Home /News /knowledge /

ज़ीका वायरस फैलने के कितने दिन बाद दिखते हैं लक्षण

ज़ीका वायरस फैलने के कितने दिन बाद दिखते हैं लक्षण

सांकेतिक तस्वीर

सांकेतिक तस्वीर

जीका का पहला मामला 1947 में युगांडा में बंदरों में देखा गया था.

    दुनिया में फैल चुके जीका वायरस से निपटने के लिए अभी तक कोई वैक्सीन या दवा की खोज नहीं की गई है. जीका से इन्फेक्टेड लोगों में शुरू में कुछ खास लक्षण नहीं दिखते. इन्फेक्शन के कुछ दिन बाद भी डेंगू या चिकनगुनिया वाले लक्षण ही मिलते हैं. इन्फेक्शन होने के 3 से 12 दिनों के भीतर या हफ्ते के आखिर में बुखार आना शुरू होता है.

    ये भी पढ़ें- मच्छरों के अलावा और कैसे फैलता है जीका वायरस, क्या हैं इससे खतरे

    कमज़ोरी महसूस होना. बुखार, जोड़ों में दर्द, आंखों में तकलीफ होना. त्वचा पर रैशेज़ पड़ना जैसे लक्षण दिख भी सकते हैं और नहीं भी. ये लक्षण भी मच्छर के काटने के 2 से 7 दिन के बाद नज़र आते हैं.

    ये वायरस एडीज प्रजाति के मच्छरों के काटने से ही फैलता है जो दिन में ही काटते हैं. इस वायरस का आरएनए अलग होता है. जीका वायरस से माइक्रोकेफेली बीमारी होती है. ये वायरस फ्लाविविरिडए वायरस फैमिली से फैलता है.

    ये भी पढ़ें- भारतीय डॉक्टर की खोज जीका वायरस के तोड़ में कैसे मददगार है

    जीका का पहला मामला 1947 में युगांडा में बंदरों में देखा गया था. इसे पहली बार पहली बार इंसान में 1952 में युगांडा और यूनाइटेड रिपब्लिक ऑफ तंजानिया में डिटेक्ट किया गया था.

    ये भी पढ़ें- 1947 में यहां पाया गया था जीका वायरस का पहला मामला

    बचाव
    जीका वायरस से बचाव के लिए मच्छरों के काटने से बचें, शरीर का अधिकतम हिस्सा ढक कर रखें, मच्छरदानी का प्रयोग करें, मच्छर पुनर्जनन रोकने के लिए ठहरे पानी को इकट्ठा न होने दें. बुखार, गले में खराश, जोड़ों में दर्द, आंखें लाल होने जैसे लक्षण नजर आने पर अधिक से अधिक तरल पदार्थों का सेवन और भरपूर आराम करें. फौरन डॉक्टर को दिखाना चाहिए.

    ये भी पढ़ें- भारत के कौन से राज्य के कितने लोगों में पाया गया जीका वायरस

    Tags: Antivirus, Health News, Health tips, Zika Virus

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर