International Dance day 2021: जानिए इसका इतिहास और महत्व

इस बार कोविड-19 का असर के कारण अंतरराष्ट्रीय नृत्य दिवस (International Dance Day) वर्चुअल मंचों पर मनाया जाएगा.  (प्रतीकात्मक तस्वीर: shutterstock)

इस बार कोविड-19 का असर के कारण अंतरराष्ट्रीय नृत्य दिवस (International Dance Day) वर्चुअल मंचों पर मनाया जाएगा. (प्रतीकात्मक तस्वीर: shutterstock)

अंतरराष्ट्रीय नृत्य दिवस (International Dance Day) नृत्य (Dance) के महत्व को दुनिया भर के लोगों तक पहुंचाने के अवसर के तौर पर मनाया जाता है. इस बार कोविड-19 (Covid-19) के कारण यह ऑनलाइन मनाया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 29, 2021, 6:32 AM IST
  • Share this:
29 अप्रैल का दिन हर साल नृत्य (Dnace) के संसार के लिए बहुत महत्व का है. इस दिन अंतरराष्ट्रीय नृत्य दिवस (International Dance Day) मनाया जाता है. इस दिन को मनाने का उद्देश्य नृत्य की शिक्षा और उसके आयोजनों में भागीदारी के लिए प्रहोत्सान बढ़ाने के लिए मनाया जाता है. इस दिवस को दुनिया भर में एक उत्सव की तरह मनाया जाता है. इस बार कोविड-19 (Covid-19)महामारी का असर इसके मनाने के तरीके पर पड़ा है लेकिन उत्साह पर नहीं.

किसने चुना ये दिवस

साल 1982 में अंतरराष्ट्रीय नाट्य (Theatre) संस्थान  (ITI) ने अंतरराष्ट्रीय नृत्य दिवस को मनाने का फैसला किया था. आईटीआई यूनेस्को के कला प्रदर्शन का सहयोगी थी. आईटीआई के बनते ही उसके साथ दुनिया के प्रसिद्ध नृतक और कोरियोग्राफर्स इसके साथ जुड़ते चले गए. हर बार इसमें देने वाले संदेश से नए लेकिन दुनिया के जान में नृतक या कोरियोग्राफर जुड़ते हैं.

29 अप्रैल ही क्यों
आईटीआई ने 29 अप्रैल को अंतरराष्ट्रीय नृत्व दिवस आधुनिक बैले के निर्माता जीन जोर्जेस नोवेरे को सम्मानित करने के लिहाज से चुना. 29 अप्रैल को उनका जन्मदिन है.  इस दिन को दुनिया में सांस्कृतिक, राजनैतिक और भौगोलिक सीमाओं से परे जाकर नृत्य कला का प्रोत्साहित करने के लिए मनाया जाता है और नृत्य को एक साझा भाषा की तरह लोगों जोड़ना है.

दुनिया भर में भेजा जाता है संदेश

हर साल आईटीआई की इंटरनेशनल डांस कमेटी और आईटीआई की एक्जीक्यूटिव काउंसिल बेहतरीन कोरियोग्राफर या नृतक को चुनते हैं दुनिया भर में संदेश भेजते हैं. संदेश के लेखक का चयन यही समिति और काउंसिल करती है. इसके बाद संदेश का दुनिया की तमाम भाषाओं में अनुवाद होता है और इसे पूरी दुनिया में प्रसारित किया जाता है.



Dance, International dance Day, International Dance day 2021 , ITI, Ballet,
अंतरराष्ट्रीय नृत्य दिवस (International Dance Day) का उद्देश्य नृत्य के आनंद को लेने को प्रोत्साहित करना है. . (प्रतीकात्मक तस्वीर: shutterstock)


क्या कोविड-19 का है इस बार असर

इस साल कोविड-19 को असर भी अंतरराष्ट्रीय नृत्य दिवस पड़ रहा है. दुनिया में लोग एक देश से दूसरे देश नहीं जा सकते हैं इसलिए इस दिवस को वर्चुअल मंच पर ही मनाने का फैसला किया गया है. लेकिन कोरोना महामारी के कराण इसके उत्साह में कमी नहीं आई है.

World Book Day 2021: जानिए कुछ खास बातें और इसकी तारीख की कहानी

क्या है इस बार की थीम

इस बार इंटरनेशनल डांस डे की ऑनलाइन शुरुआत परिस के समयानुसार दोपहर दो बजे से लेकर शाम छह बजे तक होगी. इस बार की थीम “नृत्य का उद्देश्य” है. इसमें प्रमुख तौर पर एक डांस परफॉर्मेंस की वीडियो शामिल होगा जिसें आईटीआई सेंटर और दूसरे सदस्यों की डांस प्रस्तुतियां होंगी. इसमें पिछले साल के संदेशों को जारी करने वालों को इस बार भी अपने विचारों को साझा करने के लिए आमंत्रित किया गया है.

Dance, International dance Day, International Dance day 2021 , ITI, Ballet,
कोविड -19 की वजह से इस साल अंतरराष्ट्रीय नृत्य दिवस (International Dance Day) ऑनलाइन मनाया जा रहा है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: shutterstock)


सांस्कृतिक विविधता का मिश्रण

इन ऑनलाइन प्रस्तुतियों में दुनिया भर के अलग अलग महाद्वीपों की प्रस्तुतियां होगी जिसमें शास्त्रीय से लेकर समसामियक, एकल, पास जी ड्यूक्स एवं समूह, शामिल होंगे. ये प्रस्तुतियां मंच या फिर किसी भी जगह पर हो सकती हैं. इन सभी प्रस्तुतियों को मिलाकर सांस्कृतिक विविधता की एक बेहतरीन अभिव्यक्ति के रूप में संजोया जाएगा. इनके परिचय वीडियो में कहा गया है कि आइए अंधेरे में उजाला पैदा करे के लिए दुनिया के सभी कोने से आकर एक साथ नृत्य करें.

International Day of Happiness: जानिए क्यों मनाया जाता है इसे

अंतरराष्ट्रीय नृत्य दिवस का एक उद्देश्य ना केवल दुनिया के सभी नृत्यों का प्रोत्साहन बढ़ाना है बल्कि लोगो में इन सभी नृत्य स्वरूपों के प्रति लोगों में जागरुकता फैलाना भी है जिसमें दुनिया के बड़े नेतृत्व और सरकारें तक शामिल हैं. इसमें नृत्य का स्वयं के लिए आनंद लेना और उसे दूसरों से साझा करना भी शामिल है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज