क़र्ज़ में डूबे पाकिस्तान के मंदी से हालात हुए और खराब, 1.5 लाख लोगों की गई नौकरी

News18Hindi
Updated: August 21, 2019, 5:33 PM IST
क़र्ज़ में डूबे पाकिस्तान के मंदी से हालात हुए और खराब, 1.5 लाख लोगों की गई नौकरी
पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था सबसे खराब दौर से गुजर रही है

पाकिस्तान (Pakistan) के ऑटो मोबाइल सेक्टर (Auto Mobile Sector) का हाल बुरा है. कारों की बिक्री में लगातार कमी दर्ज की गई है और ऑटो मोबाइल सेक्टर से करीब डेढ़ लाख नौकरियां जा चुकी हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 21, 2019, 5:33 PM IST
  • Share this:
दुनिया की सभी बड़ी अर्थव्यवस्थाएं (Economy) मंदी के हालातों से गुजर रही हैं. दुनिया की बड़ी रेटिंग एजेंसियों ने पिछले दिनों अमेरिका (USA) को चेतावनी दी है कि अगर हालत नहीं सुधरे तो आने वाले तीन साल काफी मुश्किल साबित हो सकते हैं. पहले ही कर्ज में डूबे पाकिस्तान (Pakistan) के लिए भी मंदी के ये हालात बुरी खबर लेकर आए हैं. पाकिस्तान (Pakistan) के ऑटो सेक्टर (Auto Mobile Sector) में इस मंदी से काफी बुरा असर पड़ा है और लगातार शोरूम बंद हो रहे हैं और लोगों को नौकरी से निकाला जा रहा है.

पाकिस्तान में कारों की बिक्री में 40 से 60 फीसदी तक की कमी आई है. पाकिस्तान में कार इंडस्ट्री में संकट की वजह से करीब डेढ़ लाख लोगों को अपनी नौकरियां खोनी पड़ी हैं. पाकिस्तान के ऑटो मोबाइल सेक्टर ने 2021 तक 3 लाख कारें बेचने का लक्ष्य रखा था. कार बनाने वाली कंपनियों को उम्मीद थी कि वो 2022 तक कम से कम 5 लाख कारें बेच पाएंगी.

लेकिन ऑटो मोबाइल सेक्टर की पॉलिसी में आए बदलाव, टैक्स की दरों में फेरबदल और कार प्रोडक्शन में आने वाली लागत में बढ़ोतरी की वजह से कारों के दाम बढ़ाने पड़े. इसकी वजह से कारों की बिक्री में गिरावट आ गई.

पाकिस्तान में नई कारें नहीं बिक पा रहीं

एक आंकड़े के मुताबिक वित्त वर्ष 2019-20 के पहले महीने में पाकिस्तान में कारों की बिक्री में 23 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई. वहीं इसके बाद के महीने में 42 फीसदी की गिरावट आई. पाकिस्तान में ऑटो सेक्टर अच्छा परफॉर्म करने वाला सेक्टर रहा है. लेकिन फिलहाल इस सेक्टर की हालत खस्ता है.
प्रोडक्शन में आई करीब 40 फीसदी की गिरावट के बाद ये कहा जा रहा है कि इसकी वजह से पिछले एक साल में 1 से 1.5 लाख नौकरियां गई हैं.

pakistan automobile sector trouble economic crisis hits car sales job cuts
पाकिस्तान में ऑटो मोबाइल सेक्टर का बुरा हाल है

Loading...

पाकिस्तान ऑटोमोटिव मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन ने कारों की बिक्री को लेकर कुछ आंकड़े जारी किए हैं. इसके मुताबिक होंडा सिविक की बिक्री में 49 फीसदी और होंडा सिटी की बिक्री में करीब 68 फीसदी की गिरावट आई है. इसी तरह से टोयोटा कारों की बिक्री में 39 से 57 फीसदी की गिरावट आई है.

पाकिस्तान सुजुकी कंपनी जो सुजुकी ऑल्टो जैसी गाड़ियां बनाती है, कि बिक्री में करीब 28 से 64 फीसदी की कमी आई है. सुजुकी की वैगन आर कार के प्रोडक्शन में करीब 15 से 70 फीसदी की गिरावट आई है.
पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था में उसके ऑटो मोबाइल सेक्टर का अच्छा खासा योगदान रहता है. ऑटो मोबाइल सेक्टर में आई मंदी का सीधा असर पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था पर पड़ेगा.

पाकिस्तान में नए टैक्स ने बढ़ाई उद्योग जगत की सिरदर्दी
पाकिस्तान में इंडस्ट्रीज़ पर कुछ नए टैक्स लगाए गए हैं. 2019-20 के बजट में सभी रॉ मैटेरियल्स पर 5 फीसदी एडवांस कस्टम ड्यूटी और 2.5 फीसदी से लेकर 7.5 फीसदी की फेडरल एक्साइज ड्यूटी लगाई गई है. इसकी वजह से इंडस्ट्रियल प्रोडक्शन पर सीधा असर पड़ा है. इंडस्ट्री प्रोडक्ट महंगे हो गए हैं, जिसकी वजह से बिक्री प्रभावित हुई है.

pakistan automobile sector trouble economic crisis hits car sales job cuts
पाकिस्तान के ऑटो सेक्टर से करीब डेढ़ लाख नौकरियां गई हैं


ऑटो मोबाइल सेक्टर का हाल इतना बुरा है कि होंडा कंपनी ने अपनी कार का प्रोडक्शन 10 दिनों के लिए बंद कर दिया. इससे करीब 20 हजार यूनिट्स के प्रोडक्शन पर असर पड़ा. उसी तर्ज पर अब इंडस मोटर कंपनी भी हर हफ्ते 2 दिन के लिए कारों का प्रोडक्शन बंद करने पर विचार कर रही है.

इसी तर्ज पर पाकिस्तान सुजुकी मोटर कंपनी भी कारों का प्रोडक्शन कम करने पर विचार कर रही है. अगले कुछ दिनों में वो कारों का प्रोडक्शन कम कर सकती हैं. पाकिस्तान सुजुकी मोटर कंपनी ही पाकिस्तान में ऑल्टो और वैगन आर जैसी गाड़ियां बनाती है.

पाकिस्तान में कारों के दाम भारत की तुलना में काफी ज्यादा हैं. सुजुकी ऑल्टो कार की कीमत यहां 11 से 14 लाख के बीच है. नए मॉडल की सुजुकी वैगन आर की कीमत यहां 15 से 16 लाख के बीच है. सुजुकी स्विफ्ट 19 से 20 लाख के बीच आती है. होंडा सिटी की कीमत 23 से 27 लाख है. वहीं टोयोटा कोराला की कीमत 25 से 30 लाख के बीच है.

यह भी पढ़ें-

ये भी पढ़ें: INX मीडिया केस में ऐसे फंसे पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम

INX केस: बहुत गहरी हैं घोटाले की परतें! चिदंबरम के बाद अब बेटे कार्ति पर कसने वाला है शिकंजा

 संघ को आरक्षण पर बार-बार क्यों देनी पड़ती है सफाई?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नॉलेज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 21, 2019, 4:42 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...