जानिए किम जोंग के प्राइवेट आईलैंड और आलीशान महलों के बारे में

किम जोंग उन की शानो शौकत को दिखाती उसके आलीशान महल की तस्वीरें, नॉर्थ कोरिया के आलीशान होटलों की तस्वीरें, आसमान को भेदने वाले फाइटर जेट प्लेन की तस्वीरें. ये सारी तस्वीरें नॉर्थ कोरिया और उसके तानाशाह किम जोंग उन की ताकत का खुला प्रदर्शन करती है.

News18Hindi
Updated: July 30, 2019, 10:40 PM IST
जानिए किम जोंग के प्राइवेट आईलैंड और आलीशान महलों के बारे में
किम जोंग की आलीशान दुनिया
News18Hindi
Updated: July 30, 2019, 10:40 PM IST
उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन के कई किस्से आपने सुन रखे हैं. पूरी दुनिया में उसके सनक और शौक के एक से बढ़कर एक कहानियां हैं. उनमें कितनी सच्चाई है, इसके बारे में पुख्ता तौर पर तो कुछ नहीं कहा जा सकता है, लेकिन जो आंखों के सामने है, उससे इनकार भी नहीं किया जा सकता.

मसलन किम जोंग उन की शानो शौकत को दिखाती उसके आलीशान महल की तस्वीरें, नॉर्थ कोरिया के आलीशान होटलों की तस्वीरें, आसमान को भेदने वाले फाइटर जेट प्लेन की तस्वीरें. ये सारी तस्वीरें नॉर्थ कोरिया और उसके तानाशाह किम जोंग उन की ताकत का खुला प्रदर्शन करती है. आइए आपको उन्हीं में से कुछ ऐसी चीजों के बारे मे बताते हैं, जो नॉर्थ कोरिया और किम जोंग उन की धाक दिखाती हैं.

आलीशान कुमसुसान पैलेस
नॉर्थ कोरिया के आलीशान और शानदार चीजों में से एक है, उसकी राजधानी प्योंगयांग में बना राजमहल. प्योंगयांग के उत्तरपूर्वी छोर पर बना है आलीशान कुमसुसान पैलेस. इसे उत्तर कोरिया के संस्थापक माने जाने वाले किम इल सुंग का मकबरा भी कहा जाता है. दुनिया में किसी कम्युनिस्ट नेता को समर्पित यह सबसे बड़ा महल है.

luxury world of north korea kim jong un private island to palace hotel
आलीशान कुमसुसान पैलेस


इसे 1976 में बनाया गया था. किम इल सुंग के वक्त में ये उनका ऑफिस हुआ करता था. 1994 में उनकी मौत के बाद उनके शव को कोरिया रीति रिवाज के मुताबिक यहीं शीशे के जार में रखा गया है. 1994 में इसका रिनोवेशन हुआ था. बताया जाता है कि इसमें 900 मिलियन डॉलर से भी ज्यादा खर्च किए गए थे.

गिनीज बुक में दर्ज है इस होटल का नाम
Loading...

नॉर्थ कोरिया के आलीशान होटलों में से एक है रियुगयोंग होटल. ये दुनिया के सबसे बड़े होटलों में से एक है. इसमें कुल 105 मंजिलें हैं. पिरामिड की शक्ल में बने इस होटल की ऊंचाई करीब 330 मीटर है. इसका निर्माण 1987 में शुरू हुआ था. उस वक्त किम इल सुंग का राज था.

luxury world of north korea kim jong un private island to palace hotel
गिनीज बुक में दर्ज है इस होटल का नाम


1992 में जब रूस में आर्थिक संकट खड़ा हुआ तो इसके निर्माण का काम रोक दिया गया. 2008 में इसका कंस्ट्रक्शन फिर से शुरू हुआ. 2011 में इसकी बाहरी साज सज्जा पूरी हो गई. 2012 में इसे खोलने का प्लान था लेकिन ये पूरी तरह से बनकर तैयार नहीं हो सका. ये अब तक अधूरा है. गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में इसका नाम सबसे ऊंची खाली बिल्डिंग के तौर पर दर्ज है.

मौज मस्ती के लिए किम के पास है प्राइवेट आइलैंड
किम जोंग उन के पास प्राइवेट आईलैंड है. द सन की एक रिपोर्ट में उसके आईलैंड की गूगल अर्थ इमेज जारी की गई थी. देश के तटीय इलाके के इस द्वीप में वो अपने खास मेहमानों को ठहराता है. इसमें अमेरिका के कई सेलिब्रिटीज का नाम शामिल है. बताया जाता है कि यहां मौज मस्ती का सारा इंतजाम होता है. यहां पर एक आलीशान महल, प्राइवेट एयरस्ट्रीप, रेलवे र स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स है.

luxury world of north korea kim jong un private island to palace hotel
प्राइवेट आइलैंड की गूगल अर्थ इमेज


नॉर्थ के पास दुनिया के बेहतरीन स्की रिजॉर्ट
नॉर्थ कोरिया में किम के आदेश के बाद समुद्र तल से 1360 की ऊंचाई पर स्की रिजॉर्ट बनाया गया है. यहां हजारों की तादाद में सैलानी आते हैं. यहां एक आलीशान होटल भी है. इसमें 120 कमरे हैं. यहां आने वाले सैलानियों पर नॉर्थ कोरिया की सेना सख्त नजर रखती है.

luxury world of north korea kim jong un private island to palace hotel
बेहतरीन स्की रिजॉर्ट


किम के पास है शानदार लग्जरी कारें
किम जोंग उन के पास दुनिया की कुछ बेहतरीन कारें हैं. अमेरिकी प्रतिबंध के बावजूद उसके पास मर्सिडीज और लिमोजिन जैसे महंगी और आलीशान गाड़ियां पहुंच जाती हैं. पिछले दिनों इस बारे में एक रिपोर्ट जारी हुई थी कि प्रतिबंध के बावजूद किम के पास लग्जरी गाड़ियां कैसे पहुंच रही हैं. कहा जाता है कि 2014 में किम जोंग उन ने जमकर कारें खरीदी. करीब 1.6 करोड़ डॉलर उसने सिर्फ कारें खरीदने पर ही खर्च कर डाले.

luxury world of north korea kim jong un private island to palace hotel
किम के पास हैं लग्जरी कारें


ये भी पढ़ें: इन देशों में आ गई मंदी, क्या हमारे यहां भी जाएंगी बड़े पैमाने पर नौकरियां
First published: July 30, 2019, 5:03 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...