लाइव टीवी

कैसे एक हाउसवाइफ लखनऊ में NRC-CAA विरोधी प्रदर्शन की आवाज बन गई

News18Hindi
Updated: January 21, 2020, 11:02 AM IST
कैसे एक हाउसवाइफ लखनऊ में NRC-CAA विरोधी प्रदर्शन की आवाज बन गई
लखनऊ की कौसर इमरान एक हाउसवाइफ हैं और दिल्ली के शाहीन बाग की तर्ज पर उन्होंने लखनऊ में प्रोटेस्ट की शुरुआत की.

कौसर (Qausar Imran) का घर लखनऊ के तुरियागंज (Turiaganj) इलाके में पड़ता है. इससे पहले उन्होंने कभी भी किसी प्रदर्शन में हिस्सा नहीं लिया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 21, 2020, 11:02 AM IST
  • Share this:
दिल्ली के शाहीन बाग (Shaheen Bagh protests) में बीते 39 दिनों से लगातार CAA और NRC को लेकर लगातार विरोध प्रदर्शन जारी है. हजारों की संख्या में महिलाएं इस कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रही हैं, लेकिन इस प्रदर्शन की आहट यूपी के लखनऊ में भी तेजी के साथ सुनाई देनी शुरू हुई. लखनऊ में प्रदर्शन को एक हाउस वाइफ ने प्लान किया. 35 साल की कौसर इमरान ने इस प्रोटेस्ट की शुरुआत कैसे की, ये जानना दिलचस्प है.

दरअसल बीते गुरुवार की रात कौसर इमरान अपने घर पर बैठकर टीवी पर शाहीन बाग आंदोलन से जुड़ी खबरें देख रही थीं. इस खबर पर उन्होंने अपने पति से चर्चा की. दोनों के बीच शाहीन बाग के प्रदर्शन को लेकर लंबी बातचीत हुई. कौसर के भी मन में ये खयाल आया कि जब दिल्ली की महिलाएं इस कानून में विरोध में प्रदर्शन कर रही हैं तो उन्हें लखनऊ में भी इसे लेकर प्लानिंग करनी चाहिए.

एक अंग्रेजी अखबार में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, कौसर इमरान ने बताया- मैंने सोचा कि CAA को लेकर मेरे भी मन में विरोध है और मुझे भी शाहीन बाग की तर्ज पर प्रदर्शन ऑर्गेनाइज करना चाहिए. मैंने अपने तीन बच्चों और एक भतीजी के साथ मिलकर पूरी रात पोस्टर तैयार किए.



कौसर का घर लखनऊ के तुरियागंज इलाके में पड़ता है. दिलचस्प बात ये है कि खुद कौसर इमरान ने सिर्फ कक्षा 5 तक ही पढ़ाई की है. इससे पहले उन्होंने कभी भी किसी प्रदर्शन में हिस्सा नहीं लिया था. अगले दिन उन्होंने अपने इलाके में घर-घर जाकर महिलाओं से शाहीनबाग की तर्ज पर प्रदर्शन करने की बातचीत की. बातचीत के दौरान उन्होंने रात को बनाए कुछ पोस्टर्स दूसरी महिलाओं को भी दिए. इन पोस्टर्स में 'हम भारतीय हैं', 'हम NRC-CAA के विरोध में हैं' जैसी चीजें लिखी हुई थीं.

शुरुआत में पहुंची बस 15 महिलाएं
कौसर के मुताबिक, प्रदर्शन के लिए महज 15 लोग इकट्ठे हुए, इसके बावजूद भी उन लोगों ने विरोध प्रदर्शित करने की ठानी. कौसर और दूसरी महिलाओं ने पोस्टर्स बुर्के में छिपाकर रखे हुए थे. कौसर के मुताबिक जैसे ही उन लोगों ने पोस्टर्स बाहर निकाले पुलिस वाले दौड़कर उनकी तरफ आए.शांतिपूर्ण प्रदर्शन
पुलिसवालों से कौसर ने कहा, 'मैं यहां से हटूंगी नहीं. आप चाहें तो मेरे मुंह पर टेप चिपका सकते हैं. मुझे शांतिपूर्ण प्रदर्शन करना है. कोई हंगामान नहीं करना.' पुलिसवालों ने कहा कि आपको प्रदर्शन करने की इजाजत नहीं है. तब कौसर का जवाब था कि हम कोई उपद्रव नहीं कर रहे हैं. हमें बस शांति से पोस्टर्स के साथ प्रदर्शन करने दीजिए. हम बिना ज्यादा शोरगुल बैठे रहेंगे.



युवाओं ने संभाला सोशल मीडिया
अब धीरे-धीरे इस प्रदर्शन में लोगों की संख्या बढ़ गई है. शुरुआत में यहां सिर्फ कुछ महिलाएं मौजूद थीं अब ये संख्या सैंकड़ों के आस-पास पहुंच गई है. कौसर बताती हैं अब लोग हमें चाय और नाश्ता भी पहुंचा दे रहे हैं. पुलिस हमें हटाना चाहती है लेकिन मैं कहना चाहूंगी कि इस बार महिलाएं पुरुषों से ज्याद दृढ़ दिखाई दे रही हैं. प्रदर्शन से जुड़ रहे कॉलेज के छात्र-छात्रा और ज्यादा पोस्टर्स लेकर आ रहे हैं. ये युवा इस प्रदर्शन को सोशल मीडिया पर वायरल कर रहे हैं.

पुलिस ने दर्ज की हैं कई FIR
इस प्रदर्शन के लिए पुलिस ने 16 महिलाओं पर FIR दर्ज की है. इनमें मशहूर शायर मुनव्वर राणा की दो बेटियां भी शामिल हैं. लखनऊ में प्रदर्शन अब दूसरी जगहों पर भी हो रहे हैं. गोमती नगर इलाके में भी एक दरगाह के पास कुछ महिलाएं प्रदर्शन के लिए बैठी हैं. हालांकि कौसर इमरान के प्रदर्शन में इस बात को लेकर मुश्किलें खड़ी हो सकती हैं कि इसमें कुछ बच्चों को भी शामिल किया गया है. बाल अधिकार पैनल की निगाहें प्रदर्शन पर बनी हुई हैं.
ये भी पढ़ें :-

अमित शाह के बेहद करीबी माने जाते हैं जेपी नड्डा, संगठन में रहा है शानदार काम
जानिए किन फेमस लोगों ने छोड़ दी भारत की नागरिकता
यहां बांग्लादेशी शरणार्थी हिंदुओं का चलता है सिक्का, लोकल बिजनेस पर है कब्जा
आज ही बना था वो राज्य, जिसे भारत का स्काटलैंड कहा जाता है,अंग्रेज भी थे दीवाने
आज ही जूनागढ़ का भारत में हुआ विलय, पाकिस्तान भागकर पछताए थे रियासत के नवाब
टिकट पर 50% छूट के बाद भी अपने देश की फिल्में नहीं देख रहे पाकिस्तानी, बॉलीवुड की मांग

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नॉलेज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 21, 2020, 9:59 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर