा गया है कि कोरिया में 260 लोकेशनों पर वेयरहाउस से वैक्सीन किस तरह पहुंचाई जाएगी.
ये भी पढ़ें :- Opinion : क्या भारत में VIP और विधायकों/सांसदों को पहले मिल जाएगी वैक्सीन?

Youtube Video


क्या है कोरिया का प्लान बी?



फाइज़र की वैक्सीन के लिए चूंकि बेहद ठंडा तापमान ज़रूरी है इसलिए सिर्फ़ उस पर निर्भर रहने से कोरियाई सरकार को एक कंपनी का मोहताज रहना पड़ सकता है इसलिए कोरिया ने फाइज़र की वैक्सीन के 2 करोड़ डोज़ के साथ ही, ऑक्सफोर्ड व एस्ट्राज़ेनेका और मॉडर्ना की वैक्सीन के भी 2-2 करोड़ डोज़ की डील की है. यही नहीं, जॉनसन एंड जॉनसन की वैक्सीन के भी 40 लाख डोज़ कोरिया सरकार अरेंज कर रही है.

corona vaccine date, covid vaccine date, pfizer vaccine news, vaccination plan, कोरोना वैक्सीन डेट, कोविड वैक्सीन डेट, फाइज़र वैक्सीन, वैक्सीनेशन प्लान
वैक्सीनेशन के लिए सांकेतिक इमेज.


दक्षिण कोरिया की आबादी करीब 5.18 करोड़ है, जिनमें से 3.4 करोड़ की आबादी के टीकाकरण के लिए इतना इंतज़ाम काफी माना जा रहा है. यह भी उम्मीद है कि वैक्सीन मार्च 2021 से कोरिया में पहुंचना शुरू हो जाएगी. गौरतलब है कि एस्ट्राज़ेनेका और मॉडर्ना की वैक्सीन को स्टोर करने के लिए बहुत ठंडे तापमान की ज़रूरत नहीं है और इन्हें सामान्य फ्रिज में भी स्टोर किया जा सकता है. तो फाइज़र की वैक्सीन की डील न होने की सूरत में भी द​. कोरिया के पास पर्याप्त वैक्सीन होंगी.

वेयरहाउस की रणनीति

कोरिया सुपरफ्रीज़ कंपनी ने अभी एक सैंपल वेयरहाउस तैयार करके दिखाया है और उसका कहना है कि कॉंट्रैक्ट मिलते ही 2 से 3 महीनों के भीतर वो स्टोरेज की ज़रूरत के मुताबिक वेयरहाउस तैयार कर सकती है. यह भी बताया गया है कि वेयरहाउस में 220 सीसीटीवी लगे होंगे, जिनके ज़रिये 24 घंटे निगरानी की सुविधा भी होगी.

ये भी पढ़ें :- 10 सबसे बड़े जन-आंदोलन, जिन्होंने बदल डाली देश की तस्वीर

गौरतलब है कि ​कोरिया के अलावा सिर्फ जापान में इस तरह के वेयरहाउस हैं, जहां लिक्विड नैचुरल गैस से संचालित इतने ठंडे तापमान की व्यवस्था है. लेकिन, जापान में भी भूकंप के खतरों के चलते वेयरहाउस काफी दूरस्थ इलाकों में स्थित हैं और कोरिया के वेयरहाउस की तुलना में छोटे भी हैं. वेयरहाउस का ढांचा 17,222 वर्गफीट में बने होने के बावजूद अभी कोरिया सुपरफ्रीज़ को पता नहीं है कि ये वैक्सीन स्टोरेज के लिए पर्याप्त होगा या नहीं क्योंकि वैक्सीन के कंटेनरों के साइज़ को लेकर अभी स्पष्टता नहीं है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज