लाइव टीवी

साइप्रस से जुड़ा KBC का सवाल है खास, जानें यहां छुपा है कितना खज़ाना

News18Hindi
Updated: October 9, 2019, 5:50 PM IST
साइप्रस से जुड़ा KBC का सवाल है खास, जानें यहां छुपा है कितना खज़ाना
केबीसी में पूछा गया था ये सवाल.

अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने पिछले एपिसोड (Kaun Banega Crorepati) में जो सवाल पूछा, उसके जवाब के तौर पर एक पूरा ​इतिहास (History) आपको जानना चाहिए, जो कई खज़ाने छुपाए हुए है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 9, 2019, 5:50 PM IST
  • Share this:
पीरियोडिक टेबल (Periodic Talbe) की किस धातु का नाम साइप्रस (Cyprus) देश के नाम पर रखा गया? बीते मंगलवार को प्रसारित हुए लोकप्रिय टीवी गेम शो (TV Show) कौन बनेगा करोड़पति में यह सवाल पूछा गया था, जिसके जवाबों के लिए चार विकल्प दिए गए थे, एल्यूमीनियम, कॉपर (Copper), आयरन और गोल्ड (Gold). इस सवाल का सही जवाब आपने जाना कि साइप्रस से तांबा यानी कॉपर धातु के नाम का वास्ता है. लेकिन क्या आप इसके पीछे की पूरी कहानी जानते हैं? साइप्रस के नाम क्यों कॉपर यानी तांबे का नामकरण (History of Copper) हुआ और ये भी जानें कि पीरियोडिक टेबल का मतलब क्या होता है.

ये भी पढ़ें : महात्मा के साथ मुलाकात के बाद चार्ली चैपलिन ने ऐसे की थी गांधीगीरी

कैसे हुआ कॉपर का नामकरण?
साइप्रस एक प्राचीन द्वीप (Ancient Island) है, जो पूर्वी मेडिटैरेनियन में स्थित है और तुर्की, सीरिया, लेबनान, इज़रायल (Israel), फिलीस्तीन, मिस्र और ग्रीस (Greece) जैसे देशों से चारों तरफ से घिरा हुआ है. यूनानी यानी ग्रीक सभ्यता (Greek) के समय में ग्रीक भाषा में ही साइप्रस का नाम 'कूप्रोस' प्रचलित रहा था, जो समय के बाद बदलते हुए साइप्रस हुआ, जब ग्रीक सभ्यता के बजाय रोमन साम्राज्य (Roman Empire) का वर्चस्व होता चला गया. 'कूप्रोस' शब्द कॉपर का ही समानार्थी है.

पुरानी और कीमती रही है तांबे की संपदा
साइप्रस में कॉपर के खनन और उत्पादन का इतिहास चार शताब्दी ईसा पूर्व से माना जाता है. इन्वेस्टिंगन्यूज़ की रिपोर्ट की मानें तो इतिहास के कांस्य युग यानी ब्रॉंज़ एज में यहां कॉपर सतह पर भी पाया जाता था लेकिन उसके बाद जब सतह पर कमी आई तो ज़मीन के भीतर से खनन की तकनीकें ईजाद हुईं. एक और रिपोर्ट कहती है कि प्राचीन साइप्रस के लोगों के पास धातुकला का बेहतरीन ज्ञान था क्योंकि वहां बहुत बड़े इलाके में कॉपर मौजूद था.

ज़रूरी जानकारियों, सूचनाओं और दिलचस्प सवालों के जवाब देती और खबरों के लिए क्लिक करें नॉलेज@न्यूज़18 हिंदी
Loading...

amitabh bachchan show, copper history, kbc quiz, kbc questions, kbc preparation, अमिताभ बच्चन शो, तांबे का इतिहास, केबीसी सवाल, कौन बनेगा करोड़पति सवाल जवाब, केबीसी की तैयारी
साइप्रस की कॉपर माइन का एक दृश्य. चित्र विकिपीडिया से साभार.


दुनिया की पूरी कॉपर ज़रूरत पूरी करता था साइप्रस
रोमन साम्राज्य के वर्चस्व के समय तक दुनिया में तांबे की जितनी ज़रूरत थी, तकरीबन पूरी करने में साइप्रस का कॉपर उत्पादन और खनन सक्षम रहा था. लेकिन रोमन साम्राज्य के पतन के साथ ही 19वीं सदी तक यहां तांबे का खनन शिथिल होता चला गया. 19वीं सदी से सल्फर के उत्पादन की ज़रूरत के चलते यहां फिर खनन उद्योग खड़ा हुआ और इस समय से कॉपर के साथ ही पायराइट और चाल्कोपायराइट जैसे अयस्कों का खनन भी शुरू हुआ.

साइप्रस के लिए सोना रहा तांबा, बड़ा खज़ाना छुपा है?
साइप्रस की अर्थव्यवस्था के आंकड़े बताते हैं कि काफी लंबे समय तक तांबे का उत्पादन और खनन सबसे अहम रहा और आयरन पायराइट्स, क्रोमाइट, फाइबर और पेट्रोलियम तक के खनन के बावजूद तांबे का खनन ही यहां सबसे प्रमुख रहा है. लेकिन 2012 के बाद से साइप्रस की अर्थव्यवस्था में खनन उद्योग महत्वपूर्ण नहीं दिखा. हालांकि यहां सोने जैसी कीमती धातु की भी खानें हैं और इतना उत्खनन हो चुका है कि अब ज़्यादा उत्पादन जोखिम हो चुका है.

इन हालात के बावजूद कनाडा और स्वीडन की कुछ कंपनियां यहां सोने के उत्खनन की संभावनाएं तलाशकर और गहरी खुदाई के लिए प्रोजेक्ट बना रही हैं. माना जा रहा है कि कई मीटरों गहरी परत के रूप में इस द्वीप पर कीमती धातुओं का खज़ाना है, जिसे एक्सप्लॉइट किया जा सकता है. सोना और तांबा ही नहीं, बल्कि पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैसों के उत्खनन के लिए भी कई कंपनियां यहां ललचाई हुई हैं. इन्वेस्टिंगन्यूज़ की रिपोर्ट तो ये भी कहती है कि 50 हज़ार से लेकर 20 करोड़ टन तक के कॉपर डिपॉज़िट यहां मौजूद हैं जबकि यह पूरे द्वीप के 5 प्रतिशत इलाके तक की ही बात रही.

amitabh bachchan show, copper history, kbc quiz, kbc questions, kbc preparation, अमिताभ बच्चन शो, तांबे का इतिहास, केबीसी सवाल, कौन बनेगा करोड़पति सवाल जवाब, केबीसी की तैयारी
रासायनिक तत्वों की सारणी यानी पीरियोडिक टेबल.


और पीरियोडिक टेबल क्या बला है?
केबीसी में पूछे गए सवाल के पीछे की पूरी कहानी के बाद ये भी जान लें कि पीरियोडिक टेबल का मतलब क्या है. इसे हिंदी में आवर्त सारणी कहा जाता है और यह रसायनशास्त्र का शुरूआती विषय है. यह दुनिया भर की ज्ञात धातुओं, गैसों यानी रासायनिक तत्वों की एक सारणी है, जिसमें इन तमाम रासायनिक तत्वों को उनके अणुभार के हिसाब से समझा जा सकता है. इस टेबल में हर तत्व का एक रासायनिक कोड होता है, द्रव्यमान और उसका एटॉमिक नंबर. जैसे कॉपर का रासायनिक कोड Cu है, एटॉमिक नंबर 29 और द्रव्यमान 63.55.

ये भी पढ़ें:

नेहरू ने आरे कॉलोनी में रोपा पहला पौधा, फिर 'कश्मीर' जैसी हो गई रंगत
देश के 5 बड़े आंदोलन, जब पेड़ बचाने के लिए जान देने से पीछे नहीं हटे लोग

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 9, 2019, 2:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...