Home /News /knowledge /

कड़ाके की ठंड से क्यों थर-थर कांप रहा है उत्तर भारत, क्या और गिरेगा तापमान

कड़ाके की ठंड से क्यों थर-थर कांप रहा है उत्तर भारत, क्या और गिरेगा तापमान

आने वाले दिनों में उत्तर भारत (North India) में ज्यादा ठंड देखने को मिलने वाली है. (प्रतीकात्मक तस्वीर:Meenakshi_Vashistha / Shutterstock)

आने वाले दिनों में उत्तर भारत (North India) में ज्यादा ठंड देखने को मिलने वाली है. (प्रतीकात्मक तस्वीर:Meenakshi_Vashistha / Shutterstock)

उत्तर भारत (North India) और देश के कई अन्य इलाकों में भीषण ठंड (Severe Cold) देखने को मिल रही है. मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले दिनों में कई मौसमी घटनाएं ऐसी होने वाली है जिससे उत्तर और मध्य भारत में बारिश (Rainfall) के साथ-साथ ठंडक बढ़ने वाली है. इसकी वजह उत्तर भारत में लंबी दूरी तक फैले बादल और अन्य घटनाएं हैं जो एक साथ देश को कई इलाकों को कंपा देंगी.

अधिक पढ़ें ...

    भारत (India) के उत्तरी और मध्य इलाकों में कड़ाके की ठंड (Severe Cold) ने सभी को हैरान कर रखा है. ठंड दिन ब दिन नए रिकॉर्ड बना रहा है. दिल्ली (Delhi) में न्यूनतम तापमान 7 के आसपास पहुंच गया है और आने वाले दिनों में यह और गिरने का अनुमान लगाया जा रहा है कमोबेश ऐसा ही हाल दूसरी जगहों पर ही भी है, जिनमें उत्तर भारत के साथ उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, हरियाणा और बिहार शामिल हैं. ऐसा नहीं है कि देश में भारी ठंड लगातार चल रही है. इस तरह के झोंके रुक रुक कर आ रहे हैं और कई मैदानी इलाको में रिकॉर्ड टूट रहे हैं.

    दो दिन बाद बिगड़ेगा दिल्ली का मौसम
    राजधानी दिल्ली की बात की जाए तो फिलहाल एक दो दिन तापमान में इजाफा कुछ राहत दे सकता है, लेकिन ऐसा ज्यादा दिन नहीं होगा.  कुछ दिन में बारिश दिल्ली वासियों के मौसम का जायका बिगाड़ सकती है. और तापमान और ज्यादा गिर जाएगा. भारतीय मौसम विभाग का कहना है कि उत्तर पश्चिम और मध्य भारत में अभी कहीं कहीं तापमान में 2-4 डिग्री का इजाफा हो सकता है.

    पूरा उत्तर और मध्य भारत का मैदानी इलाका
    हैरानी की बात यह है कि इस बार ठंड ज्यादा तो है ही इसकी पहुंच मध्यभारत और मुंबई तक भी हो गई है. मौसम विभाग का कहना है कि गंगा के मैदान के ऊपर विशाल बादलों के होने की वजह से कोहरा जैसे हालात हो गए हैं जिससे उत्तर प्रदेश, बिहार, दिल्ली, और  पंजाब में तीखी ठंड महसूसकी जा रही है. वहीं ठंडक पंजाब और राजस्थान से दूर होती दिखाई दे रही है. जबकि मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र तक में ठंड असर दिखा रही है.

    बादलों का व्यापक फैलाव
    यह विशाल बादल गंगा के मैदानों के ऊपर लंबी दूरी तक फैला हुआ है.  इंडिया टुडे की रिपोर्ट में मौसम विभाग के वैज्ञानिक डॉ आर के जेनामणि ने बताया कि सैटेलाइट की तस्वीरों से पता चला  है कि ये बादल दिल्ली समेत पाकिस्तान से बिहार तक 1700 किलोमीटर तक फैले हैं. जब भी इस तरह के बादल होते हैं दिन ज्यादा ठंडे होने लगते हैं.

    Research, Weather, Severe Cold, Delhi, North India, Cold Day, Uttar Pradesh, Madhya Pradesh, Bihar, Punjab

    भारत में बहुत सारी जगहों पर कुछ दिनों से कोल्ड डे (Cold Day) घोषित हो रहे हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर: Meenakshi_Vashistha / Shutterstock)

    कब घोषित होता है कोल्ड डे
    मौसम विभाग के अनुसार जब किसी दिन न्यूनतमतापमान 10 डिग्री से कम हो और अधिकतम तापमान सामान्य से 4.5 डिग्री कम हो उस दिन को कोल्ड डे घोषित किया जाता है. वहीं सीवियर कोल्ड तब माना जाता है जब अधिकतम तापमान सामान्य से कम से कम 6.5 डिग्री कम तक पहुंच गया हो.

    यह भी पढ़ें: अगर किसी ने कोरोना वैक्सीन अब तक भी नहीं लगवाया हो तो कानूनी तौर पर क्या होगा

    उत्तर भारत में बर्फबारी
    उत्तरी बांग्लादेश और उसके आसपास के इलाकों के ऊपर क्षोभमंडल में चक्रावाती प्रवाह बन रहा है. दूसरी तरफ उत्तर पश्चिम भारत में शुक्रवार से नया पश्चिमी विक्षोभ प्रभावी हो रहा है जो शनिवार तक दक्षिण पश्चिम राजस्थान तक पहुंच जाएगा. इस वजह से 22-23 जनवरी तक जम्मू, कश्मीरऔर लद्दाख में और हिमाचल में 22 जनवरी को बर्फबारी देखने को मिलेगी.

    Research, Weather, Severe Cold, Delhi, North India, Cold Day, Uttar Pradesh, Madhya Pradesh, Bihar, Punjab

    राजधानी दिल्ली (Delhi) में तेज हवाओं के हाथ बारिश भी देखने को मिल सकती है. (तस्वीर: Wikimedia Commons)

    और यह भी
    इसके अलावा पंजाब, दिल्ली, हरियाणा, चंडीगढ़, उत्तर प्रदेश उत्तरी राजस्थान में 21 जनवरी को बारिश होने की ज्यादा संभावना है. इसके अलावा पंजाब हरियाणा, बिहार, उत्तर प्रदेश और उत्तरी मध्य प्रदेश में रात और सुबह के समय कोहरे के हालात देखने को मिलेंगे. दिल्ली में बारिश के साथ तेज हवाएं भी चलने की संभावना है.

    यह भी पढ़ें: Covid-19: सामान्य सर्दी जुकाम कैसे कर सकता है कोरोना से बचाव

    मौसम विभाग ने इस बात की भी चेतावनी दी है कि इस दौरान तीखी ठंड के कारण लोगों को फ्लू, नकसीर, जैसी समस्याओं का भी सामना करना पड़ा सकता है. इसके अलावा इस मौसम का असर कृषि पर भी पड़ेगा जिसके साथ फसल, मवेशी, पानी की आपूर्ति, परिवहन आदि भी प्रभावित होंगे.

    Tags: India, Research, Science, Weather

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर