• Home
  • »
  • News
  • »
  • knowledge
  • »
  • भूकंप के दौरान नहीं करेंगे ये काम, तो बच जाएगी आपकी जान

भूकंप के दौरान नहीं करेंगे ये काम, तो बच जाएगी आपकी जान

रिक्टर स्केल पर 6.1 मापी गई हालिया भूकंप की तीव्रता. फाइल फोटो.

रिक्टर स्केल पर 6.1 मापी गई हालिया भूकंप की तीव्रता. फाइल फोटो.

भूकंप (Earthquake) के दौरान या उसके बाद फंस जाएं तो स्वाभाविक लगने वाले कुछ कदम उठाने से बचें और समझदारी (Smart Steps) से काम लें.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:
    नईदिल्ली. भूकंप की स्थिति (During Earthquake) में सावधानियां बरतने और तत्काल बचाव के उपायों के बारे में तो आप कई जगह पढ़ेंगे, लेकिन क्या आपको पता है कि भूकंप के दौरान कौन सी छोटी छोटी सी चूकें हैं जो जानलेवा (Fatal) साबित हो सकती हैं. असल में, पाकिस्तान (Pakistan) के रावलपिंडी के पास जिसका केंद्र था, रिक्टर स्केल पर 6.1 तीव्रता वाले उस भूकंप के झटके दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) में मंगलवार शाम को महसूस किए गए. ऐसे में आपके लिए यह जानना ज़रूरी होगा कि भूकंप की स्थिति में आपको क्या नहीं (Do's & Don'ts) करना चाहिए.

    ये भी पढ़ें : हर बार सितंबर में क्यों रुलाने लगते हैं प्याज़ के दाम?

    खिड़की, दीवार के पास खड़े न रहें
    भूकंप के दौरान अगर आप किसी खिड़की (Window), कांच के दरवाज़े या दीवार (Wall) के पास खड़े हैं तो मामूली सी लगने वाली यह चूक जानलेवा तक साबित हो सकती है. बाहर के हालात का जायज़ा लेने के लिए इस तरह का कदम उठाया जाना स्वाभाविक (Instinct) ज़रूर है, लेकिन ऐसा न करें.

    earthquake, delhi earthquake, earthquake precautions, earthquake measures, safeguards during earthquake, भूकंप के झटके, दिल्ली में भूकंप, भूकंप में सावधानियां, भूकंप से बचाव, भूकंप से बचने के लिए उपाय
    भूकंप की स्थिति में लिफ्ट का इस्तेमाल न करें.


    बाहर भागना ठीक नहीं है
    ऐसा नहीं है कि भूकंप की स्थिति में आप घर के भीतर रहने के बजाय बाहर भागकर ज़्यादा सुरक्षित हो जाते हैं. एक अध्ययन में पाया गया कि भूकंप की स्थिति में ज़्यादा लोग इसलिए मारे जाते हैं कि वो बाहर भागते हैं और आसपास गिर रहे भवनों या खंभों आदि के मलबे में दबकर या भगदड़ के कारण जान गंवाते हैं. तो बाहर न भागें और स्ट्रीट लाइन या बिजली के खंभों के आसपास न रहें.

    ज़रूरी जानकारियों, सूचनाओं और दिलचस्प सवालों के जवाब देती और खबरों के लिए क्लिक करें नॉलेज@न्यूज़18 हिंदी

    छुपने के लिए गलत तरीके
    भूकंप की स्थिति में मलबे से बचने के लिए किसी बड़ी मेज़ या पलंग जैसी चीज़ के नीचे छुपना शायद ठीक भी हो सकता है, लेकिन उसके ऊपर चढ़ जाना गलत तरीका है. ऐसा न करें.

    सो रहे हैं तो?
    अगर भूकंप के दौरान आप अपने बिस्तर पर हैं तो विशेषज्ञ कहते हैं कि डरकर भागे नहीं. वहीं रहें और जितने तकियों से खुद को कवर कर सकें, कर लें. हां अगर आपके बिस्तर के ठीक ऊपर कोई बिजली का भारी भरकम यंत्र या उपकरण हो तो नज़दीक के ही किसी कोने में खुद को सुरक्षित करें.

    लिफ्ट का इस्तेमाल न करें
    भूकंप की स्थिति में अगर ऐसे हालात बन जाएं कि आपको किसी भवन से बाहर जाना मजबूरी ही हो तो ऐसे में लिफ्ट का इस्तेमाल न करें. सीढ़ियों का इस्तेमाल करें वरना आप लिफ्ट या भवन के अंदर ही फंस सकते हैं.

    कार चला रहे हैं तो?
    अगर भूकंप की स्थिति में आप कार या कोई और वाहन चला रहे हैं तो शायद आप किसी पुल या रैंप पर जाने का सोचेंगे लेकिन ऐसा न करें बल्कि ज़मीन का कंपन खत्म होने तक तुरंत किसी ठीक जगह पर रुक जाएं. बस ये खयाल रखें कि किसी पेड़, बिजली के तार या खंभे के नीचे आप न रुकें.

    earthquake, delhi earthquake, earthquake precautions, earthquake measures, safeguards during earthquake, भूकंप के झटके, दिल्ली में भूकंप, भूकंप में सावधानियां, भूकंप से बचाव, भूकंप से बचने के लिए उपाय
    मलबे में फंस गए हैं तो आप मदद मांगने के लिए चीखना सबसे पहला विकल्प सोच सकते हैं, लेकिन ज़रा एहतियात बरतना चाहिए.


    नो स्मोकिंग!
    भूकंप के चलते अगर आप किसी मलबे में फंस गए हैं तो ज़ाहिर तौर पर आप मदद के लिए धुएं का रास्ता अपनाने की सोच सकते हैं. इसके लिए आप किसी स्थिति में स्मोकिंग या कुछ और चीज़ जलाने की सोच सकते हैं ताकि उठते धुएं से कोई मदद आप तक पहुंचने का रास्ता बने, लेकिन ऐसा नहीं करें. अगर मलबे के आसपास किसी तरह का कोई गैस या केमिकल रिएक्शन हो रहा है तो एक चिंगारी से भी विस्फोट हो सकता है.

    मदद मांगना हो तो?
    भूकंप के चलते आप मलबे में फंस गए हैं तो आप मदद मांगने के लिए चीखना सबसे पहला विकल्प सोच सकते हैं, लेकिन ज़रा एहतियात बरतना चाहिए. अगर आप ऐसे मलबे में फंसे हैं, जहां लगातार धूल, धुआं या किसी किस्म की गैस मौजूद है तो चिल्लाने से बचें ताकि आप ज़हरीली हवा सांस के ज़रिए न लें और ज़्यादा वक्त तक होश में रह सकें. ऐसी स्थिति में सीटी बजाना या वहां मौजूद किसी चीज़ को बजाकर मदद मांगना बेहतर होगा.

    ये भी पढ़ें

    कुछ धर्म क्यों हमेशा करते हैं प्याज खाने से परहेज की बात
    Howdy Modi : अमेरिका में ऐतिहासिक कार्यक्रम के पीछे रहा ये शख़्स

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज