कोरोना वायरस : जानें क्या है संक्रमण का एकदम शुरूआती लक्षण, जिसका दावा कर रहे हैं डॉक्टर

कोरोना वायरस : जानें क्या है संक्रमण का एकदम शुरूआती लक्षण, जिसका दावा कर रहे हैं डॉक्टर
बुजुर्ग की बुधवार को ही कोरोना की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

बुखार, खांसी, छींक जैसे लक्षणों से पहले का एकदम शुरूआती लक्षण पता चला है और अब विशेषज्ञ डॉक्टरों का कहना है कि दुनिया भर में यह व्यवस्था की जाना चाहिए कि इस शुरूआती लक्षण के पता चलते ही संबंधित व्यक्ति को आइसोलेट कर उसकी जांच हो कि कोविड 19 केस है कि नहीं.

  • News18India
  • Last Updated: March 26, 2020, 3:00 PM IST
  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
कोरोना वायरस संक्रमण फैलने के इस दौर में लगातार दुनिया भर से खबरें आ रही हैं. अब तक कहा जा रहा था कि तेज़ और लगातार बुखार, सूखी खांसी और सर्दी जैसे लक्षण दिखने पर कोविड 19 से पीड़ित होने की आशंका हो सकती है, लेकिन अब एक शुरूआती लक्षण की खबर आ रही है.

ब्रिटेन और अमेरिका के विशेषज्ञ डॉक्टरों के एक समूह ने दावा किया है कि अगर किसी व्यक्ति के सूंघने की शक्ति अचानक खो जाए यानी वह गंध पहचानने में खुद को अचानक असमर्थ पाए तो उसे कोरोना वायरस संक्रमण की आशंका हो सकती है. जानिए कि इस लक्षण का विस्तार में क्या मतलब है और कैसे इसकी पुष्टि होती है.

ईएनटी यूके का दावा
मेडिसिननेट नामक पोर्टल की खबर के मुताबिक ब्रिटेन के नाक, कान, गला विशेषज्ञ डॉक्टरों के समूह ईएनटी यूके ने दावा किया है कि कुछ वक्त की सूंघने की असमर्थता को मेडिकल साइन्स में एनॉस्मिया के नाम से जाना जाता है और पहले ये कुछ और वायरल संक्रमणों के बाद देखा जाता रहा है.



सामान्य रहा है ये लक्षण


इस समूह के हवाले से रिपोर्ट कहती है कि वयस्कों में सूंघने के सेंस का चला जाना वायरल संक्रमण के बाद एनॉस्मिया के 40 फीसदी मामलों में देखा जाता रहा है.

कोविड 19 के मामलों में दिखा यह लक्षण
ईएनटी यूके समूह की मानें तो कोरोना वायरस संक्रमण के जो मामले चीन, दक्षिण कोरिया और इटली में सामने आए, उनमें से कुछ में सूंघ न पाना शुरूआती लक्षण के तौर पर देखा गया. जर्मनी में तीन में से दो कोविड 19 मामलों में एनॉस्मिया का लक्षण देखा गया.

corona virus, coronavirus update, covid 19 update, corona infection, corona symptoms, कोरोना वायरस, कोरोना वायरस अपडेट, कोविड 19 अपडेट, कोरोना संक्रमण, कोरोना लक्षण

इस तरह मिल सकती है मदद
ईएनटी विशेषज्ञ मान रहे हैं कि इस लक्षण के पता चलने के बाद उन लोगों के मामलों में मदद मिल सकती है जो सेल्फ क्वारैन्टीन में हैं यानी अलग थलग हो गए हैं. अगर उन्हें यह लक्षण दिखता है तो वह नज़दीकी चिकित्सा केंद्र या हेल्पलाइन पर संपर्क कर सकते हैं.

ये भी हैं शुरूआती लक्षण
एनॉस्मिया के अलावा इस तरह के और भी शुरूआती लक्षण के बारे में इस पोर्टल की रिपोर्ट जानकारी देती है. यूएस के डॉक्टरों के एक समूह एएओएस के हवाले से कहा गया है कि हिप्सॉमिया भी एक लक्षण है, जिसमें सूंघने की ताकत अचानक गायब नहीं होती बल्कि कम हो जाती है. इसके अलावा डिस्ज्यूसिया भी एक लक्षण है, जिसमें स्वाद की ताकत घट जाती है. ऐसा कोई भी लक्षण दिखने पर कोरोना वायरस संक्रमण की आशंका हो सकती है.

'स्क्रीनिंग टूल्स में शामिल हो ये लक्षण'
एएओएस के हवाले से कहा गया है कि इन लक्षणों को कोविड 19 संक्रमण के लिए स्क्रीनिंग टूल्स की लिस्ट में जोड़ा जाना चाहिए. समूह का कहना है कि ये लक्षण दिखने पर संबंधित को सेल्फ आइसोलेशन में भेजने और उसकी जांच किए जाने की व्यवस्था होना चाहिए. ईएनटी विशेषज्ञों का यह भी मानना है कि एनॉस्मिया व इससे जुड़े अन्य लक्षणों के साथ कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर और अध्ययन किए जाने की भी ज़रूरत है.

ये भी पढ़ें:

न्यूयार्क में क्यों बुलेट ट्रेन सरीखी स्पीड से बढ़ रहा है कोरोना?

कोरोना वायरस पर सियासत : क्या चीन अपनी गलतियों से पल्ला झाड़ रहा है?
First published: March 26, 2020, 2:52 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading