होम /न्यूज /ज्ञान /

हाथ नहीं होने पर दिव्यांग मतदाताओं के शरीर के इस हिस्से पर लगाई जाएगी स्याही

हाथ नहीं होने पर दिव्यांग मतदाताओं के शरीर के इस हिस्से पर लगाई जाएगी स्याही

प्रतीकात्मक तस्वीर

प्रतीकात्मक तस्वीर

मतदान केंद्रों पर दिव्यांग मतदाताओं के लिए विशेष व्यवस्था की गई है.

    भारतीय आम चुनावों का आगाज हो चुका है. पहले चरण का आधा मतदान हो चुका है. चुनाव आयोग ने मतदाताओं के लिए खास इंतजाम किए हैं. इन चुनावों में पहली बार VVPAT मशीनों का इस्तेमाल EVM के साथ किया जा रहा है. तमाम तरीकों से लोगों को वोट देने के लिए प्रेरित किया जा रहा है. इन चुनावों में दिव्यांग मतदाताओं का भी खास ध्यान दिया गया है. कई सीटों पर एक दिव्यांग मतदान केंद्र भी बनाया गया है, जहां दिव्यांग मतदान अधिकारियों की ही नियुक्ति की गई है.

    सभी मतदान केंद्रों पर दिव्यांगों के लिए रैंप की सुविधा भी है. वहां व्हील चेयर भी उपलब्ध कराई गई है. दृष्टिबाधित व अक्षम मतदाताओं को सहयोगी प्रदान किए जाने की व्यवस्था भी की गई है. चुनाव आयोग के निर्देशानुसार मतदाता की तर्जनी उंगली पर स्याही लगाई जानी है. हालांकि अगर मतदाता की बाईं उंगली या बायां हाथ नहीं है तो उसके दायें हाथ की उंगली पर स्याही लगाई जाएगी. लेकिन अगर किसी मतदाता के दोनों हाथ नहीं हैं तो उसकी कोहनी पर या अगर पूरा हाथ नहीं है तो उसके कंधे पर स्याही लगाई जाएगी.

    मानसिक रोगों के शिकार भी बन सकेंगे वोटर
    2016 में तमिलनाडु में चुनाव आयोग तब सुर्खियों में आ गया था जब उसने शारीरिक अपंगता के साथ ही मानसिक रोगों के ग्रसित लोगों को वोटर लिस्ट में जोड़ा था. इस कदम की तारीफ हुई थी और इसके बाद कई राज्यों में इस कदम को दोहराया गया. हाल ही में अभी चेन्नई में 129 ऐसे मरीजों को वोटर के तौर पर जोड़ा गया है. इससे यह डिबेट शुरू हो गई है कि क्या ऐसे लोग बिना किसी दबाव के सही से वोट डाल सकते हैं. या इनकी अपंगता के आधार पर इन्हें रोका जाना चाहिए. इस पर चुनाव आयोग का कहना है कि इन्हें ऐसी किसी अक्षमता के आधार पर रोका नहीं जाएगा.

    यह भी पढ़ें: जब एक सीट पर खड़े हो गए थे 1033 उम्मीदवार, चुनाव आयोग को मजबूरन बदलना पड़ा ये नियम

    नॉलेज की खबरों को सोशल मीडिया पर भी पाने के लिए 'फेसबुक' पेज को लाइक करें

    Tags: Disabilities, General Election 2019, Lok Sabha Election 2019, Voter ID, Voter List

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर