क्या गूगल सच में सीईओ सुंदर पिचाई का विकल्प खोज रहा है?

करियर और जॉब तलाशने वालों के लिए मशहूर डिजिटल नेटवर्किंग प्लेटफॉर्म लिंक्डइन पर गूगल सीईओ के ​पद के लिए वेकेंसी निकली तो लाखों लोगों ने आवेदन कर डाले. लेकिन, जानिए इसके पीछे का सच क्या है.

News18Hindi
Updated: July 29, 2019, 6:50 PM IST
क्या गूगल सच में सीईओ सुंदर पिचाई का विकल्प खोज रहा है?
गूगल सीईओ सुंदर पिचाई. फाइल फोटो.
News18Hindi
Updated: July 29, 2019, 6:50 PM IST
दुनिया में सबसे बड़ा जॉब माना जाता है गूगल का सीईओ. इस जॉब के लिए लाखों आवेदन धड़ाधड़ आने का सिलसिला अचानक चल पड़ा, तो सवाल खड़ा हो गया कि क्या गूगल सुंदर पिचाई का विकल्प खोज रहा है या क्या सुंदर पिचाई की गूगल के सीईओ पद से विदाई हो गई है? अस्ल में, माइक्रोसॉफ्ट के प्रोफेशनल नेटवर्किंग प्लेटफॉर्म लिंक्डइन यूज़रों ने देखा कि गूगल के सीईओ का पद खाली है तो खबर जंगल की आग की तरह फैली और दुनिया भर के लाखों लोगों ने इस हाई प्रोफाइल पद के लिए आवेदन कर डाले.

पढ़ें : PM मोदी को एडवेंचर यात्रा पर ले जाने वाला ये शख़्स कौन है?

सोशल मीडिया पर भी ये खबर फैल गई कि गूगल के सीईओ की भर्ती की प्रक्रिया चल रही है. लेकिन इस खबर का सच क्या है? क्या वाकई ऐसा हो रहा है या यह महज़ अफ़वाह है? वास्तव में, ये खबर ग़लत है, झूठी है. ऐसा कुछ नहीं हो रहा है. पिचाई फ़िलहाल गूगल के साथ बने हुए हैं और ऐसी कोई वेकेंसी नहीं है. फिर क्यों फैली ये खबर और किस तरह से गलतफहमी हुई? जानें पूरा फैक्ट चेक.

ये एक सिक्योरिटी बग था

नीदरलैंड्स के एक रिक्रूटर मिचेल रिजिंडर्स ने ये जॉब पोस्ट किया था जिन्होंने बाद में कबूल किया कि अस्ल में ये एक सिक्योरिटी बग था. इस बग के ज़रिये यूज़र किसी भी कंपनी के औपचारिक लिंक्डइन पेज पर जॉब ओपनिंग के लिए पोस्ट कर सकते थे. इसके अलावा, एक फैक्ट ये भी है कि भले ही लिंक्डइन पर जॉब पोस्टिंग के लिए प्रीमियम अकाउंट होना ज़रूरी है और एक खास चार्ज लिया जाता है, फिर भी रिजिंडर्स ने दावा किया कि इस बग के चलते वह कोई भी जॉब ओपनिंग लिस्ट कर सकते थे, यहां तक कि बगैर किसी चार्ज के लिंक्डइन के सीईओ तक की जॉब पोस्ट भी.

ज़रूरी जानकारियों, सूचनाओं और दिलचस्प सवालों के जवाब देती और खबरों के लिए क्लिक करें नॉलेज@न्यूज़18 हिंदी

लिंक्डइन ने किया सुधार
Loading...

रिजिंडर्स की गूगल सीईओ की जॉब पोस्ट के बाद कई तरह की प्रतिक्रियाएं आईं और यूज़रों ने गुस्सा भी ज़ाहिर किया और हैरानी भी. इसके बाद लिंक्डइन ने रिजिंडर्स को पोर्टल की इस खामी को सामने लाने के लिए धन्यवाद देते हुए प्रतिक्रिया दी कि 'हमने इस तरह की पोस्टिंग को हटा दिया है और जल्द ही इस कमी को दूर कर दिया जाएगा'. लिंक्डइन ने अपने यूज़रों को भरोसा दिलाते हुए ये भी कहा कि ये करियर को लेकर वास्तविक प्लेटफॉर्म है, फेक नहीं.

लिंक्डइन ने सुधार की प्रक्रिया के बाद कहा कि 'इस मसले को सुलझा लिया गया है जो एक बग के चलते पेश आया था. इस बग के चलते यूज़रों को यह अधिकार मिल गया था कि वो कंपनी के प्रोफाइल को एडिट कर सकते थे. इस समस्या का निदान कर दिया गया है और फ़र्ज़ी जॉब पोस्टिंग हमारी सेवा शर्तों का उल्लंघन है'.

ये भी पढ़ें:
महारानी गायत्री देवी और इंदिरा गांधी के बीच आख़िर क्या रंजिश थी?
तलाक के बाद महाश्वेता देवी ने क्यों की थी खुदकुशी की कोशिश?
First published: July 29, 2019, 6:50 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...