• Home
  • »
  • News
  • »
  • knowledge
  • »
  • LOVE STORY OF OUTGOING ISRAEL PRIME MINISTER BENJAMIN THREE MARRIAGE AND A SCANDAL

इजरायल के नेता नेतन्याहू की लवस्टोरी, बीवी थी प्रेग्नेंट किसी और से लड़ा रहे थे आंखें

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू की पहली दो शादियां नाकाम रहीं. चित्र में वो अपनी तीसरी पत्नी सारा के साथ हैं.

आखिरकार एक लंबे कार्यकाल के बाद अब इजरायल के प्रधानमंत्री पद से बेंजामिन नेतन्याहू की विदाई तय हो गई है. वैसे अपने कार्यकाल के दौरान वो कई विवादों से अगर घिरे रहे तो उनकी लवस्टोरी भी कम दिलचस्प नहीं है. तीन शादियां कर चुके इजरायल के प्रधानमंत्री अपनी लव लाइफ और स्कैंडल्स के लिए भी चर्चित रहे हैं.

  • Share this:
इजरायल में अब ये बिल्कुल साफ हो चुका है कि लंबे समय तक प्रधानमंत्री रहे बेंजामिन नेतन्याहू की पद से विदाई हो रही है. गठबंधन में नफ्ताली बेनेट नई सरकार के प्रधानमंत्री होंगे. प्रधानमंत्री के तौर पर नेतन्याहू का कार्यकाल मिलाजुला था. विवादों से भी वो दो-चार हुए. वैसे उनकी निजी जिंदगी हमेशा ही चर्चाओं में रही. नेतन्याहू अपने लव अफेयर्स, तीन शादियों और उस सेक्स वीडियो टेप के कारण चर्चा में रहे, जिसके लिए उन्हें सार्वजनिक तौर पर माफी भी मांगनी पड़ी थी. उनके नाम कई महिलाओं के साथ जुड़े लेकिन सबसे ज्यादा चर्चित है उनकी पहली शादी टूटने का किस्सा.

"द टाइम्स ऑफ इजरायल" की एक रिपोर्ट कहती है कि नेतन्याहू के कुछ सीक्रेट्स ऐसे हैं जो सामने आ जाएं तो उनका बहुत नुकसान कर सकते हैं और शर्मिंदगी में भी डाल सकते हैं. उनकी व्यक्तिगत जिंदगी दो नाकाम शादी के बाद एक एयरहोस्टेस से विवाह और संबंधों की धोखेबाजी से जुड़ी बताई जाती है.

लेकिन नेतन्याहू इजरायल के ऐसे प्रधानमत्री भी रहे हैं, जिन्होंने 18 साल की उम्र में अनिवार्य सैन्य करियर में कमांडो बनना पसंद किया. कई साहसिक अभियानों में शिरकत की. इसमें एक बड़ा अभियान वो भी था, जिसे "आपरेशन गिफ्ट" के नाम से जाना जाता है,  जब वो बेरुत हवाई अड्डे पर इजरायलियों को रिहा कराने के लिए गई कमांडो टीम के सदस्य थे.

इसमें कोई शक नहीं कि नेतन्याहू लंबे और आकर्षक व्यक्तित्व के धनी हैं. जब वो युवा थे तो वाकई किसी ग्रीक देवता सरीखे लगते थे. उनकी पर्सनालिटी में खास चार्म था, जिस पर लड़कियों का उनकी ओर आकर्षित होना स्वाभाविक भी था.



पहला प्यार तब परवान चढ़ा 
अब उनकी व्यक्तिगत जिंदगी पर आते हैं. उनकी पहली बीवी थीं मरियम वीजमन. दोनों का प्यार तब परवान चढ़ा जब वो मिलिट्री सर्विस में थे. उन्हें मिकी के नाम से जाना जाता है.  तब मरियम भी सैन्य ट्रेनिंग ले रही थीं. सैन्य बेस में जहां नेतन्याहू रहते थे, पास ही वो भी रहती थीं.

कुछ ही मुलाकातों में दोनों एक दूसरे को दिल दे बैठे. सैन्य प्रशिक्षण खत्म होने के बाद दोनों आगे उच्च शिक्षा लेने के इरादे से अमेरिका चले गए. ये 1972 का समय रहा होगा.

मरियम ने वहां ब्रेंडिज में ग्रेजुएट डिग्री में दाखिला लिया. नेतन्याहू पहले कोर्नेल पढ़ने गए. फिर एमआईटी में दाखिल ले लिया. उस समय उनकी उम्र 23 साल की थी और मरियम भी करीब इसी उम्र की थीं. युवा और परफेक्ट लगने वाला कपल.

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू और उनकी पहली बीवी मरियम, जिससे उन्हें एक बेटी है


नेतन्याहू सुदर्शन व्यक्तित्व के धनी. लंबे छरहरे युवा. लेकिन मरियम भी कहीं से कम नहीं थीं. नेतन्याहू ने कोर्नेल से आकर एमआईटी में दाखिला लिया ही इसलिए था, क्योंकि उनकी प्रेमिका मरियम अकेलापन महसूस करती थीं. इसलिए इरादा ये था कि दोनों पास रहेंगे और एक दूसरे के साथ ज्यादा समय बिता सकेंगे. जल्दी ही दोनों ने शादी कर ली.

प्रेग्नेंट हो गईं मरियम और पति के कदम बहकने लगे
1978 आते आते मरियम प्रेग्नेंट हो गईं. अब दोनों एक परिवार में नए मेहमान का इंतजार कर रहे थे. सबकुछ अच्छा चल रहा था. इसी बीच ऐसा हुआ कि नेतन्याहू के कदम बहकने लगे. वो एमआईटी की लाइब्रेरी में एक ब्रिटिश लड़की से टकराए. नाम था फेलर केटेस. पहली मुलाकात बातचीत तक पहुंची. फिर और मुलाकातों तक. फिर नजदीकियों तक. प्रेग्नेंट मरियम ने नोटिस किया कि उसका पति अब घर में कम समय बिताने लगा है. वो ज्यादातर बाहर ही रहता है.

..और खत्म हो गई पहली शादी 
एक दिन मरियम को इसका पता लग ही गया. उसने खुद अपनी आंखों से देखा कि उसका "मिकी" लंबे सुनहरे बालों वाली युवती के हाथों में हाथ डाले घूम रहा है. घर में खूब कलह हुई. मरियम ने फैसला किया कि अब वो साथ नहीं रहेंगी. वो उस घर से निकल गईं.

अप्रैल 1978 में मरियम ने हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के अस्पताल में बेटी नोआ को जन्म दिया. नेतन्याहू अपनी नवजात बेटी को देखने भी नहीं आए. अलबत्ता फूलों का एक गुलदस्ता जरूर भेज दिया.

नेतन्याहू पहली शादी के बाद अमेरिका में फेलर केटेस की ओर आकर्षित हुए. इसके कारण उनकी पहली शादी टूटी. लेकिन फेलर से उनकी शादी नाकाम साबित हुई


दूसरी शादी जो नाकाम रही
उन्होंने उसी ब्रिटिश युवती फेलर से शादी की. हालांकि ये शादी बुरी तरह नाकाम रही. दूसरा विवाह 1981 में हुआ. शायद उनके पेरेंट्स भी खुश नहीं थे, क्योंकि ये युवती यहूदी नहीं थी. जाहिर है इसका असर बेंजामिन के उन सपनों पर पड़ सकता था, जो वो देख रहे थे.

पहले सांसद बने फिर प्रधानमंत्री
ये शादी केवल तीन सालों में तलाक तक पहुंच गई. हालांकि नेतन्याहू की तरक्की पर कोई असर नहीं पड़ा. वो इजराइल के उन युवाओं में गिने जा रहे थे, जो देश का भविष्य बन सकते हैं.  1984 में वो संयुक्त राष्ट्र में इजराइल के स्थायी प्रतिनिधि बनाए गए. अगले छह सालों में उन्होंने सियासी तौर पर एक मजबूत जगह बना ली. 1992 में नेतन्याहू लिकुड पार्टी से चुनकर संसद यानि कानेसेट में पहुंचे. तभी उन्हें संसद में लिकुड का नेता बना दिया गया. 1996 के चुनावों में उन्होंने पार्टी को शानदार जीत दिलाई और प्रधानमंत्री बन गए.

पारिवारिक जिंदगी में वो कुछ साल तन्हा भी रहे. दूसरी शादी टूटने के सात साल तक वो अकेले रहे. हालांकि नाम कई महिलाओं के साथ जुड़ता रहा. 1991 में उन्होंने तीसरी शादी की. ये भी खासी चर्चित शादी थी. अब तक वो इजराइल में सियासी तौर पर पहचान बना चुके थे.

एयरहोस्टेस जो तीसरी बीवी बनी 
उनकी नई पत्नी थीं सारा बेन आर्जी. सारा इजराइल की एय़रलाइंस ईएलएएल (El Al) में एयरहोस्टेस थीं. दोनों की पहली मुलाकात कब और कैसे हुई, इसे लेकर कई बातें इजरायली मीडिया में चर्चित हुईं. ये भी माना जाता है कि नेतन्याहू शादी करना नहीं चाहते थे लेकिन ऐसी स्थिति बनी कि शादी करनी पड़ी, क्योंकि वो प्रेग्नेंट थीं.  ये भी कहा जाता है कि सारा को अंदाज हो चला था कि नेतन्याहू आने वाले समय में इजराइल की सियासत में बहुत बड़े पद पर पहुंचने वाले हैं.

ये हैं सारा, नेतन्याहू की तीसरी और मौजूदा बीवी. वो इजरायल की एयरलाइंस में एयरहोस्टेस थीं


सारा और नेतन्याहू के दो बेटे हैं लेकिन सारा अक्सर इजरायल मीडिया में चर्चित रहती हैं. उनका नाम कई घोटालों और भ्रष्टाचार में आया है. कहा जाता है कि वो तेजतर्रार हैं. सारा के बच्चों का देखभाल करने वाली कई नैनीज ने खराब व्यवहार के चलते उनके खिलाफ मुकदमा भी ठोका है.

सेक्स वीडियो के रूप में हंगामेदार टर्न 
इस प्रेम कहानी में एक टर्न आया. बिल्कुल वैसा ही जैसा नेतन्याहू की पहली शादी के बाद आया था. एक दिन सारा के पास एक महिला का फोन आया. जिसने बताया कि किस तरह उनके पति के साथ उसके संबंध हैं. इसका एक सेक्स वीडियो भी उसके पास है.

नेतन्याहू फिर मुश्किल में फंस चुके थे. घर में घमासान मचा ही लेकिन उससे ज्यादा गंभीर बात ये थी कि सियासी तौर पर कहीं वो हाशिए पर ना सरक जाएं. ऐसे में नेतन्याहू ने ऐसा रास्ता तलाशा, जिसे बोल्ड भी कहना चाहिए और समय के हिसाब से उचित भी.

नेतन्याहू जब वीडियो सेक्ट टेप कांड में फंसे तो उन्होंने प्रेस के सामने आकर देश से माफी मांगी. इसमें वो और उनकी पत्नी दोनों बुझे हुए लग रहे हैं


माफी मांगी 
उन्होंने प्रेस कांफ्रेंस बुलाई, जिसमें उदास नेतन्याहू प्रेस से मुखाबित हुए. साथ में थीं बुझे हुए चेहरे के साथ सारा. नेतन्याहू ने कहा कि उन्हें फंसाया गया है, सियासी तौर पर उन्हें खत्म करने की चाल है ये. वो ऐसे हैं नहीं. आइंदा वो कोशिश करेंगे कि ऐसी स्थिति कभी नहीं आए. उन्हें अबकी बार माफ कर दिया जाए. हालांकि इसका सियासी नुकसान ये हुआ कि वो चुनाव हार गए लेकिन दोबारा फिर मजबूती के साथ प्रधानमंत्री की गद्दी पर लौटे. उन्हें इजराइल के अब तक के सबसे दमदार प्रधानमंत्रियों में भी गिना जाता है लेकिन पिछले कुछ बरसों में उन पर भ्रष्टाचार के ना जाने कितने आरोप लगे है. कुछ की जांच भी चल रही है. इस बार के चुनावों में उनकी पार्टी का प्रदर्शन वैसा नहीं रहा.