लाइव टीवी

चीन के भी हौसले पस्त करेगा भारतीय नौसेना का ‘रोमियो’, जानें किन खूबियों से है लैस

News18Hindi
Updated: February 20, 2020, 5:06 PM IST
चीन के भी हौसले पस्त करेगा भारतीय नौसेना का ‘रोमियो’, जानें किन खूबियों से है लैस
मल्टीरोल MH-60 रोमियो हेलीकॉप्टर मिलने के बाद इंडियन नेवी की ताकत कई गुना बढ़ जाएगी.

भारत के लिए ये डिफेंस डील बहुत महत्वपूर्ण है. मल्टीरोल MH-60 रोमियो हेलीकॉप्टर मिलने के बाद इंडियन नेवी की ताकत कई गुना बढ़ जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 20, 2020, 5:06 PM IST
  • Share this:
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के भारत दौरे से ठीक पहले दोनों देशों के बीच एक बड़ी डिफेंस डील (Defence Deal) हुई है. भारत सरकार ने अमेरिका से 24 MH-60 रोमियो हेलीकॉप्टर खरीदने की डील को मंजूरी दे दी है. ये करीब 2.5 बिलियन डॉलर की डील है. इसके पहले कहा जा रहा था कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे में किसी तरह की डील होने की संभावना कम ही है. लेकिन दौरे से ठीक पहले एक बड़ी डिफेंस डील पर मुहर लग गई है.

भारत के लिए ये डिफेंस डील बहुत महत्वपूर्ण है. मल्टीरोल MH-60 रोमियो हेलीकॉप्टर मिलने के बाद इंडियन नेवी की ताकत कई गुना बढ़ जाएगी. भारत के मॉर्डन नेवल फ्लीट में ये बड़ी भूमिका निभाएगा. पिछले एक दशक से जिस तरह के नेवल ऑपरेशन की भारतीय नौसेना तैयारी कर रही थी, वो अब MH-60 रोमियो हेलीकॉप्टर के मिलने पर मुमकिन होगी.

ये हेलीकॉप्टर भारतीय नौसेना की आंख, नाक, कान और लंबे हाथ का काम करेगा. भारत के दुश्मनों के लिए ये सबसे खतरनाक हथियार साबित होने वाला है.

किन खूबियों से लैस है MH-60 रोमियो हेलीकॉप्टर



MH-60 रोमियो हेलीकॉप्टर भारतीय नौसेना की असली ताकत बनने वाला है. दुश्मन के सबमरीन को खत्म करने और समंदर के अंदर उनकी खोज में इस हेलीकॉप्टर को महारत हासिल है. इसकी सबसे बड़ी खासियत यही है कि समंदर के भीतर ये दुश्मन की सबमरीन की हलचल को पलक झपकते ही भांप लेता है और उनपर खतरनाक तरीके से अटैक करता है.

हेलीकॉप्टर एंटी सरफेस और एंटी सबमरीन वारफेयर से लैस है. ये जमीन और समंदर के भीतर दोनों जगहों पर मार कर सकता है. ये समंदर के भीतर सबमरीन की खोजने और किसी तरह के रेस्क्यू ऑपरेशन में बड़े काम का साबित हो सकता है. खासकर भारतीय समुद्री क्षेत्र में चीन की पैठ को इस हेलीकॉप्टर के जरिए माकूल जवाब दिया जा सकता है. चीन के खिलाफ हमारी नौसेना की क्षमता पहले के मुकाबले काफी बढ़ जाएगी

रोमियो सीहॉक हेलीकॉप्टर के पास एडवांस्ड कॉम्बैट सिस्टम है. ये नई टेक्नोलॉजी वाले सेंसर, मिसाइल और टॉरपीडो से लैस है. दुश्मन के सबमरीन को ढूंढ़ निकालने और उसे खत्म करने में ये हेलीकॉप्टर काफी मददगार साबित होगा.

एडवांस्ड टेक्नोलॉजी से लैस है MH-60 रोमियो हेलीकॉप्टर
इस हेलीकॉप्टर में ऐसे सेंसर और राडार लगे हैं, जो गहरे समंदर में भी दुश्मन की सबमरीन को पकड़ लेती है. सोनोबॉय लॉन्चर और रेथॉन एडवांस्ड एयरबॉर्न लो फ्रीक्वेंसी डिप्पिंग सोनार टेक्नोलॉजी के जरिए ये कितनी भी गहराई में सबमरीन को पकड़ सकती है.

ये हेलीकॉप्टर कई तरह के हथियारों से लैस है. इसमें हेलफायर मिसाइल, MK 54 टॉरपीडो जैसे घातक हथियार शामिल हैं. ये AGM-114 हेलफायर जैसे एंटी सरफेस मिसाइल से लैस है. ये ATK mk50, mk46 लाइटवेट टॉरपीडो के साथ 7.62 एमएम की मशीनगन से लैस है. इन हथियारों के जरिए पलक झपकते ही दुश्मन का सफाया हो सकता है.

बताया जा रहा है कि एक MH-60 रोमियो हेलीकॉप्टर की कीमत 28 मिलियन डॉलर है. इसे लॉकहीड मार्टिन जैसी मशहूर कंपनी ने बनाया है.

ये भी पढ़ें:

गुलशन कुमार पर बंदूक तानकर बोला था हत्यारा- बहुत हुई पूजा, अब ऊपर जाकर करना!
चीन ने भी छोड़ा पाकिस्तान का साथ, नहीं सुधरा तो होगा ब्लैक लिस्ट
मगध काल से जुड़ा है लिट्टी-चोखा का इतिहास, जानें वक्त के साथ कैसे बदलता गया स्वाद
क्या है कम्बाला रेस, जहां बार-बार टूट रहे हैं यूसेन बोल्ट के रिकॉर्ड
भारत के इन इलाकों को हिट कर सकती है पाकिस्तानी क्रूज मिसाइल, जानें कितनी ताकतवर है राड-2

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नॉलेज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 20, 2020, 4:23 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर