लाइव टीवी

धनतेरस पर बना ये शानदार विज्ञापन बदल सकता है सोच, आपके लिए है बेहद जरूरी

Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: October 25, 2019, 7:25 PM IST
धनतेरस पर बना ये शानदार विज्ञापन बदल सकता है सोच, आपके लिए है बेहद जरूरी
धनतेरस को राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस घोषित किया गया है.

Happy Diwali : बाज़ार आपको शॉपिंग के लिए ललचाएगा, कई तरह की छूट और ऑफर देगा लेकिन यह नहीं बताएगा कि धनतेरस (Dhan Teras) राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस (Ayurveda Day) क्यों है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 25, 2019, 7:25 PM IST
  • Share this:
बाज़ार सजे हैं. डिस्काउंट वाले विज्ञापनों (Shopping Offers) की भरमार है क्योंकि दीवाली (Diwali) से दो दिन पहले धनतेरस के त्योहार पर हिंदू परिवारों में आम तौर से सोना (Gold) या धातु का सामान खरीदने का चलन है. लेकिन यह चलन क्यों है और क्या हमेशा से यही धनतेरस का अर्थ था? वास्तव में, धर्म (Religion) में दर्शन या अध्यात्म का एक पक्ष है और परंपरा का दूसरा. मूल में जाएं तो पता चलेगा कि धनतेरस का सीधा संबंध स्वास्थ्य (Health) से रहा है इसलिए देश की सरकार ने धनतेरस के दिन को राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस (National Ayurveda Day) के रूप में घोषित किया.

ये भी पढ़ें : हरियाणा चुनाव नतीजे: ऐसे बंटे वोट, सियासत तय करते हैं ये फैक्टर

जो नहीं जानते हैं, उनके लिए यह चौंकाने वाली बात हो सकती है कि त्रयोदशी तिथि पर आने वाली धनवन्तरि जयंती को धनवन्तरि त्रयोदशी (Dhanvantari Jayanti) माना जाता था, लेकिन समय के साथ इस नाम का देशी भाषाओं में संक्षेप धनतेरस हो गया. बहुत बाद में इस नाम को धन से जोड़ने वाली परंपराएं प्रचलित हुईं. धार्मिक पक्ष के साथ ये भी जानें कि इस धनतेरस पर आपको वाकई सेहत के बारे में क्यों गंभीरता से सोचना चाहिए.

ज़रूरी जानकारियों, सूचनाओं और दिलचस्प सवालों के जवाब देती और खबरों के लिए क्लिक करें नॉलेज@न्यूज़18 हिंदी

dhan teras, dhan teras shopping, gold purchasing, dhan teras rituals, diwali discounts, धनतेरस, धनतेरस खरीदारी, सोने की खरीदी, धनतेरस पूजा, धनतेरस डिस्काउंट
भारत सरकार ने धनवन्तरि जयंती यानी धनतेरस को राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस घोषित किया है.


कौन हैं धनवन्तरि और आयुर्वेद दिवस क्यों?
हिंदू धार्मिक मान्यताओं के अनुसार धनवन्तरि को विष्णु का अवतार भी माना जाता है, जो समुद्र मंथन के समय अमृत के साथ प्रकट हुए थे. भागवत पुराण सहित कुछ और ग्रंथों में इस तरह के उल्लेख मिलते हैं. ये भी माना जाता है कि धनवन्तरि ने ही शुरूआती आयुर्वेद का सबसे पहले प्रचार प्रसार किया और स्वास्थ्य के प्रति एक तरह की जागरूकता फैलाई. इन्हीं कारणों से भारत सरकार ने धनवन्तरि जयंती यानी धनतेरस को राष्ट्रीय आयुर्वेद दिवस घोषित किया. गौरतलब है कि महाराष्ट्र रत्नागिरि सहित दक्षिण भारत में धनवन्तरि के कई मंदिर स्थित हैं, जहां धनतेरस पर विशेष पूजा अर्चना होती है.
Loading...

क्यों करें सेहत की चिंता?
दुनिया में सेहत के मोर्चे पर भारत बेहद पिछड़े देशों में शामिल माना जा सकता है. सबूत देखिए.
- डायबिटीज़ के मरीज़ों की संख्या के मामले में 194 देशों में भारत नंबर 2 पर है.
- प्रति व्यक्ति स्वास्थ्य पर खर्च के मामले में भारत 190 देशों में 140वें नंबर पर है.
- पिछले दिनों सामने आए ग्लोबल हंगर इंडेक्स यानी भुखमरी की सूची में 117 देशों में नंबर 102 पर भारत रहा और पाकिस्तान तक की स्थिति भारत से बेहतर थी क्योंकि वह नंबर 94 पर था.
- आत्महत्या के मामलों में भारत दूसरे नंबर पर है और सिगरेट की खपत के मामले में भारत दुनिया का 7वां देश है.
- एक सर्वे की मानें तो एनीमिया से पीड़ित सबसे ज़्यादा महिलाएं और बच्चे भारत में हैं.

ये आंकड़े क्या आपको साफ संकेत नहीं देते कि सेहत के बारे में गंभीरता से विचार करने का यह सही समय है? बेशक यह चेतने का समय है और ये भी जानें कि कैसे इस दिशा में काबिले तारीफ कोशिशें हो रही हैं और दुनिया आपकी सेहत की चिंता कर रही है.

लाइफस्टाइल बदलने का संकल्प ज़रूरी है?
पोषण और बेहतर जीवन की दिशा में सामाजिक दायित्व निभाने वाली एक डच व्यावसायिक कंपनी ने हाल में एक कैंपेन स्त्रीधन का वीडियो जारी किया है, जिसमें बताया गया है कि भारत में हर दूसरी महिला एनीमिया से पीड़ित है. इस वीडियो में संदेश है कि धनतेरस पर सोने के साथ ही लोहे में निवेश करें यानी शरीर में आयरन की कमी पर गंभीरता से ध्यान दें. एनीमिया इसलिए गंभीर समस्या है क्योंकि एनीमिया के कारण डिसैबिलिटी यानी अपंगता का खतरा बढ़ता है. भारत में यह खतरा रूस से दोगुना और चीन से तिगुना देखा जा चुका है.



ये आंकड़े और ये वीडियो साफ संदेश देते हैं कि परंपराओं या चकाचौंध के नाम पर बाज़ार में जो कुछ लुभावना है, उसमें से सेहत के लिहाज़ से बेहतर विकल्प चुनना होगा. प्रकृति और शरीर व मन की सेहत के बीच तालमेल की संभावनाएं तलाशना ही आपके हित में है. धर्म में भी धनतेरस के संबंध में स्वास्थ्य का उल्लेख है और आपके समय की कड़वी हकीकत के आंकड़े आपके सामने हैं, अब आप चुनें कि आपको कहां निवेश करना है और किस बात को तवज्जो देनी है.

यह भी पढ़ें-

हरियाणा चुनाव नतीजे: कौन है वो एक्सपर्ट, जिसने सबसे पहले दिया सटीक अंदाज़ा
इन पांच परिवारों के इर्द-गिर्द घूमती है हरियाणा की सियासत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कल्चर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 25, 2019, 3:17 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...