क्या गलवान वैली फेसऑफ में चीनी वर्दी में पाकिस्तानी सैनिक थे?

वीडियो में दिखे सैनिक को लेकर इंटरनेट पर बहस हो रही है.
वीडियो में दिखे सैनिक को लेकर इंटरनेट पर बहस हो रही है.

चीन और पाकिस्तान के बीच आर्थिक कॉरिडोर (CPEC) के चलते पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था (Economy of Pakistan) पर खासा नियंत्रण हासिल करने के बाद क्या चीन ने पाकिस्तान की सेना को भी खरीद लिया है? क्यों पाक सेना (Pakistan Military) चीन के इशारे पर नाच रही है?

  • News18India
  • Last Updated: October 11, 2020, 9:55 AM IST
  • Share this:
भारत और चीन के बीच सीमा पर तनाव (Border Tension) के हालात पांच महीने होने को हैं और ऐसे में रॉ (RAW) से जुड़े सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा है कि चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (Peoples Liberation Army of China) पाकिस्तान की सेना के साथ मिलकर कई तरह के कामों को अंजाम दे रही है. पहले से काफी ज़्यादा सहयोगात्मक और दोस्ताना हो चुकीं दोनों सेनाएं (China & Pakistan Military) मिलकर सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल के बेस निर्माण तक में लगे हुए हैं. भारत के लिए ज़ाहिर तौर पर यह बड़ी चिंता की बात है और इससे भी ज़्यादा चिंता की बात यह है कि गलवान (India China Stand Off in Galwan Valley) में जो कुछ हुआ, उसमें पाकिस्तानी सेना का क्या रोल था!

न्यूज़18 ने आपको हाल में बताया था कि भारत और चीन के बीच भड़की आग में पाकिस्तान कैसे घी डाल रहा है. मौके का फायदा उठाकर चीन की पीएलए के बूते पाकिस्तान कब्ज़े वाले कश्मीर (PoK) में मिसाइलों की साइटें बनाने में जुटा है. लासादन्ना ढोक में पाकिस्तान और चीन दोनों की सेनाएं मिलकर काम कर रही हैं. अब जानने की बात ये है कि किस तरह से तार जुड़ रहे हैं और भारत के लिए मुसीबत खड़ी की जा रही है.

ये भी पढ़ें :- भारत के 'खलनायकों' के नाम पर क्यों हैं पाकिस्तानी मिसाइलों के नाम?



सूत्रों के हवाले से यूरेशिएन टाइम्स ने खबर में कहा कि यहां करीब 130 पाकिस्तानी सैनिक और 40 सिविलियन तक निर्माण काम में लगे हुए हैं. इस काम का कंट्रोल रूम बाग ज़िले में पाक सेना के ब्रिगेड मुख्यालय में बताया गया है. यही नहीं, इस कंट्रोल रूम में चीनी सेना के कम से कम तीन अफसर और कुल 10 कर्मचारी मौजूद हैं.
india china pakistan, india china border tension, india pakistan tension, china pakistan news, भारत चीन पाकिस्तान, भारत चीन सीमा तनाव, भारत पाकिस्तान तनाव, चीन पाकिस्तान न्यूज़
लद्दाख से सटे पीओके में चीनी और पाकिस्तानी सेनाएं मिलकर ऑपरेशन्स कर रही हैं.


क्या बिक चुकी है पाक सेना?
हैरानी की बात यह भी है कि झेलम ज़िले में चिनारी और पाकिस्तान के हट्टियां बाला ज़िले के चाखोटी में भी इसी तरह के निर्माण कार्य चल रहे हैं, यानी मिसाइलों की साइटें तैयार की जा रही हैं. इस बारे में इंडियन एक्सप्रेस की खबर में कहा गया कि भारत के लिए चीन-पाक का यह याराना खतरे की घंटी से कम नहीं है क्योंकि इस साल फरवरी में भारतीय कोस्ट गार्ड ने पाक की समुद्री सेना में भी चीनी नेवी की खासी मौजूदगी देखी थी.

ये भी पढ़ें :- क्या है उस इडली की कहानी, जो सोशल मीडिया से लेकर अमेरिका तक चर्चा में है!

ज़मीन से लेकर समुद्र तक पाकिस्तान एक तरह से चीन के नियंत्रण में है और भारत के खिलाफ साज़िश रचने में चीन के चापलूस दाएं हाथ की तरह काम कर रहा है. यू​रेशिएन की खबर में तो ये भी कहा गया कि सोशल मीडिया पर शेयर हुईं कुछ तस्वीरों में तो यह तक दिखा कि पाकिस्तानी सेना ने चीनी आर्मी की यूनिफॉर्म पहनी हुई थी.

दोतरफा हमले के हालात साफ हैं
भारत के सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत सितंबर महीने में चेता चुके हैं कि चीन के साथ युद्ध हुआ तो पाकिस्तान की तरफ से भी हमला होगा और भारत को दो तरफ से घेरने की कोशिश की जाएगी. इसकी बानगी यह है कि चीन से पाकिस्तान को उसका अब तक का सबसे बड़ा जंगी जहाज़ टाइप 054A मिलने वाला है और साथ ही युआन श्रेणी की 8 सबमरीन भी.

क्या गलवान में पाक आर्मी थी?
अगस्त में अमेरिकी इंटेलिजेंस की एक रिपोर्ट में कहा गया था कि 15 जून को गलवान घाटी में भारत और चीन के सैनिकों के बीच जो झड़प हुई थी, जिसमें 20 भारतीय जवान शहीद हुए थे, उसमें सीधे तौर पर पाकिस्तान का हाथ था. अब एक नया मोड़ आया है. अस्ल में चीन के स्टेट मीडिया ने ट्विटर पर एक वीडियो जारी किया, जिसमें चीनी सैनिक लद्दाख बार्डर पर राष्ट्रगान गाते दिख रहे हैं, लेकिन इस वीडियो ने सवाल खड़े किए हैं.

ये भी पढ़ें :-

ट्रंप या बिडेन : अमेरिकी चुनाव में चीन का क्या है नफा-नुकसान?

फ्रांस ने भारत को राफेल देने में 8 साल लगाए, ग्रीस को साल भर भी नहीं! क्यों?

इस वीडियो में एक सैनिक दाढ़ी में है और उसके चेहरे मोहरे और कद काठी से साफ ज़ाहिर हो रहा है कि वो चीनी नस्ल का नहीं है. इस बारे में विशेषज्ञों के हवाले से कहा गया है कि चीन ने अपनी सेना में कुछ पाकिस्तानी सैनिकों को शामिल किया हो, यह नामुमकिन नहीं है क्योंकि दोनों पीओके में तो साथ मिलकर ऑपरेशन कर ही रहे हैं.



इस बात से भी इनकार नहीं किया गया है कि गलवान में जो भारत चीन फेसऑफ हुआ था, उसमें पाकिस्तानी सेना की मौजूदगी या हाथ नहीं हो सकता. यही नहीं, पाकिस्तानी आर्मी ही अपने इंटेलिजेंस से चीन को भारतीय पोस्टों और भारतीय सेना की गतिविधियों के बारे में काफी इनपुट दे रही है.

अमेरिकी इंटेलिजेंस की रिपोर्ट के बाद इस वीडियो के सामने आने से भारतीय सेना के सामने अपने इंटेलिजेंस नेटवर्क और सीमा पर मुस्तैदी को लेकर चुनौती बढ़ गई है. इस बारे में भारतीय सेना के वरिष्ठ अधिकारी कह भी चुके हैं कि भारतीय सेना बारीकी से निगरानी कर रही है और पूरी तरह तैयार है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज