24 दिसंबर को भी किया था मंदिर में प्रवेश का प्रयास
बिंदू और कनकदुर्गा ने 24 दिसंबर को भी सबरीमाला में जाने का प्रयास किया था लेकिन विरोधियों ने उनकी कोशिश को नाकाम कर दिया था. इसके बाद बिंदू के एरोकोड स्थित घर और उनके पति के अंगदीपुरम स्थित घर पर दक्षिणपंथी समूह के लोगों ने हमला भी किया.