एवरेस्ट से स्काई डाइविंग, नॉर्थ-साउथ पोल की यात्रा- ISRO की तारीफ करने वाली पाकिस्तानी एस्ट्रोनॉट नमीरा सलीम के नाम हैं कई कीर्तिमान

News18Hindi
Updated: September 12, 2019, 3:31 PM IST
एवरेस्ट से स्काई डाइविंग, नॉर्थ-साउथ पोल की यात्रा- ISRO की तारीफ करने वाली पाकिस्तानी एस्ट्रोनॉट नमीरा सलीम के नाम हैं कई कीर्तिमान
पाकिस्तान की पहली एस्ट्रोनॉट नमीरा सलीम

पाकिस्तान (Pakistan) की पहली एस्ट्रोनॉट (astronaut) नमीरा सलीम (Namira Salim) इसरो (ISRO) और उसके चंद्रयान 2 (Chandrayaan 2) की तारीफ करके दुनिया की नजरों में आ चुकी हैं. जानिए कौन हैं नमीरा सलीम...

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 12, 2019, 3:31 PM IST
  • Share this:
पाकिस्तान (Pakistan) की पहली अंतरिक्षयात्री (astronaut) नमीरा सलीम (Namira salim) ने इसरो (ISRO) के मिशन चंद्रयान 2 (Chandrayaan 2) की तारीफ की. नमीरा सलीम ने कहा, ‘मैं चंद्रयान 2 के लैंडर विक्रम के चांद के साउथ पोल में सॉफ्ट लैंडिंग की एतिहासिक कोशिश के लिए इसरो और भारत को बधाई देती हूं.’ पाकिस्तानी एस्ट्रोनॉट नमीरा सलीम ने कहा कि मिशन चंद्रयान 2 दक्षिण एशिया के लिए अंतरिक्ष में लंबी छलांग है. ये पूरी ग्लोबल स्पेस इंडस्ट्री के लिए गर्व का विषय है. नमीरा सलीम इसरो की तारीफ करके पूरी दुनिया की नजरों में आ गईं.

एकतरफ जहां पाकिस्तान के कुछ नेता इसरो और चंद्रयान 2 पर तंज कस रहे थे. वहीं पाकिस्तान की पहली अंतरिक्षयात्री का इसरो और चंद्रयान 2 की खुले दिल से तारीफ करना सबको पसंद आया. एक एस्ट्रोनॉट के तौर पर नमीरा सलीम ने बिल्कुल प्रैक्टिकल बात कही. उनके इस बयान के बाद भारत में कई लोगों में नमीरा सलीम को लेकर खासी उत्सुकता दिखी.

नमीरा सलीम पाकिस्तान की पहली एस्ट्रोनॉट हैं. वो सर रिचर्ड ब्रैनसन वर्जिन गैलेक्टिक स्पेसलाइन के साथ अंतरिक्ष की सैर पर जाएंगी. सर रिचर्ड ब्रैनसन वर्जिन गैलेक्टिक दुनिया की पहली कमर्शियल स्पेसलाइन है. नमीरा पाकिस्तान की पहली अंतरिक्षयात्री होने के साथ सर रिचर्ड ब्रैनसन वर्जिन गैलेक्टिक स्पेसलाइन की फाउंडर एस्ट्रोनॉट भी हैं.

namira salim know all about pakistan first astronaut who congratulated isro and chandrayaan 2 mission
पहले कमर्शियल स्पेसलाइन से अंतरिक्ष की सैर पर जाएंगी नमीरा


नमीरा सलीम के नाम हैं कई कीर्तिमान
नमीरा सलीम पहली पाकिस्तानी के साथ-साथ पहली ऐसी महिला हैं, जिन्होंने अप्रैल 2007 में मोनैको (यूरोप का एक देश) से नॉर्थ पोल की यात्रा पूरी की. उन्होंने जनवरी 2008 में साउथ पोल की यात्रा का भी कीर्तिमान बनाया. वो पहली एशियन हैं, जिन्होंने माउंट एवरेस्ट से अक्टूबर 2008 में स्काई डाइव किया.

नमीरा सलीम का जन्म पाकिस्तान के कराची में हुआ. हालांकि 1997 से वो सैद्धांतिक रूप से मोनाको की निवासी रही हैं. उन्होंने कोलंबिया यूनिवर्सिटी से इंटरनेशनल अफेयर्स में मास्टर्स की डिग्री हासिल की है. उसके बाद उन्होंने मोनाको और पाकिस्तान के बीच कूटनीतिक संबंध बनाने की कोशिशें की थीं. उनकी कोशिशों के चलते ही मोनाको के प्रिंस ने 2011 में नमीरा को मोनाको में पाकिस्तान के पहले मानद राजदूत या राजनयिक के रूप में मान्यता दी थी. नमीरा के प्रयासों की वजह से ही 2012 में मोनाको में पाकिस्तान का पहला वाणिज्य दूतावास खुला.
Loading...

namira salim know all about pakistan first astronaut who congratulated isro and chandrayaan 2 mission
नमीरा के नाम दर्ज हैं कई कीर्तिमान


बचपन से ही अंतरिक्ष की सैर के देखा करती थीं सपने
पाकिस्तान के मीडिया समूह डॉन ने नमीरा का एक इंटरव्यू प्रकाशित किया था. इसमें उन्होंने बताया था कि बचपन में जब उनके पिता उन्हें आसमान में तारे दिखाया करते थे, तबसे उनके मन में इच्छा थी कि एक दिन वह उन सितारों की दुनिया में पहुंचे. अपने स्पेस मिशन को लेकर उत्साहित नमीरा ने कहा कि ये बचपन के सपने का पूरा होना है.

नमीरा स्पेसट्रस्ट के नाम के एक गैरलाभकारी संस्था (एनजीओ) बना चुकी हैं. नमीरा का मानना है कि स्पेस टूरिज़्म और स्पेस डिप्लोमेसी के चलते दुनिया में शांति को लेकर बड़े और कारगर कदम उठाए जा सकते हैं.

namira salim know all about pakistan first astronaut who congratulated isro and chandrayaan 2 mission
मोनाको और दुबई की भी पहली अंतरिक्षयात्री बन जाएंगी नमीरा


मोनैको और दुबई की भी पहली अंतरिक्षयात्री
सर रिचर्ड ब्रैनसन की कंपनी वर्जिन गैलेक्टिक की कमर्शियल स्पेस लाइनर के साथ नमीरा शुरुआत से ही जुड़ गई थीं. कंपनी ने अंतरिक्ष में पहला मानवयुक्त कमर्शियल यान भेजने का प्रोजेक्ट तैयार किया तो 2005 में 44 हज़ार लोगों के बीच में से जो 100 लोग अंतरिक्ष पर्यटक के तौर पर चुने गए, उनमें नमीरा भी शामिल हैं. अगले साल इस फ्लाइट को अंतरिक्ष रवाना किया जाना तय है और नमीरा इस फ्लाइट में उड़ान भरते ही पाकिस्तान ही नहीं बल्कि मोनाको और दुबई की भी पहली अंतरिक्ष यात्री बन जाएंगी.

वर्जिन गैलेक्टिक मिशन में शामिल होने के बाद 2007 में नमीरा ने यूएस के NASTAR से सबऑर्बिटल स्पेसफ्लाइट की ट्रेनिंग ली और क्वालिफाई किया. 2008 में नमीरा ने ये सर्टिफिकेट तत्कालीन राष्ट्रपति परवेज़ मुशर्रफ के सामने प्रस्तुत किया था. पाकिस्तान ने नमीरा को इस उपलब्धि के लिए सम्मानित भी किया और इसके पहले ही पाकिस्तान के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने नमीरा को 'पहला पाकिस्तानी एस्ट्रोनॉट' घोषित कर दिया था. हालांकि नमीरा स्पेस ट्रैवलर होंगी, एस्ट्रोनॉट नहीं.



ये भी पढ़ें: भीड़, हंगामा और बहस से भी जा सकती है जान- रिसर्च

अंतरिक्ष में ये लैंडर भी हुआ था गायब, फिर मिला 11 साल बाद

चांद की सतह छूना सबसे मुश्किल, लैंडिंग में ही क्यों फेल होते हैं मून मिशन?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नॉलेज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 10, 2019, 12:06 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...