लाइव टीवी

Coronavirus: घरों में कैद लोगों के लिए कहीं बना रेडियो स्टेशन, कहीं छत से सिखाई जा रही कसरत

News18Hindi
Updated: March 24, 2020, 3:59 PM IST
Coronavirus: घरों में कैद लोगों के लिए कहीं बना रेडियो स्टेशन, कहीं छत से सिखाई जा रही कसरत
जानें, दुनिया के अलग-अलग मुल्क क्वेरेंटाइन में खुश रहने के लिए लोग क्या कर रहे हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 24, 2020, 3:59 PM IST
  • Share this:
कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए पूरी दुनिया घरों में कैद (home quarantine) हो गई है. लेकिन इस बीच भी लोग खुशी का मौका ढूंढ पा रहे हैं. बीते हफ्ते ऐसा ही एक वीडियो वायरल हुआ, जिसमें पड़ोसियों ने मिलकर 80 साल की महिला का जन्मदिन एकदम अनोखे अंदाज में मनाया. जानते हैं, चीन के बाद कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित मुल्क (इटली, अमेरिका और स्पेन) क्वेरेंटाइन में खुश रहने के लिए क्या कर रहे हैं.

स्पेन वो देश हैं, जहां इटली के बाद कोरोना संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले आ रहे हैं. अबतक 35 हजार लोग कोरोना पॉजिटिव आ चुके हैं और इसे हाई-रिस्क देशों में रखा जा चुका है. ऐसे में ये यूरोपियन देश बहुत सख्ती से लॉकडाउन लागू कर चुका है. यहां पर नागरिक केवल बहुत जरूरी काम के लिए ही घर से बाहर निकल सकते हैं. रेस्ट्रिक्शन लागू हो सके, इसके लिए चेकपॉइंट्स बनाकर पुलिस भी तैनात की गई है. ऐसे में भी स्पेनिश नागरिक सेलिब्रेट करने का मौका ढूंढ रहे हैं. जैसे Charo नाम की एक महिला को उसके घर के दरवाजे तक केक पहुंचाया गया और सारे घरों से एक साथ हैप्पी बर्थ डे सॉन्ग सुनाई दिया. इंटाग्राम अकाउंट Good News Movement ने ये वीडियो पोस्ट किया, जो तुरंत ही सोशल मीडिया पर छा गया.





 




View this post on Instagram




 

Apartment residents surprise Charo, in quarantine, on her 80th birthday with a cake then sing happy birthday. The neighbor can be heard saying, “It’s for you—come on out. we all got this for you: We are all out on the patio— go and say hi— come look” before singing to her. ❤️ Video courtesy Nacho Garcia.


A post shared by Good News Movement (@goodnews_movement) on





इससे पहले भी एक वीडियो खूब देखा गया था, जिसमें एक जिम इंस्ट्रक्टर अपनी छत से लोगों को कसरत करवा रहा है. स्पेन के Seville शहर के इस इंस्ट्रक्टर का नाम है gonzalo Gbroto, जो लॉकडाउन के बाद से लगातार अपनी छत से लोगों को एक्सरसाइज की ट्रेनिंग दे रहे हैं. इसका एक वॉट्सएप ग्रुप भी है जिसमें वे खुद कसरत करते हुए वीडियो शेयर करते हैं. इससे वे social distancing का भी पालन कर पा रहे हैं.




इसी तरह इटली के उत्तरी शहर Siena में लोग शाम को एक निश्चित वक्त पर गाना गाते हैं. अक्सर ये कोई स्थानीय लोकगीत होता है या फिर अगर कोई चाहे तो वो अपनी छत पर परफॉर्म भी कर सकता है. एक स्थानीय अखबार में काम करने वाले पत्रकार David Allegranti ने ऐसा ही एक वीडियो डाला. इसमें लोग “E mentre Siena dorme” गाना गा रहे हैं यानी And While Siena Sleeps... है. ये आमतौर पर अपनी समृद्ध विरासत को दिखाने के लिए गाया जाता है. इतवार को रात 9 बजे यहां पर पूरे शहर के लिए सिंग अलॉन्ग प्रोग्राम भी किया जा रहा है, जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा खयाल रखा जा रहा है.



इटली का Codogno शहर, जिसे अब इटली का वुहान (Wuhan of Italy) भी कहा जा रहा है, कोरोना से सबसे ज्यादा संक्रमित है. यहां पर भी लोग अपने को डिप्रेशन से बचाए रखने के लिए कई तरीके अपना रहे हैं. रेड जोन एरिया घोषित हो चुके इस शहर की नींद एक 82 साल के रेडियो प्रेजेंटर Pino Pagani की आवाज के साथ खुलती है. वे शुरुआत करते हैं किसी श्रोता के पॉजिटिव संदेश से. इस रेडियो स्टेशन का नाम है- Radio Zona Rossa, अंग्रेजी में जिसका मतलब है- Radio Red Zone. कोरोना वायरस के इमरजेंसी घोषित होने के साथ ही ये रेडियो स्टेशन तैयार किया गया, जिसका मकसद ही है लोगों को मुश्किलों के दौरान सकारात्मक रखना. ये रेडियो स्टेशन पहले से बने स्टेशन की फ्रीक्वेंसी यूज करता है. प्रोग्राम के दौरान लोगों को अस्पताल खुलने या किसी खास डॉक्टर के आने का समय, सड़कों के हाल, बिजली-पानी या जरूरी सुविधाओं की जानकारी भी दी जाती है.

अमेरिका में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. 46,148 दर्ज मामलों के बीच साढ़े 5 सौ मौतें हो चुकी हैं. ऐसे में अमेरिका के कई स्टेट लॉकडाउन हो चुके हैं. इनमें कैलीफोर्निया सबसे ऊपर है. अमेरिका में ये अपनी तरह का पहला लॉकडाउन है, जो फिलहाल 7 अप्रैल तक के लिए लागू हुआ है. लॉकडाउन की वजह से यहां यूनिवर्सिटीज भी बंद हो चुकी हैं और स्टूडेंट्स को तुरंत कैंपस हॉस्टल खाली करने को कहा गया. ऐसे में बहुत से लोगों ने एक मुहिम शुरू की- ‘Adopt a Student’. इसके तहत अंडर ग्रेजुएशन के बच्चों के रहने-खाने का इंतजाम किया जा रहा है. बहुत से लोग हैं जो अपने घरों में अनजान बच्चों को रख रहे हैं.

ये भी देखें:

सामने आई कोरोना वायरस की सबसे बड़ी कमजोरी, इन 15 तरीकों से होगा बचाव

सबसे बड़ी बुजुर्ग आबादी वाले जापान का हाल क्यों इटली सरीखा नहीं हुआ

Coronavirus: चीन में पटरी पर लौटी जिंदगी, स्‍कूल-कॉलेज और थियेटर खुले, काम पर लौट रहे लोग

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नॉलेज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 24, 2020, 3:04 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर