लाइव टीवी

जानिए इस केकड़े में क्या है खास, जिसकी जापान में लगी 33 लाख रुपये कीमत

News18Hindi
Updated: November 12, 2019, 3:26 PM IST
जानिए इस केकड़े में क्या है खास, जिसकी जापान में लगी 33 लाख रुपये कीमत
जापान में एक हिम केकड़ा 5 मिलियन येन में बेचा गया है.

5 मिलियन येन में नीलाम होने वाले इस बेमिसाल हिम केकड़े को जापान के एक मछली व्यापारी टेटसूजी हमशिता ने खरीदा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 12, 2019, 3:26 PM IST
  • Share this:
जापान से एक दिलचस्प नीलामी की जानकारी सामने आई है. इसी साल 7 नवंबर को जापान के टोटोरी प्रांत में एक हिम केकड़े (snow crab) की नीलामी हुई है. यह नीलामी पूरे 5 मिलियन येन (46,000 डॉलर) में हुई. ये कीमत भारतीय रुपये में लगभग 33 लाख है. वहीं टोटोरी प्रांत में इस नीलामी का आयोजन करने वाले मत्स्य संवर्धन विभाग ने जानकारी दी कि यह हिम केकड़े के लिए दी जाने वाली अब तक की सबसे अधिक कीमत है.

दरअसल यह बेमिसाल जीव एक नर हिम केकड़ा है. जिसका वजन 1.2 किलोग्राम और आकार 14.6 सेमी का है. गौरतलब है कि टोटोरी में पिछले साल हुए हिम केकड़े की नीलामी की बोली 2 मिलियन येन (18000 डॉलर) की लगाई गई थी, जोकि गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज है.

हिम केकड़े का वजन 1.2 किलोग्राम और आकार 14.6 सेमी का है.


टेटसूजी हमशिता ने नीलामी में मारी बाजी

इस सप्ताह आयोजित की गई इस हिम केकड़े की नीलामी के विजेता टेटसूजी हमशिता रहे. हमशिता टोटोरी प्रांत के एक बड़े मछली व्यापारी हैं. साथ ही वो मछली के थोक व्यापारी संघ हनाशिता शोटेन के अध्यक्ष भी हैं. उन्होंने बताया कि इस 5 मिलियन येन के हिम केकड़े को टोक्यो के पॉश इलाके में स्थित गिंजा रेस्टोरेंट में कुछ भाग्यशाली ग्राहकों को परोसा जाएगा.

हमशिता ने सीएनएन को बताया कि हालांकि एक केकड़े के लिए दी जाने वाली यह रकम बहुत ज्यादा है, लेकिन यह रिवाज है. उन्होंने आगे कहा कि उन्हें यकीन है कि केकड़े से मिलने वाला स्वाद उसकी कीमत से मेल खाएगा है. बता दें कि जापान में इस साल हिम केकड़े के शिकार का मौसम बुधवार 6 नवंबर को शुरू हुआ था.

सीजन के पहले दिन सबसे अच्छा केकड़ा खरीदना शुभहिम केकड़े का शिकार शुरू होने के अगले ही दिन इस नीलामी का आयोजन किया गया. आम तौर पर ऐसा माना जाता है कि शुरुआती दिनों में होने वाली नीलामी की कीमत अधिक होती है. नीलामी के आयोजकों का मानना है कि सीजन के पहले दिन सबसे अच्छा केकड़ा खरीदना शुभ होता है.

नीलामी के विजेता हमशिता ने कहा कि उनका ऐसा अनुमान था कि नीलामी करीब 3 मिलियन येन की होगी. आयोजकों ने कहना है कि नीलामी में भाग लेने वालों को कीमत के साथ-साथ लोगों के प्रोत्साहित करने वाले नारे और तालियों से बहुत आश्चर्य हुआ.

सीजन के पहले दिन सबसे अच्छा केकड़ा खरीदना शुभ होता है.


ओसाका और हिरोशिमा के बीच के इलाके में पाया जाता है हिम केकड़ा
उल्लेखनीय है कि जापान में हिम केकड़ों की भारी मांग है. हिम केकड़ा जापान में ओसाका और हिरोशिमा द्वीपों के बीच स्थित टोटोरी प्रांत के बंद पानी वाले इलाके में पाया जाता है. हिम केकड़ा को जापान की भाषा में जुवैगानी कहा जाता है.

पारंपरिक रूप से जापान में हिम केकड़े का शिकार जाड़े में किया जाता है. दरअसल फाइव शाइनिंग स्टार का उपनाम केकड़े के आकार के आधार पर दिया जाता है. जिसमें उच्च गुणवत्ता भी शामिल होती है. उच्च गुणवत्ता वाले केकड़े के पैर, वसा और मांस से भरपूर होते हैं.

केकड़ा आठ टांगों वाला समुद्री जीव
बता दें कि केकड़ा समुद्र में पाया जाने वाला एक जीव होता है, जिसकी आठ टांगे और दो पंजे होते हैं. यह समुद्र में उथले इलाके से लेकर गहरे पानी में विभिन्न प्रकार और रंगों में पाए जाते हैं. ऐसा माना जाता है कि मादा केकड़े की अंडा देने से पहले ही मौत हो जाती है.

केकड़ा गर्मी के मौसम में छिछले सागरीय पानी या किनारों पर पाए जाते हैं. जबकि जाड़े में ये गहरे सागरीय जल में चले जाते हैं. यहां केकड़े झुंड में समुद्र के अंदर की चट्टानों की दरारों और गड्ढों में रहते हैं. दुनिया के कई इलाकों में केकड़े के मांस को बड़े चाव से खाया जाता है.

केकड़ा गर्मी के मौसम में छिछले सागरीय पानी या किनारों पर पाए जाते हैं.


औषधीय गुणों से परिपूर्ण
आयुर्वेद का मानना है कि सफेद केकड़े का मांस कई औषधीय गुणों से युक्त होता है. जिससे वायु और पित्त से संबंधित रोगों का नाश होता है.  वहीं काले केकड़े के मांस को शक्तिवर्धक और वात नाशक माना जाता है. एक रिपोर्ट के अनुसार, केकड़े का मांस मछली की तुलना में मानव स्वास्थ्य के लिए अधिक फायदेमंद होता है.

स्पेन और फ्रांस जैसे देशों में भी केकड़े के मांस को बहुत पसंद किया जाता है. केकड़े का मांस नियमित रूप से खाने पर अविश्वसनीय स्वास्थ्य लाभ होता है. केकड़े में प्रचुर मात्रा में प्रोटीन होता है. केकड़े में पाया जाने वाला प्रोटीन उच्च गुणवत्ता का होता है.

केकड़े के मांस में संयोजी ऊतक की कमी होने के कारण यह सभी उम्र के लोगों के लिए बहुत सुपाच्य होता है. साथ ही केकड़े के मांस में विटामिन और खनिजों का अपार भंडार होता है, लेकिन वसा कम होने के चलते यह दिल की बीमारी और मस्तिष्क रोगों से सुरक्षा प्रदान करता है.

ये भी पढ़ें:

टी. एन. शेषन: मौलिक सोच वाले एक बेहतरीन प्रशासक
जानिए कैसे 'सरदार पटेल' ने सोमनाथ मंदिर का कराया था निर्माण

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नॉलेज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 12, 2019, 3:03 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर