होम /न्यूज /नॉलेज /जानें क्या है अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला और क्या हैं इस इतालवी हेलीकॉप्टर की खूबियां

जानें क्या है अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला और क्या हैं इस इतालवी हेलीकॉप्टर की खूबियां

युद्धाभ्यास के दौरान जवान की मौत हो गई है. (Demo Pic)

युद्धाभ्यास के दौरान जवान की मौत हो गई है. (Demo Pic)

12 वीवीआईपी (VVIP) हेलीकॉप्टर्स की खरीद से संबंधित अगस्ता वेस्टलैंड डील (Augusta Westland Helicopter deal scam) घोटाला ...अधिक पढ़ें

    अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला (Agusta Westland Deal) फिर चर्चाओं में है. घोटाले के प्रमुख आरोपी और पेशे से चार्टर्ड अकाउंटेंट राजीव सक्सेना ने पूछताछ में मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के भतीजे रतुल पुरी, बेटे नकुल नाथ, सलमान खुर्शीद और अहमद पटेल का नाम लिया है. रह-रहकर ये मामला चर्चाओं में आता है. कुछ समय पहले ही सक्सेना को अंतरिम जमानत दी गई है. वैसे अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर को दुनिया के बेहतरीन हेलीकॉप्टर्स में शुमार किया जाता है.

    3,000 करोड़ रुपये इस हेलीकॉप्टर की खरीद को वर्ष 2018 में यूपीए-2 सरकार ने रद्द कर दिया था. ये डील में दलाली और घूस के कारण चर्चाओं में आई थी. जानते हैं अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर के बारे में और इस पूरी डील के बारे में कि कब क्या हुआ.

    पूरा मामला है क्या?
    अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर घोटाला भारत सरकार द्वारा अगस्ता वेस्टलैंड कंपनी से खरीदे जाने वाले 12 हेलीकॉप्टर्स के सौदे से संबंधित है. ये 2013-14 में उजागर हुआ. इसमें कई भारतीय नेताओं और सैन्य अधिकारियों पर मोटी घूस लेने का आरोप है.

    ये भी पढ़ें - पुण्यतिथि : देखिए कार्टूनिस्ट के तौर पर बाल ठाकरे के बनाए 10 बेहतरीन कार्टून

    यूपीए-1 सरकार के समय अगस्ता वेस्टलैंड से वीवीआईपी के लिए 12 हेलीकॉप्टर्स की खरीद का सौदा हुआ. ये सौदा 3,600 करोड़ रुपये का था. जब इसमें 360 करोड़ रुपये की रिश्वतखोरी की बात सामने आई तब यूपीए-2 सरकार ने सौदा रद्द कर दिया.

    पूर्व एयरफोर्स चीफ एसपी त्यागी सहित 13 लोगों पर केस दर्ज किया गया. जिस बैठक में हेलीकाॅप्टर की कीमत तय की गई थी, उसमें यूपीए सरकार के कुछ मंत्री भी मौजूद थे. इस कारण कांग्रेस पर भी सवाल उठे. ये मामला इतालवी कोर्ट में भी गया था. जहां कोर्ट ने इटली में हेलीकॉप्टर कंपनी के दो आला अधिकारियों को सजा सुनाई.

    इटली की अदालत में इस मामले पर क्या हुआ
    अप्रैल 2014 में इटली के एक कोर्ट में इस सौदे का फैसला हुआ. कोर्ट ने फैसले में कहा कि अगस्ता सौदे में घोटाला हुआ था. अदातल ने कंपनी फिनमैकेनिका को दोषी पाया. फिनमैकेनिका की अधीनस्थ कंपनी अगस्ता वेस्टलैंड के पूर्व सीईओ ब्रूनो स्पैगनोलिनि को साढे़ चार साल जेल की सजा सुनाई गई. कोर्ट ने भ्रष्टाचार के मामले में कंपनी के एक अन्य अधिकारी ओर्सी को भी सजा दी.

    ये भी पढ़ें - आप जो मास्क पहनते हैं, उससे हो सकती है एलर्जी, कैसे पाएं इससे निजात?

    कौन हैं एसपी त्यागी?
    एसपी त्यागी का पूरा नाम शशींद्र पाल त्यागी है. त्यागी का जन्म 14 मार्च 1945 को मध्यप्रदेश के इंदौर में हुआ था. 31 दिसंबर 1963 को एसपी त्यागी भारतीय वायु सेना में शामिल हुए और 1965 और 1971 की जंग लड़ी. जब सन 1980 में जगुआर भारतीय वायु सेना में शामिल किया गया तो उस दौरान त्यागी का नाम भी उसे उड़ाने वाले आठ पायलटों में शामिल था. 1985 में उन्हें प्रतिष्ठित वायुसेना मेडल से नवाजा गया था. त्यागी ने 31 दिसंबर 2004 को भारतीय वायुसेना के 20वें एयर चीफ मार्शल के रूप में कार्यभार संभाला था. हेलीकॉप्टर घोटाले में एसपी त्यागी का नाम सामने आया.

    कौन है इस मामले से संबंधित क्रिश्चिएन मिशेल ?
    मिशेल को फरवरी 2017 में यूएई में गिरफ्तार कर लिया गया था. उस पर इस डील में दलाली का आरोप है. वो ब्रिटिश मूल का नागरिक है. मिशेल हथियारों की खरीद से संबंधित दो कंपनियों में पार्टनर है.

    भारत को क्यों चाहिए था अगस्ता?
    बेहद मजबूत एयरफ्रेम वाले अगस्ता में तीन मजबूत इंजन लगे थे. इसमें 10 वीवीआईपी पैसेंजर को बिठाने तक का इंतजाम होता है. इसमें 360 डिग्री के सर्विलांस रडार के साथ, आत्मरक्षा सूट, रीट्रेक्टेबल लैंडिंग गियर भी लगे होते हैं.

    ये भी पढ़ें - जानिए कौन है वो इंजीनियर, जिसने गीले कपड़ों से बना दी बिजली

    हाई टेल बूम के जरिए वीवीआईपी की कारें सीधे पिछले एक्जिट तक आ सकती हैं. 74.92 फुट लंबा और 21.83 फुट ऊंचा यह अगस्ता 278 किलोमीटर प्रति घंटा से उड़ सकता है. इस हेलीकॉप्टर को इटली के एयरोस्पेस और डिफ़ेंस निर्माण से जुड़ी कंपनी फ़िनमैकेनिका बनाती है.

    क्या हैं इस हेलीकॉप्टर की खूबियां
    - सबसे बड़ा केबिन 2.49 मीटर चौड़ा, 1.83 मीटर ऊंचा (8.3 फ़ीट चौड़ा, 6.1 फ़ीट ऊंचा)
    - अधिकतम वज़न 15,600 किलो
    - क्षमता: दो पायलट, 30 यात्री
    - 03 ताक़तवर इंजन
    - 03 स्वतंत्र हाइड्रॉलिक सिस्टम
    - हवा में ईंधन भरने की क्षमता
    - अधिकतम रफ़्तार 278 किलोमीटर प्रति घंटा
    - दोनों तरफ़ मशीनगनें फ़िट करने और बॉडी को बुलेटप्रूफ़ बनाने की सुविधा

    Tags: Italy, Kamal nath, Scam

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें