Home /News /knowledge /

बड़ी तादाद में मर रही हैं मधुमक्खियां, वायरस से बचा सकता है सस्ता रसायन

बड़ी तादाद में मर रही हैं मधुमक्खियां, वायरस से बचा सकता है सस्ता रसायन

ये मधुमक्खियां (Honeybees) परजीवी के जरिए वायरस से संक्रमित होती हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर: shutterstock)

ये मधुमक्खियां (Honeybees) परजीवी के जरिए वायरस से संक्रमित होती हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर: shutterstock)

वायरस संक्रमण (Virus Infection) से दुनिया भर में मर रही मधुमक्खियों (Honeybees) को बचाने के लिए शोधकर्ताओं ने एक प्राकृतिक (Natural) रूप से पाया जाना आसानी से मिलने वाला पदार्थ खोज निकाला है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    जलवायु परिवर्तन (Climate Change) के खतरनाक होते असर के बीच हमें अपने जैवविविधता की रक्षा करने की चुनौती से निपटना है. इसमें मधुमक्खियों (Honeybees) की प्रजातियों को बचाना भी शामिल है. दुनिया भर में मधुमक्खियां  बड़ी संख्या में मर रही हैं. इसकी वजह एक खतरनाक वायरस (Virus) है जो इन मक्खियों को मार तक सकता है और भोजन की तलाश के वापस लौटने की क्षमता को भी कमजोर कर सकता है. हाल ही में हुए एक अध्ययन में इस वायरस का तोड़ निकाला गया है. इस अध्ययन ने ऐसा रसायन खोजा गया है जो प्राकृतिक रूप से पौधों में पाया जाता है और आसानी से मिल भी सकता है.

    इस यौगिक की खास बात यह है कि वह मधुमक्खियों पर उसका ठीक उल्टा असर करता है जैसा वायरस करता है. आईसाइंस जर्नल में हाल ही में प्रकाशित इस ध्ययन में शोधकर्ताओं ने दर्शाया  है कि वे मधुमक्खियां जिन्होंने वायरस से संक्रमित होने से पहले इस पदार्थ को खाया था, संक्रमित होने के बाद उनके बचने की संभावना 9 गुना ज्यादा हो गई थी.

    छत्ते में वापस आना मुश्किल
    मधुमक्खियों के छत्तों का अवलोकन कर शोधकर्ताओं ने यह भी दर्शाया कि जिन मधुमक्खियों ने यह पदार्थ खाया था उनके भोजन तलाश करने के बाद वापस छत्ते में आने की संभावना ज्यादा रही. यह वायरस एक वैरोआ माइट नाम के  परजीवी से फैलता है जो मक्खियों के पूरे जीवन चक्र में संक्रमित कर सकता है.

    पंख भी हो सकते हैं खराब
    गंभीर रूप से प्रभावित मक्खियां कुछ ही दिनों में मर सकती है. या फिर उनके पखं खराब हो सकते हैं जिससे उनके उड़ने की और भोजन जमा करने की क्षमता खराब हो सकती है. इससे पहले के शोध यह भी दिखा चुकी है कि वायर इन मक्खियों की सीखने और याद रखने की क्षमता को भी कमजोर कर सकती है. इसी वजह से उन्हें घर खोजने और भोजन तलाशने में परेशानी होने लगती है.

     Environment, Honeybee, virus, infection, Honeybee dying, Biodiversity, Bees,

    मधुमक्खियां (Honeybees) पर सोडियम ब्यूटाइरेट जीन्स स्तर पर असर करता है. (फाइल फोटो)

    मरने लगती हैं बाकी मधुमक्खियां
    गुमी हुई मक्खियों के खो कर मर जाने की संभावना होती है और उनकी कोलोनी भी भोजन की कमी से मरने लगती है. इस अध्ययन के प्रथम लेखक और नेशलन ताइवान यूनिवर्सिटी के चेंग-कांग तांग का कहना है कि रोगाणु मधुमक्खियों के लिए बहुत तनाव ला देते हैं, लेकिन मधुमक्खीपालक खाद्य सुरक्षा को देखते हुए इनके खिलाफ पेस्टीसाइड्स का उपयोग नहीं करना चाहते.”

    पिछले अनुभवों से सीख भविष्य का अनुमान लगा सकते हैं बैक्टीरिया- शोध

    उपोयगी पदार्थ की खोज
    इसीलिए शोधकर्ताओं ने ऐसे पदार्थों की खोज की जो मक्खियों की ताकत को बढ़ा सके.  अध्ययन से पता चला कि जो वायरस मक्खियों के उन जीन अभिव्यक्ति को दबाते हैं जो नर्व संकेत के प्रसारण और सीखने और यादन करने वाली जैविक प्रक्रियाओं से संबंधित है. शोधकर्ताओं ने पाया कि सोडियम ब्यूटाइरेट ऐसा रसायन है कई पौधों में मिलता है जो  जानवरों में बहुत सारी जीन अभिव्यक्ति को बढ़ाने के लिए भी जानी जाती हैं.

    Environment, Honeybee, virus, infection, Honeybee dying, Biodiversity, Bees,

    मधुमक्खियां (Honeybees) फूलों के अलावा फल सब्जियों के प्रजनन में भी अहम भूमिका निभाती हैं. (फाइल फोटो)

    ज्यादा प्रभावी दिखा रसायन
    इस पदार्थ के मधुमक्खियों पर प्रभावों का अध्ययन करने के लिए इस अध्ययन के प्रमुक लेखक युए-लुंग वू  और उनके साथियों ने मधुमक्खियों को, संक्रमित करने से पहले, इसे एक हफ्ते तक शक्कर के पानी में मिलाकर खिलाया, शोधकर्ताओं ने पाया कि 90 प्रतिशत से ज्यादा मक्खियां संक्रमण के पांच दिन बाद भी जीवित रहीं, जब कि NaB खाने वाली 90 प्रतिशत संक्रमित मक्खियां इस दौरान नहीं मरीं.

    दूषित पानी में से विषैली धातु खोने वाला बैक्टीरिया खोजा भारतीय वैज्ञानिकों ने

    शोधकर्ताओं ने यह प्रयोग मक्खी पालन केंद्रों पर भी किए. इसके अलावा ये परीक्षण जेनेटिक स्तर से लेकर लैब में बर्ताव तक कई स्तर पर  किए. अब वे सोडियम ब्यूटाइरेट का प्रयोग अलग अलग मौसम में भी करेंगे.  यह पादर्थ सस्ता और प्राकृतिक होने की वजह से बहुत उपोयगी साबित हो सकता है. मधुमक्खियां बहुत से फल सब्जियों के प्रजनन में बहुत प्रमुख भूमिका निभाते हैं.

    Tags: Environment, Research, Science

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर