कौन हैं मैकेंजी स्कॉट, जो कोरोना काल में बनीं दुनिया की सबसे बड़ी दानवीर

दुनिया की तीसरी सबसे अमीर महिला मैकेंजी स्कॉट (Photo- AP)

दुनिया की तीसरी सबसे अमीर महिला मैकेंजी स्कॉट (MacKenzie Scott) इस साल 30,100 हजार करोड़ रुपए दान कर चुकी हैं और कह चुकी हैं कि ये काम सालों तक चलने वाला है.

  • Share this:
    कोरोना-काल में कई ऐसी खबरें आ रही हैं, जो इंसानियत पर यकीन बढ़ा दें. ऐसी ही एक खबर अमेजॉन वेबसाइट के फाउंटर जेफ बेजोस (Jeff Bezos) की पूर्व पत्नी मैकेंजी स्कॉट (MacKenzie Scott) को लेकर आई है. उन्होंने कोरोना को देखते हुए लगभग चार महीने के भीतर 30,100 हजार करोड़ रुपये दान कर दिए. इसके बाद भी ये महिला रुकी नहीं, बल्कि अपनी टीम से सही लोगों तक पैसे पहुंचाने के और तरीके खोजने को कहा.

    50 साल की मैकेंजी स्कॉट दुनिया की सबसे अमीर शख्सियतों की लिस्ट में 18वें पायदान पर हैं. वहीं फोर्ब्स पत्रिका के मुताबिक मैकेंजी दुनिया की तीसरी अमीर महिला हैं. इससे पहले लॉरियल और वॉलमार्ट कंपनियों की मालकिनें हैं.

    मैकेंजी वही महिला हैं, जिसने 25 साल पुरानी अपनी शादी पति जेफ से मिले धोखे के बाद भारी मन से तोड़ दी थी. ये पिछले साल की बात है. तब तलाक के बाद मैकेंजी को मिलने वाली रकम पर खूब चर्चा हुई थी. बात दें कि जेफ और मैकेंजी का तलाक दुनिया का सबसे महंगा तलाक साबित हुआ, जिसमें मैकेंजी को 38 बिलियन डॉलर की गुजारा-भत्ता के तौर पर मिली.

    MacKenzie Scott
    अमेजॉन वेबसाइट के फाउंटर जेफ बोजेस र उनकी पूर्व पत्नी मैकेंजी स्कॉट, बच्चों के साथ


    तलाक के एग्रीमेंट के मुताबिक मैकेंजी को अमेजॉन के लगभग 19.7 मिलियन शेयर मिले. तभी ही बेहद कुशल पायलेट रह चुकी इस महिला ने कहा था कि वो समय आने पर अपनी आधी से भी ज्यादा रकम दान करने से नहीं झिझकेगी. ये बात उन्होंने साबित भी कर दी. वोग की एक रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने दान के लिए अमेरिका के सभी 50 राज्यों के अलग-अलग विभागों की लिस्ट बनाई और दान शुरू कर दिया.

    ये भी पढ़ें: Explained: कैसा दिखता है Coronavirus का नया रूप और कितना घातक है? जानिए सबकुछ

    करोड़ों की डोनेशन स्कूल-कॉलेजों को मिली. मैकेंजी ने नामी-गिरामी यूनिवर्सिटीज की बजाए उन्हें चुना, जिनको कोरोना के कारण सचमुच नुकसान हुआ. इस तरह से वे क्रिसमस से पहले सीक्रेट सांता की तरह सामने आईं. इसके लिए मैकेंजी ने जुलाई 2020 में ही काम शुरू कर दिया था और एक-एक स्कूल-कॉलेज के बारे में वे सारी डिटेल खुद लेतीं, इसके बाद डोनेट करतीं.

    MacKenzie Scott
    मैकेंजी दुनिया की सबसे बड़ी दानी बन चुकी हैं (Photo-CNBC)


    माना जा रहा है कि बीते कुछ महीनों के भीतर मैकेंजी ने 6 बिलियन डॉलर (4,43,12,76,00,000 रुपए) की राशि दान कर दी. एक्सपर्ट्स का मानना है कि ये धन आज तक के इतिहास में किसी जीवित व्यक्ति द्वारा एक साल में किया गया सबसे बड़ा दान है. वैसे पिछले साल भी मैकेंजी स्कॉट ने करीब सात हजार करोड़ रुपये दान में दिए थे. दिलचस्प बात ये है कि इतनी बड़ी धनराशि दान करने के बाद भी मैकेंजी की कुल संपत्ति इस साल 1.73 लाख करोड़ रुपये से बढ़कर 4.46 लाख करोड़ रुपये हो गई. इसके पीछे ये वजह है कि लॉकडाउन के कारण ऑनलाइन खरीदी-बिक्री तेजी से बढ़ी और इस बढ़ी हुई धनराशि को इस दानी महिला ने भरपूर दान दिया.

    ये भी पढ़ें: कौन हैं अयोध्या में बनने वाली मस्जिद के आर्किटेक्ट प्रोफेसर अख्तर? 

    एक तरफ मैकेंजी दुनिया की सबसे बड़ी दानी बन चुकी हैं, तो दूसरी ओर उनके पूर्व पति जेफ एकदम अलग हैं. लगभग 56 साल के जेफ ने बीते सालों में दुनिया के कई कोनों में आलीशान प्रॉपर्टी खरीदी और दान के नाम पर कुछ भी नहीं किया, उल्टे अमेजॉन से खबरें आती रहीं है कि वहां कर्मचारी ज्यादा काम के बदले कम पगार पाते हैं.

    MacKenzie Scott
    बड़े से बड़ा दान देने में नहीं झिझकने वाली मैकेंजी अच्छी लेखिका भी हैं


    ये भी जान लेते हैं कि दो एकदम विपरीत स्वभाव वाले ये दो लोग मिले कैसे और फिर मैकेंजी के जीवन में क्या बदला था. साल 1992 में जेफ और मैकेंजी की मुलाकात हुई और सालभर के भीतर दोनों ने शादी कर ली. साल 1994 में दोनों ने मिलकर अमेजॉन की नींव रखी, तब ये ऑनलाइन किताबें बेचने का काम करता था. इसके बाद से काम चल निकला और अब अमेजॉन दुनिया के कोने-कोने में है.

    ये भी पढ़ें: क्या चंद्रमा से China अपने साथ एलियन वायरस लेकर आया है?  

    जरूरतमंद को बड़े से बड़ा दान देने में नहीं झिझकने वाली मैकेंजी अच्छी लेखिका भी हैं. उन्होंने The Testing of Luther Albright और Traps नाम से दो उपन्यास लिखे हैं. साल 2013 में वोग को दिए एक इंटरव्यू में मैकेंजी ने बताया कि पहला उपन्यास लिखने में उन्हें 10 साल लगे और इस दौरान वे काफी भावुक भी रहीं.

    ये भी पढ़ें: Explained: क्यों महिलाओं को नौकरी पर रखने के कारण पेरिस पर लगा जुर्माना? 

    पति जेफ के अपनी ही कंपनी की एक कर्मचारी लॉरेन सांचेज से रोमांस की खबरें आने के बाद भी मैकेंजी खामोश रहीं. मीडिया में जब जेफ और लॉरेन का नाम उड़ रहा था, तब भी उन्होंने कोई तमाशा नहीं किया, बल्कि बेहद चुपचाप तलाक की अर्जी डाल दी और तलाक ले लिया. इसके बाद उन्होंने ट्विटर पर एक काफी संवेदनशील पोस्ट लिखी, जो उनके स्वभाव से मेल खाती है. बिना शोर-शराबे और दिखावे के मैकेंजी ने जेफ से अलगाव किया और उसके बाद से सोशल वेलफेयर में लगी हुई हैं.