• Home
  • »
  • News
  • »
  • knowledge
  • »
  • SpaceX के क्रू ड्रैगन से बहुत खुश है NASA, पर दोनों को इस टेस्ट का है इंतजार

SpaceX के क्रू ड्रैगन से बहुत खुश है NASA, पर दोनों को इस टेस्ट का है इंतजार

स्पेस एक्स के ड्रैगन क्रू कैप्सूल ने प्रपेक्षण और डॉकिंग की परीक्षा तो पास कर ली, लेकिन उससे कठिन इम्तिहान बाकी है.

स्पेस एक्स के ड्रैगन क्रू कैप्सूल ने प्रपेक्षण और डॉकिंग की परीक्षा तो पास कर ली, लेकिन उससे कठिन इम्तिहान बाकी है.

SpaceX के क्रू ड्रैगन कैप्सूल (Crew dragon Capsule) उम्मीद से अच्छा प्रदर्शन कर रहा है, लेकिन उसे और नासा को इसके खास टेस्ट का इंतजार है.

  • Share this:
पिछले महीने NASA के दो अंतरिक्ष यात्रियों को ISS तक पहुंचाया गया. यह एक निजी अंतरिक्ष यान से यात्रियों को अंतरिक्ष में ले जाने की पहली घटना था. स्पेसएक्स (SpaceX) नाम की निजी कंपनी ने यह काम सफलतापूर्वक अपने क्रू ड्रैगन कैप्सूल (Crew Dragon Capsule) से किया जो इस समय इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन (ISS) से जुड़ा है जहां बॉब बेनकेन और डोग हर्ले इस समय काम कर रहे हैं. अब नासा का कहना है कि स्पेसएक्स का यह कैप्सूल उम्मीद से बहुत अच्छा काम कर रहा है.

अब तक उम्मीद से ज्यादा बढ़िया
नासा के कमर्शियल क्रू प्रोग्राम मैनेजर स्टीव स्टिच का कहना है कि यह यान बहुत ही बढ़िया काम कर रहा है. स्पेसडॉटकॉम की खबर के मुताबिक स्टिच का कहना है कि नासा के सोलर ऐरे उम्मीद से कहीं ज्यादा बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं. इसका मतलब है कि कैप्सूल तकनीकी तौर पर 114 दिन और ISS से जुड़ा रह सकता है. बेनकेन और हर्ले को आगामी 2 अगस्त को ISS से वापसी करनी है.

अब आगे है बड़ी चुनौती
इस कैप्सूल के प्रक्षेपण और डॉकिंग (ISS से जुड़ने की प्रक्रिया) दोनों तो आसानी से हो गए थे, लेकिन कैप्सूल का पृथ्वी के वायुमंडल में प्रवेश एक बड़ा चुनौतीपूर्ण टेस्ट है. एक बार दोनों अंतरिक्ष यात्री पृथ्वी पर वापस आ जाएं तभी स्पेस एक्स और नासा अपने मिशन को सफल कह सकेंगे.

ISS
ISS से पहली बार निजी अंतरिक्ष यान सफलतापूर्वक जुड़ा है.


इस बीच नासा को ISS पर कराने है कुछ टेस्ट
अब नासा इस बात की योजना बना रहा है कि वह ISS के क्र सदस्यों में दो सदस्य और जोड़ दे जिससे उनके रहने के लिए (Habitability) टेस्ट किए जा सके. इस अनुभव से नासा को भविष्य में एक साथ कई यात्रियों को रखने के बारे में सहायता मिलेगी. बेनकेन ने ISS के कमांडर क्रिस कैसिडी के साथ हाल ही में स्पेस वॉक कर सफलतापूर्वक उसकी बैटरियां बदली हैं. बेनकेन औ हर्ले के लौटने से पहले नासा अब भी कुछ टेस्ट करने की योजना बना रहा है. जिसमें कुछ एयर कंडीशनिंग सिस्टम चेक शामिल हैं.

पहले मंगल अभियान के लिए चीन तैयार, अंतरिक्ष में वर्चस्व कायम करने का है इरादा

लेकिन 2 अगस्त तक ही वापसी क्यों
स्टिच का  कहना है कि फिलहाल योजना यही है कि दोनों अंतरिक्ष यात्री को 2 अगस्त तक वापस लाया जाए. वैसे तो बेनकेन और हर्ले  शोधकार्य करने के लिए सक्षम और कुशल हैं, लेकिन उनका प्रमुख मिशन स्पेसएक्स के क्रू ड्रैगन को टेस्ट करना था. जितनी जल्दी वे वापस आएंगे उतनी ही जल्दी नासा और स्पेसएक्स  ड्रैगन के आगे के ऑपरेशनल मिशन पर काम शुरू कर सकेंगे.

Space
नासा ने अपने अगले ISS मिशन की तैयारी शुरू कर दी है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)


अगले मिशन की तैयारी?
पहले ऑपरेशनल मिशन के लिए इस अंतरिक्ष यान को कैलीफोर्निया में हाथोर्न की फैक्ट्री में तैयार कर लिया गया है और इस समय वह अंतिम जांच के दौर से गुजर रहा है.  यह यान एक बार में चार अंतरिक्ष यात्री ले जा सकता है. यह जुलाई के अंत तक लॉन्च की साइट प्लौरीडा में पहुंचा दिया जाएगा. नासा को इस मिशन के प्रक्षेपण के लिए वर्तमान ड्रैगन क्रू के लौटने के बाद छह महीने का समय लगेगा जिससे वह ड्रैगन क्रू के सारे आंकड़ों का अध्ययन और जरूरी जानकारी हासिल कर अगला कदम उठा सके. इस बार नासा के मिशन में चार लोग  ISS जाएंगे और लंबे समय के लिए वहां रुकेंगे.

ब्लैकहोल किस गति से घूम रहे हैं, वैज्ञानिकों ने निकाला यह पता करने का तरीका

काफी तैयारी की ही वापसी की
स्टिच का कहना है कि डैगन वैसे तो कई दूसरे टेस्ट कक्षा में रहते हुए पहले ही पास कर चुका है जिसमें थर्मल परफॉर्मेंस शामिल है. ये सारे आंकड़े बहुत काम के हैं. लेकिन ड्रैगन का सबसे बड़ा टेस्ट अनडॉकिंग और वापसी की प्रक्रिया के दौरान होगा. नासा और स्पेस एक्स ने मिलकर इस यान पर पैराशूट के सटीक काम करने के लिए काफी काम किया है. इसमें दर्जनों ड्रॉप टेस्ट भी शामिल थे. अब नासा और स्पेसएक्स को इसी इम्तिहान का इंतजार है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज