चीन की वो अजीबोगरीब रस्म, जिसमें शादी के दौरान दी जाती है सेक्स एजुकेशन

चीन में शादी की रस्म के बहाने  महिलाओं के साथ यौन हिंसा होती है- सांकेतिक फोटो (Photo- pixabay)
चीन में शादी की रस्म के बहाने महिलाओं के साथ यौन हिंसा होती है- सांकेतिक फोटो (Photo- pixabay)

दुल्हन और उसकी सहेलियों में नावहुन रस्म (Naohun tradition in China) का खौफ इतना बढ़ गया है कि अब बहुत-सी जागरुक चीनी युवतियां इसे रोकने के लिए कान्ट्रैक्ट करवाने लगी हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 23, 2020, 10:43 AM IST
  • Share this:
दुनिया के कई देशों की तरह चीन में भी महिलाओं के साथ हिंसा (violence against women in China) गंभीर समस्या है. हालांकि हिंसा के यहां कई रूप हैं. इन्हीं में से एक तरीका है शादी के दौरान दुल्हन या दुल्हन की हमउम्र लड़कियों के साथ छेड़छाड़ करते हुए लोकगीत गाना. इस छेड़छाड़ को बाकायदा एक परंपरा का रूप दिया गया है. नावहुन (Naohun) नाम की इस रस्म में दुल्हन को लेकर अजीबोगरीब गाने गाना और उसे जबर्दस्ती शराब पिलाने जैसी बातें शामिल हैं. जानिए, सुपर पावर के सपने देख रहे चीन में क्या हैं महिलाओं के हालात.

चीन में महिलाओं के साथ यौन हिंसा का अंदाजा इस बात से लग सकता है कि वहां 40 प्रतिशत शादीशुदा या रिश्ते में आ चुकी महिलाएं यौन हिंसा और मारपीट का शिकार होती हैं. खुद ऑल चाइना वीमन्स फेडरेशन (All-China Women's federation) ने इस बात की पड़ताल की. ये बात और है कि यहां महिलाओं के साथ यौन हिंसा के तरीके अलग भी हो जाते हैं.

ये भी पढ़ें: क्या वजह है जो जल्दी लॉकडाउन के बाद भी देश बना कोरोना का हॉटस्पॉट? 




शादी से दौरान होने वाली नावहुन रस्म को भी इसी श्रेणी में रखा जा सकता है. इसमें गीतों के जरिए दुल्हन से मजाक किया जाता है. ऐसे ही एक गीत में दुल्हे को संबोधित करते हुए कहा जाता है- पहले उसके हाथों को देखो, दूसरी नजर में पैरों को निहारो, तब कहीं जाकर उसकी कमर को नजरभर देख सकोगे. अगर वो राजी न हो तो...!

मेहमान दुल्हा और दुल्हन को सेक्सुअल गेम तक खेलने को बाध्य करते हैं- सांकेतिक फोटो (Photo- pixabay)


शादी में शामिल मेहमान लोकगीतों तक ही बस नहीं करते, बल्कि आगे भी चले जाते हैं. जैसे चीन की सोशल साइट weibo के हवाले से लाइफ पर्सोना.काम में बताया गया है कि आजकल मेहमान दुल्हा और दुल्हन को सेक्सुअल गेम तक खेलने को बाध्य करते हैं. अगर कोई राजी न हो तो उसका सबसे सामने मजाक बनाया जाता है. ऐसे में शादी का माहौल खराब न करने के लिए लोग खेलने को राजी हो ही जाते हैं. इस दौरान आपस में भद्दी बातें की जाती हैं, जिसे मेहमान देखते हैं.

ये भी पढ़ें: क्या मालदीव का 'इंडिया आउट कैंपेन' China की कोई चाल है?   

वैसे चीन में ये परंपरा काफी प्राचीन मानी जाती है. शादियों में इसके होने का ज़िक्र हान साम्राज्य (221-207 BC) के दौर से है. उस समय में इस परंपरा के अंतर्गत कई रस्में आती थीं. इसकी वजह ये थी कि तब काफी कम उम्र में शादियां होती थीं और दुल्हा-दुल्हन यौन संबंधों के बारे में कम समझ रखते थे. ऐसे में उन्हें सेक्स एजुकेशन देने के मकसद से नावहुन जैसी परंपरा शुरू की गई. छेड़खानी के माध्यम से वे इन्हें सेक्स एजुकेशन देते थे. साथ ही उन्हें एक-दूसरे के साथ सहज बनाया जाता था.

नावहुन का असल मतलब है- शादी को डिस्टर्ब करना- सांकेतिक फोटो (Photo- needpix)


वर्तमान में इस रस्म के जरिए सेक्स एजुकेशन देने का कोई मकसद नहीं है. लेकिन इस रस्म के दौरान की जाने वाली छेड़खानियां अभी भी बरकरार हैं. बल्कि वक्त के साथ ये परंपरा खराब रूप ले चुकी है, जिसमें दुल्हन और उसकी सहेलियों से अश्लील हरकतें होती हैं. वैसे नावहुन का असल मतलब है- शादी को डिस्टर्ब करना. और इन दिनों यही हो रहा है.

ये भी पढ़ें: पुरानी दुश्मनी भुलाकर मुस्लिम मुल्क क्यों इजरायल से हाथ मिला रहे हैं?    

शादी के दौरान होने वाली छेड़छाड़ कई बार इस हद तक बढ़ जाती है कि नवविवाहित जोड़े साथ होने से पहले ही अलग हो जाते हैं. कई बार इस रस्म के दौरान दुर्घटनाएं भी घट चुकी हैं. जैसे साल 2013 में दुल्हे के दोस्त दुल्हन की सहेली को छूने की कोशिश करने लगे. घबराई हुई दोस्त पूरे फंक्शन में भागी और आखिरकार डर के मारे चौथी मंजिल की बालकली से छलांग लगा दी. उस मामले में अरेस्ट भी हुए लेकिन आगे की कार्रवाई का पता नहीं चला.



ऐसे हादसों के बाद भी चीन की सरकार ने शादी में होने वाले यौन दुर्वयवहार पर कोई एक्शन नहीं लिया है. यही कारण है कि आजकल कई युवतियां शादी से पहले बाकायदा कान्ट्रैक्ट करवा रही हैं कि शादी के दौरान इस तरह की रस्में नहीं होंगी, जिसमें उसे या उसकी दोस्तों को छुआ जाए या जबरन ड्रिंक पिलाई जाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज