लाइव टीवी

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019: 21 अक्टूबर को होगा चुनाव, जानें पूरा समीकरण

News18Hindi
Updated: September 21, 2019, 12:29 PM IST
महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019: 21 अक्टूबर को होगा चुनाव, जानें पूरा समीकरण
महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना के बीच सीट शेयरिंग का मसला अब तक नहीं सुलझा है

महाराष्ट्र (Maharashtra) में बीजेपी-शिवसेना (BJP-Shivsena) मिलकर सरकार चला रही है. लेकिन दोनों पार्टियां मिलकर चुनाव लड़ेंगी या अलग-अलग, इस बारे में कुछ साफ नहीं हो पाया है. उधर कांग्रेस-एनसीपी (Congress-NCP) ने सीट शेयरिंग का फॉर्मूला निकाल लिया है...

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 21, 2019, 12:29 PM IST
  • Share this:
महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019 (Maharashtra Assembly Election 2019) की तारीखों का ऐलान हो चुका है. महाराष्ट्र के साथ हरियाणा (Haryana) में 21 अक्टूबर को चुनाव होंगे. चुनाव के नतीजे 24 अक्टूबर को आएंगे. चुनाव आयोग (Election Commission) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी जानकारी दी है. महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना (BJP-Shivsena) की सरकार है. हालांकि दोनों पार्टियां इस चुनाव में गठबंधन कर लडेंगी या नहीं इस पर कुछ साफ नहीं हो पाया है. शिवसेना और बीजेपी के बीच सीट बंटवारे का मसला अटका पड़ा है.

महाराष्ट्र में किस पार्टी में कितना दम?

महाराष्ट्र में बीजेपी मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस का चेहरा आगे कर चुनाव लड़ने की तैयारी कर रही है. बीजेपी-शिवसेना के साथ मिलकर सरकार चला रही है. लेकिन चुनाव में वो साथ उतरेंगे या नहीं इस पर संदेह बना हुआ है. सीट बंटवारे का मसला अब तक नहीं सुलझा है.

महाराष्ट्र में विधानसभा की 288 सीटें हैं. शिवसेना चाहती है कि उसे कम से कम आधी सीटें मिलें. शिवसेना के फॉर्मूले के मुताबिक दोनों पार्टियां 135-135 सीटों पर चुनाव लड़ें और 18 सीटें सहयोगियों के लिए छोड़ दी जाएं. हालांकि बीजेपी, शिवसेना को 100-110 सीटों से ज्यादा देने को तैयार नहीं दिख रही है.

2014 का चुनाव बीजेपी-शिवसेना ने अलग होकर लड़ा था. चुनावों से ठीक पहले बीजेपी-शिवसेना का 25 साल पुराना रिश्ता टूट गया था. हालांकि चुनाव के बाद दोनों पार्टियां फिर मिल गई और महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना की गठबंधन सरकार बनी और देवेंद्र फड़णवीस मुख्यमंत्री बनाए गए. बीजेपी इस बार 220 प्लस सीटों का टारगेट लेकर चल रही है.

कांग्रेस-एनसीपी साथ मिलकर लगाएगी जोर

कांग्रेस और एनसीपी भी महाराष्ट्र की सत्ता में वापसी का जोर लगा रही है. दोनों पार्टियां गठबंधन कर चुनाव में उतर रही हैं. सीट शेयरिंग का फॉर्मूला भी तय हो गया है. कांग्रेस और एनसीपी 125-125 सीटों पर चुनाव लड़ने जा रही है जबकि 38 सीटें सहयोगियों के लिए छोड़ी गई हैं.
Loading...

maharashtra assembly election 2019 ec announces dates bjp shivsena congress ncp
2014 में बीजेपी-शिवसेना अलग होकर चुनाव लड़ी थी


महाराष्ट्र में प्रकाश आंबेडकर की बहुजन अघाड़ी भी चुनाव मैदान में है. इन्हें अपने दलित वोटबैंक पर भरोसा है. वहीं असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM भी मुस्लिम बहुल सीटों पर अपनी ताकत आजमाएगी. बीएसपी ने भी महाराष्ट्र चुनाव में उतरने का ऐलान किया है. मायावती की पार्टी सभी सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी. इन पार्टियों के उम्मीदवार की वजह से कांग्रेस-एनसीपी गठबंधन को नुकसान उठाना पड़ सकता है.

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव का अंकगणित

महाराष्ट्र में विधानसभा की कुल 288 सीटें हैं. 2014 के विधानसभा चुनाव में सभी बड़ी पार्टियों ने अलग होकर चुनाव लड़ा था. चुनाव के ऐन पहले बीजेपी शिवसेना का रिश्ता टूट गया था और दोनों पार्टियां अलग-अलग होकर चुनाव लड़ी थी. इसी तरह से सीट बंटवारे के मसले पर कांग्रेस और एनसीपी में समझौता नहीं हो पाया था और दोनों पार्टियां अलग होकर चुनाव लड़ी थी.

maharashtra assembly election 2019 ec announces dates bjp shivsena congress ncp
इस बार कांग्रेस-एनसीपी के बीच समझौता हो चुका है


2014 के चुनाव नतीजों में बीजेपी को सबसे ज्यादा 122 सीटें मिली थीं. बीजेपी का वोट शेयर 27.8 फीसदी रहा था. वहीं शिवसेना ने 63 सीटों पर जीत हासिल की थी. शिवसेना का वोट शेयर 19.3 फीसदी रहा था. कांग्रेस ने 18 फीसदी वोटशेयर के साथ 42 सीटों पर जीत दर्ज की थी. वहीं एनसीपी 17.2 फीसदी वोटशेयर के साथ 41 सीटें जीतने में कामयाब रही थी.

इसके अलावा प्रकाश आंबेडकर की बहुजन अघाड़ी पार्टी को 3 सीटें, पीडब्ल्यूआई को 3 सीटें और ओवैसी की पार्टी AIMIM को 2 सीटें मिली थीं. निर्दलीय उम्मीदवार 7 सीटें जीतने में कामयाब रहे थे. वहीं समाजवादी पार्टी ने भी एक सीट पर जीत हासिल की थी.

ये भी पढ़ें: पीएम मोदी अमेरिका रवाना, जानें कैसी है Howdy Modi प्रोग्राम की तैयारी

क्यों सुर्खियों में आई 16 साल की ये लड़की, ओबामा-ट्रंप तक इसके सामने फेल

मॉब लिंचिंग पर केंद्र सरकार क्यों नहीं बनाती कड़ा कानून?

क्या महाराष्ट्र में बीजेपी-शिवसेना फिर अलग होकर लड़ेंगे चुनाव?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नॉलेज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 21, 2019, 11:31 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...