अब ईरान अपने जनरल की मौत का कैसे लेगा अमेरिका से बदला

अब ईरान अपने जनरल की मौत का कैसे लेगा अमेरिका से बदला
ईरान की आर्मी के जनरल कासिम सुलेमानी का मारा जाना पूरे मिडिल ईस्ट के लिए टर्निंग पॉइंट साबित हो सकता है

ईरान (Iran) में इस अमेरिकी कार्रवाई के खिलाफ जबरदस्त उबाल है. ईरान के विदेश मंत्री मोहम्मद जवाद जाफरी ने इसे अमेरिका की आतंकी कार्रवाई (Terrorist Act) बताया है. उन्होंने कहा है कि अमेरिका (America) को इसकी कीमत चुकानी होगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 3, 2020, 5:00 PM IST
  • Share this:
ईरान (Iran) आर्मी के जनरल कासिम सुलेमानी (Qassim Soleimani) अमेरिकी हवाई हमले (American Airstrike) में मारे गए हैं. बगदाद एयरपोर्ट पर अमेरिकी एयरस्ट्राइक में ईरानी जनरल कासिम सुलेमानी के साथ इराक का एक कमांडर भी मारा गया है. ईरान के खिलाफ ये अमेरिका की सबस बड़ी कार्रवाई बताई जा रही है.

ईरान में इस अमेरिकी कार्रवाई के खिलाफ जबरदस्त उबाल है. ईरान के विदेश मंत्री मोहम्मद जवाद जाफरी ने इसे अमेरिका की आतंकी कार्रवाई बताया है. उन्होंने कहा है कि अमेरिका को इसकी कीमत चुकानी होगी. जाफरी ने कहा है कि ये अमेरिका का खतरनाक और मूर्खतापूर्ण कदम है.

ईरान की सेना की तरफ से भी कहा गया है कि अब वो अमेरिका से बदला लेकर रहेंगे. ईरान की रिवोल्यूशनरी आर्मी ने कहा है कि अमेरिका को इसके भीषण और हिंसक नतीजे भुगतने होंगे.



ईरान अब कैसे लेगा अमेरिका से बदला
ईरान के दूसरे सबसे ताकतवर शख्स कासिम सुलेमानी का मारा जाना पूरे मिडिल ईस्ट के लिए टर्निंग पॉइंट साबित होने वाला है. ईरान अब अमेरिका और इजरायल के खिलाफ बदले की कार्रवाई करेगा. इस बदले को लेकर अब अमेरिका इजरायल के साथ समूची दुनिया चिंतित है.

ईरान में कासिम सुलेमानी के मारे जाने पर तीन दिन का शोक घोषित किया गया है. देश के सर्वोच्च धार्मिक नेता आयतोल्लाह खुमैनी ने कहा है कि इस हमले के अपराधियों से गंभीर बदला लेने का इंतजार है.

how iran will take revenge of america for its general qassim suleimani death in baghdad airstrike
हमले के वक्त की तस्वीर


ईरान कब और कहां अमेरिका से बदला लेगा, इसको लेकर आशंका बनी हुई है. सीआईए के एक पूर्व अधिकारी ने कहा है कि ईरान अब इस अमेरिकी हमले का बदला जरूर लेगा. 2017 में सीआईए से रिटायर हुए नॉर्मन रूल ने कहा है कि ईरान आतंकी हमले या साइबर अटैक से इस हमले का बदला ले सकता है.

उन्होंने कहा- अमेरिकी लोगों की जान पर खतरा आन पड़ने पर ही अमेरिका ने ये सैन्य कार्रवाई की होगी. अमेरिकी अधिकारियों को ये पता है कि इसके नतीजे कितने खतरनाक हो सकते हैं.

कासिम सुलेमानी समर्थित सैन्य संगठन कर सकते हैं हमला
जानकार बता रहे हैं कि कासिम सुलेमानी समर्थित सैन्य संगठन दुनिया के किसी भी कोने में अमेरिकी हितों पर हमला कर सकते हैं. इराक में सक्रिय हिजबुल्लाह संगठन उसी तरह का है. हिजबुल्लाह खुद को इराक का सैन्य संगठन बताते हैं. इसके ऊपर कासिम सुलेमानी का खासा प्रभाव था. हिजबुल्लाह के नेता सैय्यद नसरल्लाह ने कहा है कि उनका संगठन कासिम सुलेमानी के बताए रास्ते पर चलता रहेगा और वो कासिम के गुनहगारों को सजा देंगे.

अमेरिका के साथ इजरायल पर भी खतरा है. अमेरिकी समर्थन की वजह से फिलीस्तीनी गुट हमास और इस्लामिक जिहाद इजरायल पर आतंकी हमले कर सकते हैं. इजरायल में इसको लेकर हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है.

how iran will take revenge of america for its general qassim suleimani death in baghdad airstrike
हमले के वक्त की तस्वीरन


इराक के मशहूर शिया धर्मगुरू मुक्तदा अल सद्र ने अमेरिका को कड़ी चेतावनी दी है. उन्होंने अपने मिलिशिया (लड़ाकों) को जंग के लिए तैयार रहने को कहा है. उन्होंने कहा है कि इराक की रक्षा के लिए आर्म्ड ग्रुप तैयार रहें. मुक्तदा अल सद्र ने कहा है कि कासिम सुलेमानी की मौत का बदला इराक से अमेरिका और इजरायल के खात्मे से पूरी होगी.

युद्ध के लिए तैयार हैं इराक और ईरान
इराक और ईरान में अमेरिकी कार्रवाई को युद्ध की तरह लिया जा रहा है. हिजबुल्लाह समर्थित अखबार अल अकबर ने लिखा है कि ये वार (युद्ध) है. उन्होंने साफ लहजे में कासिम सुलेमानी की मौत पर लिखा है- सुलेमानी शहीद हुए: ये युद्ध है.

अमेरिका अपने नागरिकों को लेकर फिक्रमंद
ईरान की सख्त चेतावनी के बाद अमेरिका अपने नागरिकों के लिए फिक्रमंद है. अमेरिका ने इराक से अपने सभी नागरिकों को निकल जाने के लिए कहा है. इराक के अमेरिकी दूतावास में सारे ऑपरेशन बंद कर दिए गए हैं. अमेरिकी नागरिक अब इराक के दूतावास से भी संपर्क नहीं कर सकते हैं.

अमेरिका ने पाकिस्तान के एयरस्पेस से होकर गुजरने वाली उड़ानों पर अलर्ट जारी किया है. अमेरिका ने कहा है कि आतंकी पाकिस्तानी रूट पर उड़ान भर रहे विमानों पर हवाई हमला कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें: 

क्या ईरानी जनरल के अमेरिकी हमले में मारे जाने के साथ ही 'तीसरा विश्वयुद्ध' शुरू हो चुका है?

ट्रंप ने जिसके मारे जाने पर ट्वीट किया अमेरिकी झंडा, जानिए कौन था वो कासिम सुलेमानी

2020 में इसरो करेगा बड़ा धमाका, अंतरिक्ष में भेजेगा मानव

क्या सबसे शक्तिशाली सैन्य कमांडर होंगे बिपिन रावत, जानें CDS के पावर

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading