अपना शहर चुनें

States

कोरोना वायरस से निपटने के लिए दिल्‍ली सरकार ने की हैं क्‍या-क्‍या तैयारियां?

अगर आपको मास्क खरीदने में परेशानी हो रही है या फिर मेडिकल स्टोर पर आपको ये उपलब्ध नहीं हो पा रहा है तो आप इसे घर पर भी बना सकते हैं.
अगर आपको मास्क खरीदने में परेशानी हो रही है या फिर मेडिकल स्टोर पर आपको ये उपलब्ध नहीं हो पा रहा है तो आप इसे घर पर भी बना सकते हैं.

कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ मुहिम के तहत इंटीग्रेटेड डिजीज सर्विलांस प्रोग्राम (IDSP) कार्यालय को दिल्‍ली के 11 जिलों के बीच समन्‍वय के लिए नोडल एजेंसी बनाया गया है. आईडीएसपी के स्‍टेट सर्विलांस ऑफिसर के नेतृत्‍व में सर्विलांस टीम इंफेक्‍टेड लोगों के संपर्क में आने वालों पर नजर रख रही है. सभी 11 जिलों में एक-एक जिला निगरानी अधिकारी नियुक्‍त (DSO) किया गया. सैकड़ों स्‍वास्‍थ्‍य कर्मी, आशा कार्यकर्ता कोरोना वायरस को रोकने के लिए काम कर रहे हैं.

  • Share this:
निखिल घनेकर

नई दिल्‍ली. राष्‍ट्रीय राजधानी के लक्ष्मी नगर मेट्रो स्टेशन चौराहे के पास डेंगू कंट्रोल सेल (DCC) की इमारत के बारे में बहुत से लोग नहीं जानते हैं. इस चार मंजिला इमारत में इंटीग्रेटेड डिजीज सर्विलांस प्रोग्राम (IDSP) का कार्यालय भी है. आजकल ये इमारत कोरोना वायरस (Corona Virus) के खिलाफ दिल्‍ली सरकार की लड़ाई का केंद्र बनी हुई है. आजकल आईडीएसपी कर्मी दिल्‍ली सरकार (Delhi Government) की ओर से जारी किए गए हेल्‍पलाइन नंबर पर कोरोना वायरस को लेकर आने वाली कॉल्‍स पर जवाब देने में व्‍यस्‍त नजर आ रहे हैं. वहीं, कुछ लोग अलग-थलग किए गए (Quarantined) संदिग्‍ध लोगों की जानकारी इकट्ठी कर रहे हैं. आईडीएसपी के स्‍टेट सर्विलांस ऑफिसर और पब्लिक हेल्‍थ विंग-4 के अतिरिक्‍त डायरेक्‍टर डॉ. शेर सिंह कश्‍योतिया कोरोना वायरस के खिलाफ दिल्‍ली सरकार की मुहिम का नेतृत्‍व कर रहे हैं.

संक्रमित व्‍यक्ति के संपर्क में आए लोगों को खोज रहा आईडीएसपी
केंद्र सरकार (Central Government) की ओर से दिल्‍ली में कोरोना वायरस के पहले पॉजिटिव मामले की घोषणा के कुछ दिन पहले ही डॉ. शेर सिंह ने आईडीएसपी का चार्ज संभाला था. तमाम व्‍यस्‍ततओं के बीच डॉ. शेर सिंहने news18 को बताया कि आईडीएसपी कार्यालय किस तरह जिलास्‍तरीय मशीनरी के साथ मिलकर कोरोना वायरस संक्रमितों (Infected) के संपर्क में आए लोगों को ढूंढने का काम कर रहा है. बता दें कि कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ मुहिम में आईडीएसपी कार्यालय को दिल्‍ली के 11 जिलों के बीच समन्‍वय के लिए नोडल एजेंसी (Nodal Agency) बनाया गया है.
एयरपोर्ट पर थर्मल स्‍कैनर की मदद से की जा रही लोगों की जांच


डॉ. शेर सिंह ने कहा कि दिल्‍ली इस वायरस से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार है. हम यह भी सुनिश्चित कर रहे हैं कि जिला स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारी (Medical Officer) और सर्विलांस यूनिट्स एयरपोर्ट पर संक्रमित व्‍यक्ति के संपर्क में आए लोगों तक पहुंचें. शुक्रवार शाम को दिल्‍ली के तीन लोगों के कोरोना वायरस से इंफेक्‍टेड होने की पुष्टि हुई है. इनमें एक व्‍यक्ति मयूर विहार (Mayur Vihar) और एक उत्‍तम नगर (Uttam Nagar) का रहने वाला है. तीसरे व्‍यक्ति की जानकारी अब तक नहीं मिल पाई है. बता दें कि एकदूसरे को छूने या संक्रमित व्‍यक्ति के संपर्क में आई मेटल, प्‍लास्टिक, फाइबर, कपड़ा या दूसरी सतहों को छूने फैलने वाले इस वायरस की जांच के लिए देश के ज्‍यादातर एयरपोर्ट पर थर्मल स्‍कैनिंग (Thermal Scanner) की जा रही है.

दिल्‍ली के लक्ष्मी नगर मेट्रो स्टेशन चौराहे के पास डेंगू कंट्रोल सेल की इमारत है इस चार मंजिला इमारत में इंटीग्रेटेड डिजीज सर्विलांस प्रोग्राम का कार्यालय भी है.


सीडीएमओ ने खोजे संक्रमित व्‍यक्ति के संपर्क में आए 41 लोग
एसआईडीपी ने दिल्‍ली के तीन संक्रमित व्‍यक्तियों के संपर्क में आए 74 लोगों का पता लगा लिया है. इन सभी लोगों को उनके घरों (Isolation) में ही रहने को कहा गया है. दिल्‍ली सरकार के सूत्रों ने बताया कि ढूंढे गए 74 में से दो लोगों में कोरोना वायरस के लक्षण पाए गए हैं. उन्‍हें राम मनोहर लोहिया अस्‍पताल में अलग-थलग कर रखा गया है. उत्‍तर नगर का रहने वाला संक्रमित व्‍यक्ति मलेशिया (Malaysia) और थाइलैंड (Thailand) की यात्रा कर लौटा था. उसके परिवार के 7 सदस्‍यों के ब्‍लड सैंपल ले लिए गए हैं. सूरजमल विहार में पूर्वी दिल्‍ली के मुख्‍य जिला स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारी का कार्यालय (CDMO) है. इस कार्यालय ने मयूर विहार के संक्रमित व्‍यक्ति के संपर्क में आए 41 लोगों की जानकारी जुटा ली है.

एयरपोर्ट उपलब्‍ध करा रहा विदेश यात्रा से लौटे लोगों की सूची
सीडीएमओ कार्यालय जिला अधिकारियों की अध्‍यक्षता वाले डिस्ट्रिक्‍ट टास्‍क फोर्स के साथ सूचनाओं को साझा करने के लिए समन्‍वय भी कर रहा है. डॉ. शेर सिंह ने बताया कि सभी 11 जिलों की डिस्ट्रिक्‍ट सर्विलांस यूनिट (Surveillance Unit) में एक-एक जिला निगरानी अधिकारी (DSO) तैनात किया गया है. डीएसओ दिल्‍ली सरकार की डिस्‍पेंसरीज में स्‍वास्‍थ्‍य कर्मियों (Health Workers) के कामकाज पर नजर रख रहा है. स्‍वास्‍थ्‍य कर्मी विदेश यात्रा (Foreign Trips) से लौटे लोगों से संपर्क कर रहे हैं. कोरोना वायरस की चपेट में आए देशों से लौटे लोगों पर खास नजर रखी जा रही है. आईडीएसपी कार्यालय और हर जिले की सर्विलांस यूनिट को दिल्‍ली एयरपोर्ट पर जांच किए गए लोगों की सूची उपलब्‍ध कराई जा रही है.

दिल्‍ली एयरपोर्ट पर विदेश से आने वाले लोगों की थर्मल स्‍कैनर से जांच कर पता लगाया जा रहा है कि वे कोरोना वायरस से संक्रमित तो नहीं हैं.


उत्‍तम नगर में संक्रमित के नजदीकी 50 घरों का किया सर्वे
एयरपोर्ट से मिलने वाली सूची में दर्ज विदेश यात्रा से लौटे लोगों की ओर से दिए नंबरों पर स्‍वास्‍थ्‍य कर्मी बात कर रहे हैं. नंबर नहीं मिलने पर उनके घर जाकर संपर्क किया जा रहा है. कोरोना वायरस की रोकथाम की मुहिम के तहत स्‍वास्‍थ्‍य कर्मियों ने उत्‍तम नगर के रहने वाले संक्रमित व्‍यक्ति के साथ ही उसके आसपास रहने वाले 50 घरों का सर्वे भी किया. पूर्वी दिल्‍ली में 16 डिस्‍पेंसरीज के स्‍वास्‍थ्‍य कर्मी और आशा कार्यकर्ता लगातार काम कर रहे हैं. किसी भी व्‍यक्ति को फ्लू के लक्षण की जानकारी मिलने पर उसके परिवार के सभी सदस्‍यों की जांच की जा रही है. इसके अलावा दिल्‍ली सरकार के स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारी निजी क्‍लीनिकों से भी मरीजों का ब्‍योरा ले रहे हैं.

घरों में अलग-थलग किए गए लोगों से रोज की जा रही बात
ए‍क अधिकारी ने बताया कि अलग-थलग किए लोगों से स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारी दिन में दो बार बात कर हालचाल ले रहे हैं. फ्लू के लक्षण वाले लोगों को कोरोना वायरस की जांच प्रक्रिया से गुजरने के लिए समझाया जा रहा है. उन्‍हें बताया जा रहा है कि परेशानी होने पर उन्‍हें किससे संपर्क करना है. अगर नजर रखे जा रहे किसी व्‍यक्ति में कोरोना वायरस के लक्षण नजर आ रहे हैं तो उन्‍हें मेडिकल जांच के लिए जाने को विशेष एंबुलेंस (Special Ambulance) दी जा रही है. अधिकारी ने बताया कि हमें 15 जनवरी से विदेश से लौटकर आए लोगों की सूची उपलब्‍ध कराई जा रही है. पूर्वी दिल्‍ली में ऐसे 356 लोग हैा, जो विदेश यात्रा से लौटे हैं. इनमें 277 में कोरोना वायरस की जांच की जा रही है.

ये भी पढ़ें:

कोरोना वायरस की जांच में कितने कारगर हैं हवाईअड्डों पर लगाए गए थर्मल स्‍कैनर

जयललिता का पहला क्रश था टीम इंडिया का सबसे कम उम्र का ये कप्‍तान 

न्‍यूटन ने की थी 2060 में दुनिया के अंत की भविष्‍यवाणी, जानें कैसे की थी विनाश के वर्ष की गणना
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज