लाइव टीवी

जानिए कौन हैं नए आर्मी चीफ बनने वाले लेफ्टिनेंट जनरल मनोज मुकुंद नरवणे

News18Hindi
Updated: December 17, 2019, 6:20 PM IST
जानिए कौन हैं नए आर्मी चीफ बनने वाले लेफ्टिनेंट जनरल मनोज मुकुंद नरवणे
लेफ्टिनेंट मनोज मुकुंद नरवणे वर्तमान आर्मी चीफ बिपिन रावत की जगह लेंगे

लेफ्टिनेंट जनरल मनोज मुकुंद नरवणे (Lieutenant General Manoj Mukund Naravane) वर्तमान में सेना प्रमुख (Army Chief) बिपिन रावत के बाद सेना में सबसे सीनियर अधिकारी हैं. नरवणे भारतीय सेना में अप्रैल 2022 तक अपनी सेवाएं देंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 17, 2019, 6:20 PM IST
  • Share this:
लेफ्टिनेंट जनरल मनोज मुकुंद नरवणे (Lieutenant General Manoj Mukund Naravane) देश के अगले सेना प्रमुख (Army Chief) होंगे. वर्तमान में सेना के उप प्रमुख (Vice Army Chief) लेफ्टिनेंट जनरल एमएम नरवणे आर्मी चीफ बिपिन रावत की जगह लेंगे. बिपिन रावत 31 दिसंबर को रिटायर हो रहे हैं.

लेफ्टिनेंट जनरल एमएम नरवणे को वरिष्ठता के आधार पर सरकार ने अगला आर्मी चीफ चुना है. नरवणे वर्तमान में सेना प्रमुख बिपिन रावत के बाद सेना में सबसे सीनियर अधिकारी हैं. नरवणे भारतीय सेना में अप्रैल 2022 तक अपनी सेवाएं देंगे.

सेना प्रमुख बनाए जाने पर जनरल एमएम नरवणे ने कहा है कि 'मुझे इस फैसले का काफी अरसे से इंतजार था. मैं काफी खुश हूं. मेरे लिए ये गर्व की बात है कि मुझे ये जिम्मेदारी दी गई है. मेरी पूरी कोशिश होगी कि मैं अपनी जिम्मेदारियों को अच्छे से निभा पाऊं. '

कौन हैं नए आर्मी चीफ मनोज मुकुंद नरवणे?



लेफ्टिनेंट जनरल एमएम नरवणे ने 1 सितंबर को भारतीय सेना के उप प्रमुख का पदभार ग्रहण किया था. इसके पहले वो सेना के उत्तरी कमांड के प्रमुख थे. सेना में अपने 4 दशक के कार्यकाल में नरवणे ने कई चुनौतीपूर्ण जिम्मेदारियों का निर्वहन किया है. उन्होंने कश्मीर से लेकर नॉर्थ ईस्ट राज्यों में अपनी तैनाती के दौरान आतंकी गतिविधियों को रोकने में अहम भूमिका निभाई है. नरवणे श्रीलंका में 1987 के दौरान चलाए ऑपरेशन पवन में पीस कीपिंग फोर्स का हिस्सा रह चुके हैं.

lieutenant general manoj mukund naravane set to be next army chief know his profile
आर्मी चीफ का पदभार ग्रहण करेंगे लेफ्टिनेंट जनरल मनोज मुकुंद नरवणे


सेना में उत्कृष्ट कार्यों के लिए इन्हें परम विशिष्ट सेवा मेडल और अति विशिष्ट सेवा मेडल से सम्मानित किया जा चुका है. लेफ्टिनेंट जनरल एमएम नरवणे नागालैंड में असम राइफल्स के इंस्पेक्टर जनरल भी रह चुके हैं.लेफ्टिनेंट जनरल नरवणे जम्मू-कश्मीर में राष्ट्रीय राइफल्स बटालियन और पूर्वी मोर्चे पर इन्फेंट्री ब्रिगेड की कमान संभाल चुके हैं.



लेफ्टिनेंट जनरल नरवणे राष्ट्रीय रक्षा अकादमी के पास आउट हैं. जून 1980 में सिख लाइट इन्फैंट्री रेजिमेंट की 7 वीं बटालियन में ये शामिल हुए. लेफ्टिनेंट जनरल मनोज मुकुंद नरवणे को सबसे चुनौतीपूर्ण क्षेत्रों में काम करने का अनुभव है.

नरवणे पुणे से ताल्लुक रखते हैं. उनके पिता मुकुंद नरवणे भारतीय वायुसेना से रिटायर हुए थे. उनकी मां सुधा नरवणे लेखिका और न्यूज ब्रॉडकास्टर थीं. पुणे के ऑल इंडिया रेडियो से वो जुड़ी हुई थीं. पिछले साल ही उनका निधन हुआ है.

lieutenant general manoj mukund naravane set to be next army chief know his profile
लेफ्टिनेंट जनरल मनोज मुकुंद नरवणे


लेफ्टिनेंट जनरल एमएम नरवणे ने पुणे के ज्ञान प्रबोधिनी प्रशाला से पढ़ाई की है. स्कूल के दिनों मे उनकी रूचि पेंटिंग और खेलों में भी थी.

आर्मी चीफ 62 साल की उम्र में या फिर सेना के सर्वोच्च पद पर 3 साल तक रहने के बाद रिटायर होते हैं. बताया जा रहा है कि वर्तमान में आर्मी चीफ बिपिन रावत को चीफ ऑफ डिफेन्स स्टाफ बनाया जा सकता है. इस पद की घोषणा प्रधानमंत्री मोदी ने इस साल के स्वतंत्रता दिवस के अपने भाषण में की थी.

ये भी पढ़ें: जंग का मैदान बने जामिया से निकली हैं ये मशहूर शख्सियतें
यूपीए सरकार के इस बिल पर भी हुआ था खूब हंगामा, बीजेपी ने कहा था काला कानून
विजय दिवस: जब 13 दिन की जंग के बाद पाकिस्तान के 93 हजार सैनिकों ने किया था सरेंडर 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नॉलेज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 17, 2019, 9:52 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर