नॉर्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग के जीवन की तीन खास महिलाएं

नॉर्थ कोरिया के तानाशाह शासक किम जोंग पर आई एक नई किताब उनके जीवन की कुछ ऐसी बातों का खुलासा करती है, जो शायद ही किसी को मालूम हो.

Sanjay Srivastava | News18Hindi
Updated: June 26, 2019, 9:01 PM IST
Sanjay Srivastava
Sanjay Srivastava | News18Hindi
Updated: June 26, 2019, 9:01 PM IST
दुूनियाभर में दो सौ से ज्यादा देश हैं. कई देशों में लोकतंत्र है तो कई में तानाशाही...और बेशक दुनिया के सबसे खौफनाक तानाशाह शासक नॉर्थ कोरिया के किम जोंग ही हैं. गोलमटोल लेकिन क्रूर किम के जीवन में तीन महिलाओं का प्रभाव है. आखिर वो महिलाएं कौन हैं और उन्होंने किस तरह उनके जीवन पर असर डाला है.

किम जोंग उन का चेहरा बेशक हंसता हुआ हो और वो गोलमटोल विदूषक से लगते हों लेकिन उनका दिल सत्ता पर बैठे एक निष्ठुर और क्रूर शासक का ही है. हालांकि तीन महिलाओं ने उनके जीवन को शेप देने और बदलने की कोशिश की. इसमें वो कुछ हद तक कामयाब भी हुईं और ये हद कहां तक ये हम आपको बताएंगे.

हाल में एक किताब आई "द ग्रेट सक्सेसर", इसे लिखा बीजिंग में लंबे समय तक वाशिंगटन टाइम्स की ब्यूरो चीफ रहीं एन फीफिल्ड ने. उन्होंने कई बार नॉर्थ कोरिया की यात्रा की. किम के बारे में नजदीक से जाना. उसके बाद ये किताब लिखी. किताब कई ऐसी बातें उजागर करती है, जो आमतौर पर दुनिया किम के बारे में नहीं जानती.

ये किताब बताती है कि किम के जीवन में न तो पिता का प्रभाव रहा और न ही अपने दादा का, जिन्होंने इस देश की स्थापना की, बल्कि वो जिंदगी में जिन तीन महिलाओं से घिरे रहे, उन्होंने ही उन पर अपने तरीके से असर डाला.

किम बचपन में अपनी मां के साथ. कहा जाता है कि तमाम साजिशों के बीच बेटे के सत्ता के शीर्ष पर पहुंचने का रास्ता उन्होंने सुनिश्चित किया


35 साल के किम 2011 में तब सत्ता में आए, जब उनके पिता का निधन हुआ. तब वो केवल 27 साल के थे. हालांकि उनकी मां ने उन्हें बचपन से इस तरह तैयार किया कि वो आगे चलकर ढाई करोड़ की आबादी वाले इस देश के शासक बनें.

जीवन की पहली महिला
बेशक उनके जीवन की पहली महिला, जिस पर उनका सबसे ज्यादा असर था, वो उनकी मां थीं. को यांग हुई उनके पिता की तीन बीवियों और कई रखैलों में से एक थीं. लेकिन आधिकारिक बीवी. वो खासी महत्वाकांक्षी महिला थीं. उनका असर बेटे की जिंदगी शुरू से रहा. उत्तर कोरिया का अगला शासक कौन होगा? कैसे होगा-ये काम उनकी मां ने बखूबी उनके लिए. उनकी मां देश का जाना पहचाना खूबसूरत चेहरा थीं. वो फिल्मों की हीरोइन थीं. उन पर किम के पिता का दिल आया फिर उन्होंने उन्हें अपनी दूसरी या तीसरी पत्नी बना लिया.

साजिशों के बीच तैयार किया बेटे के लिए रास्ता 
कहा जा सकता है कि तमाम साजिशों के बीच यांग हुई ने अपने बेटे के लिए सत्ता तक मजबूत रास्ता तैयार किया. उनकी जितनी तस्वीरें अपनी मां के साथ हैं, उतनी पिता के साथ शायद हों. किम अपनी मां के बहुत करीब थे. हालांकि किम के पिता और दादा के बारे में यही कहा जाता है कि वो अपनी मां के बहुत करीब थे.

उत्तर कोरिया में एक सार्वजनिक कार्यक्रम में किम अपनी पत्नी रि सोल जू के साथ


दूसरी महिला
यकीनन किम पर जितना असर अपनी मां का था, उससे कम असर अपनी खूबसूरत पत्नी का है. किताब कहती है कि किम वर्ष 2009 में रि सोल जू से शादी कर चुके थे. उनकी पत्नी नॉर्थ कोरिया टीवी की सुपरहिट सिंगर और आइकन थीं. उनके गाने हिट देशभर में हिट थे. किम उन्हें देखते ही मोहित हो गए. चूंकि किम खुद एक बड़े सैन्य अफसर की बेटी थीं, लिहाजा उनके पिता को इस शादी से कोई गुरेज नहीं था.

रि सोल जू एक साल पहले बीजिंग में तब किम के साथ फर्स्ट लेडी की तरह नजर आईं, जब वो आधिकारिक यात्रा पर चीन गए थे. तीन दिन के इस प्रवास में रि सोल लगातार सक्रिय भी रहीं और फैशनबल ड्रेस बदलती रहीं. वो युवा हैं, ग्लैमरस हैं, हमेशा बढ़िया तरीके से ड्रेस में रहने वाली महिला मानी जाती हैं.

वो खूबसूरत भी हैं और स्टायलिश भी

उनका असर इसी से माना जा सकता है कि उत्तर कोरिया के शासक कभी भी न तो विदेशी दौरों में बीवियों को साथ ले जाते थे और ना ही सार्वजनिक या आधिकारिक प्रोग्राम्स में उन्हें साथ रखते थे. किम पहले शख्स हैं, जो अपनी बीवी के साथ देश और विदेश दोनों जगह बार-बार नजर आए. इसने ये भी जताया कि किम इस मामले में कम से कम अपने पिता और दादा से कितने अलग हैं.

किम जोंग उन की पत्नी नॉर्थ कोरिया टीवी की सुपरसिंगर और बड़ी आइकन थीं


गुस्से में लाल-पीले किम शांत हो गए

इस किताब रि सोल जू के बारे में एक दिलचस्प कहानी है, जो बताती है कि किम पर उनका कितना असर है. दरअसल किम देश में एक शानदार एम्यूजमेंट पार्क बनाने का आदेश दिया. उनका मानना था कि ये इतना बेहतरीन होना चाहिए कि आने वाली पीढ़ियां 50-60 साल तक याद रखें कि किम ने इसे बनवाया है. जब इसका उद्घाटन था तो किम ने कई विदेशी राजनयिकों और मेहमानों को आमंत्रित किया.
उद्घाटन के मौके पर एक बड़े झूले ने काम करना बंद कर दिया. तमाम कोशिश के बाद भी शुरू नहीं हुआ. किम ये देख आपे से बाहर हो गए. उनका गुस्सा देखकर लग रहा था कि आज तो कई लोगों को मौत की सजा होने ही वाली है. तभी रि सोल उनके पास गईं. आराम से कुछ देर तक उन्हें कुछ समझाया. किम शांत हो गए और किसी को कुछ नहीं हुआ.
.
तीसरी महिला, जिस पर सबसे ज्यादा भरोसा
वो महिला, जिस पर किम सबसे ज्यादा भरोसा करते हैं, सबसे ज्यादा सलाह लेते हैं, वो उनकी बहन किम यो जोंग हैं. जो लंबे समय से उनके राजकाज के कार्यकलाप में दखल रखती आई हैं. यहां तक की महत्वपूर्ण देशी और विदेशी मामलों के बारे में उनकी राय किम के लिए अहम होती है.

पिछले साल जब किम जोंग सिंगापुर में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से वार्ता करने गए तो उसमें उनकी बहन किम यो जोंग बी भी शामिल रहीं


यो जोंग स्मार्ट, इंटैलीजेंट और कड़क भी हैं. जब किम पिछले साल अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मिलने सिंगापुर गए थे, तब यो जोंग उनके साथ वार्ता में शामिल रहीं. हालांकि कहा जाता है कि यो जोंग के नॉर्थ कोरिया के राजकाज में अपने खास इंटेरेस्ट हैं. शासक के तौर पर अपने शुरुआती सालों में किम काफी हद तक अपनी बहन पर निर्भऱ थे.
बहन पहले काफी नजर आती थीं लेकिन पिछले दिनों उनकी सार्वजनिक तौर पर मौजूदगी कम हुई है. वैसे किम की ये बहन ने शादी नहीं की और ना ही लगता है कि उसका ऐसा कोई इरादा है.

कहा जा सकता है कि एक ओर किम की ग्लैमरस पत्नी है, जो उन पर अलग तरह से असर डालती है और दूसरी ओर गजब की योजनाकार बहन, ये दोनों ये कोशिश करती हैं कि उत्तर कोरिया में सबकुछ ठीक ठाक रहे और किम मजबूती से शासन को संभाले रखें.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...