दौलत और शोहरत में इमरान खान से कहीं आगे निकल रहा है उनका बेटा

एक जमाना था जब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का क्रेज लड़कियों के बीच खासा था. उनकी पर्सनालिटी में एक अलग ही बात थी. वही सबकुछ अब उनके बेटे में नजर आ रहा है, जो लंदन में यूथ आइकन बन चुका है.

Sanjay Srivastava | News18Hindi
Updated: June 26, 2019, 7:43 AM IST
Sanjay Srivastava
Sanjay Srivastava | News18Hindi
Updated: June 26, 2019, 7:43 AM IST
तीन दिन पहले लार्ड्स में जब पाकिस्तान और दक्षिण अफ्रीका के बीच क्रिकेट का मुकाबला होने वाला था, तब एक लंबे कद का खूबसूरत जवान स्टेडियम के बाहर अपने दोस्तों से बातचीत कर रहा था. थोड़ी देर बाद ही उसे लड़कियों ने घेर लिया. मीडियावालों को उसके बारे में पता लगा तो उनके कैमरों के फ्लैश धड़ाधड़ चमकने लगे.

23 साल का ये नौजवान लंदन में यूथ आइकन में तब्दील हो चुका है. लोग उसे वहां बखूबी जानते हैं. जहां भी वो जाते हैं, लोग उन्हें पहचानते हैं, उन्हें घेर लेते हैं. उसमें लोगों से बात करने की आकर्षक अदा है. मुस्कुराहट में खास बात. ये युवा शख्स वाकई आम आदमी नहीं है. उसके पिता पाकिस्तान के प्रधानमंत्री हैं. मां ब्रिटेन के सबसे धनी घराने के वारिसों में एक.

उस दिन जब वह स्टेडियम में मैच देखने पहुंचा, तो न केवल फोकस में रहे बल्कि अगले दिन पाकिस्तानी मीडिया में पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के साथ जिस बात की सबसे ज्यादा चर्चा थी, वो थी प्रधानमंत्री इमरान खान के इस बेटे की मैच के दौरान मौजूदगी की.

पिता के साथ सुलेमान खान


उनका नाम है सुलेमान खान. गोरा, लंबा और खास नफासत लिये हुए. वो लंदन में पैदा हुआ है और दो देशों की नागरिकताएं उसके पास हैं. पाकिस्तानी और ब्रिटिश दोनों नागरिकताएं. हालांकि लगता है कि वो अपने पिता इमरान खान के देश पाकिस्तान नहीं बल्कि इंग्लैंड की राजनीति में एक्टिव होना चाहते हैं.

शानोशौकत भरी जिंदगी जीने में यकीन रखता है मेहुल चोकसी

मामा के लिए जमकर चुनाव प्रचार किया 
Loading...

दो तीन साल पहले जब सुलेमान के मामा जैक गोल्डस्मिथ लंदन में मेयर का चुनाव लड़ रहे थे तो सुलेमान उनकी पार्टी की यूथ विंग के प्रभारी थे. घर-घर जाकर मामा के लिए वोट मांगते थे. वैसे वो अपने पिता के चुनावों में भी पाकिस्तान में हल्के-फुल्के तौर पर नजर आए थे.

ऐसा लगता है कि शायद इमरान नहीं चाहते  कि उनका बेटा पाकिस्तान की राजनीति में सक्रिय हो. जब इमरान खान चुनाव जीतने के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की शपथ ले रहे थे तो उन्होंने इस समारोह में साफतौर पर बेटों को आने से मना कर दिया था.

क्या पिता की जगह लेंगे 
एशिया की राजनीति में वंशवाद और खानदान हमेशा से हावी रहता आया है. कई एशियाई देशों में कुछ परिवार ही सियासत में वर्चस्व बनाकर रखते आए हैं. कभी-कभार पाकिस्तान में भी ये चर्चा होती है कि इमरान के बाद उनकी तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के प्रमुख उनके बेटे होंगे या नहीं. बेशक सुलेमान पाकिस्तान कम जाते हैं लेकिन वहां चर्चाओं में खूब रहते हैं. उन्हें लेकर वहां खूब खबरें छपती रहती हैं.

पिता और छोटे भाई कासिम के साथ सुलेमान खान


अपने पिता के प्रधानमंत्री बनने के बाद पिछले सितंबर में जब वो अपने छोटे भाई कासिम के साथ पाकिस्तान पहुंचे, तो हवाई अड्डे से लेकर पिता के पुश्तैनी बनीगाला स्थित घर तक उन्हें एक नजर देखने वालों की भीड़ लगी रही.

जानें डेढ़ लाख रुपये किलो क्यों है इन लज़ीज़ अंडों की कीमत

पाकिस्तान में मिलता है वीवीआईपी प्रोटोकॉल
जिस तरह उन्हें काफिले में हवाईअड्डे से घर तक वीवीआईपी प्रोटोकॉल दिया गया, उसकी पाकिस्तान की कुछ सियासी पार्टियों ने आलोचना भी की. मरियम नवाज ने कहा कि इमरान के बेटों को जिस तरह वीवीआईपी प्रोटोकाल दिया गया, वो तो एकदम गलत हैं, दरअसल इस काफिले के साथ करीब 150 पुलिस के जवान तो चल ही रहे थे. 13-14 बुलेटप्रुफ कारों का कारवां भी साथ था. फिर रास्ते में सेना के करीब 350 जवान भी जगह जगह बिखरे हुए थे.

पाकिस्तान के सोशल मीडिया में अक्सर सुलेमान छाए रहते हैं. अपने फेसबुक अकाउंट पर वो अक्सर  पिता के साथ तस्वीरें पोस्ट करते हैं. वो स्माइली नाम के एक इंटरनेशनल एनजीओ के साथ जुड़े हैं. साथ ही एक ऐसी संस्था का भी हिस्सा हैं, जो दुनियाभर में पूर्व प्रधानमंत्रियों और पूर्व राष्ट्रपतियों के साथ जुड़कर उनके प्रोग्राम और रणनीतियां बनाने का काम करती है. इसके मद्देनजर न्यूयॉर्क सिटी में भी रहते हैं. वैसे उनका बड़ा हिस्सा लंदन में बीतता है. कुछ कुछ महीने पर पाकिस्तान भी आते हैं.

दो तीन साल पहले मामा के चुनाव प्रचार में मां जेमिमा के साथ सुलेमान खान


लंदन के अखबारों में सुलेमान अक्सर छाए रहते हैं. उन्हें वहां का मीडिया यूथ आइकन की तरह देखता है. ब्रिटेन के कुछ प्रोग्राम्स में भी वो नजर आते हैं.

मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स को लाइक करते हैं
सुलेमान क्रिकेट लवर हैं. बर्मिंघम के जिस स्कूल में पढ़ते थे, वहां की क्रिकेट टीम में शामिल थे. हालांकि पाकिस्तानी क्रिकेट अफसोस कर सकती है कि फेसबुक में अपने पसंद की टीमों में उन्होंने अपने देश को नहीं रखा है बल्कि उसकी बजाए वो आईपीएल की चेन्नई सुपर किंग्स और मुंबई इंडियंस को पसंद करते हैं.

यूपी की सीएम ने की थी लव मैरिज तो घरवालों ने तोड़ लिया था रिश्ता

कारों और घड़ियों का क्रेज 
सुलेमान को कारों और महंगी घड़ियों का क्रेज है. कारों को लेकर उनकी दीवानगी फेसबुक पर उनके पेज पर भी दिखती है.

उनके पास दौलत की कोई कमी नहीं, माना जाता है कि वो अपने पिता से कहीं ज्यादा दौलत के मालिक हैं. कभी इंग्लैंड में रिफरेंडम पार्टी के नाम से सियासी दल बनाकर पूरे देश में चुनाव लड़ने वाले उनके नाना उनके लिए बड़ी दौलत छोड़ गए हैं. फिर उनकी मां जेमिमा गोल्डस्मिथ की गिनती भी देश के धनी लोगों में होती है.

भारतीय कप्तान ने कहा, तुम मुझे फुलटॉस दो मैं तुम्हें घड़ी दूंगा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पाकिस्तान से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 25, 2019, 9:14 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...