शाही खानदान से अलग होकर कितनी अलग होगी प्रिंस हैरी और मेगन की जिंदगी

ब्रिटिश राजपरिवार ने प्रिंस हैरी और प्रिंसेज मेगन मर्केल की शाही उपाधियों को वापस ले लिया (news18 English file photo)

ब्रिटिश राजपरिवार ने प्रिंस हैरी और प्रिंसेज मेगन मर्केल की शाही उपाधियों को वापस ले लिया (news18 English file photo)

आखिरकार प्रिंस हैरी और उनकी पत्नी प्रिंसेज मेगन मर्केल (Prince Harry and Meghan Markle) ने महारानी एलिजाबेथ (Queen Elizabeth) को अपनी शाही सदस्यता लौटा दी. वे अब आम लोग होंगे, जिन्हें अपने रहने-खाने का बंदोबस्त खुद करना होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 20, 2021, 9:42 AM IST
  • Share this:
ब्रिटिश राजपरिवार ने प्रिंस हैरी और प्रिंसेज मेगन मर्केल की शाही उपाधियों को वापस ले लिया है. अब ये दोनों शाही परिवार के कार्यकारी सदस्य नहीं, बल्कि आम नागरिक होंगे. राजपरिवार छोड़़ने के बाद दोनों की जिंदगी आसान नहीं होगी, बल्कि कई ऐसी सुविधाएं खत्म हो जाएंगी जो उन्हें अब तक मिलती आई थीं.

वैसे तो ब्रिटिश राजघराना लगातार चर्चाओं में रहता है लेकिन इस बार जो हो रहा है, वो शाही परिवार के लिए किसी झटके से कम नहीं. दरअसल महारानी एलिजाबेथ के पोते प्रिंस हैरी और उनकी पत्नी मेगन शाही परिवार की सदस्यता छोड़ चुके. वे इससे पहले ड्यूक और डचेस ऑफ ससेक्स कहलाते थे. ये जोड़ा शाही के बाद से ही राजघराना छोड़ने का मन बना चुका था लेकिन इसकी आधिकारिक घोषणा में समय लगा.

ये भी पढ़ें: Explained: क्या है चीन का वो प्रोग्राम, जो सूचनाओं को बाहर जाने से रोकता है?

अब हैरी और मेगन आम लोगों की तरह रहेंगे और कैलीफोर्निया या फिर कनाडा में काम कर सकते हैं. लेकिन अनुमान लगाया जा रहा है कि इस तरह से अपनी उपाधियां छोड़ना उनके लिए कई मुश्किलें ला सकता है. शाही परिवार विशेषज्ञों के मुताबिक 31 मार्च से बकिंघम पैलेस में उनका दफ्तर आधिकारिक तौर पर बंद हो जाएगा. इसके साथ ही दोनों की सुरक्षा में जो सिक्योरिटी गार्ड्स लगे हुए हैं, वे भी हटा लिए जाएंगे.
Prince Harry and Meghan Markle
सदस्यता छोड़ने के बाद कपल अमेरिका के कैलीफोर्निया में रहने जा रहा है (Photo- news18 English via AP)


इसके बाद भी हैरी और मेगन का रिश्ता चूंकि शाही परिवार से रहा, लिहाजा उनकी सुरक्षा को कई तरह के खतरे हो सकते हैं. इसे ध्यान में रखते हुए अगर ये जोड़ा अपने लिए सुरक्षाकर्मी रखे भी, तो उनका खर्च उन्हें खुद ही देना होगा. सुरक्षाकर्मियों की नई टीम कम अनुभवी हो सकती है ताकि खर्च बचाया जा सके. बता दें कि बकिंघम पैलेस के सभी शाही सदस्यों की सुरक्षा ब्रिटेन का बड़ा मुद्दा रहा है, जिसमें हरेक सदस्य, चाहे वो छोटा हो या फिर वयस्क, सालभर में लंबा-चौड़ा खर्च किया जाता है. ये पुलिस के सबसे काबिल अधिकारी होते हैं, जिन्हें शाही सुरक्षा का जिम्मा दिए जाने से पहले 6 महीने की कड़ी ट्रेनिंग मिलती है.

ये भी पढ़ें: कौन हैं भारतीय मूल की भव्या लाल, जो NASA में संभालेंगी अहम पद?  



अब सदस्यता छोड़ने के बाद कपल अमेरिका के कैलीफोर्निया में रहने जा रहा है लेकिन अमेरिका भी उन्हें अपनी तरफ से कोई अतिरिक्त सुविधा नहीं देगा. ये बात पिछले ही साल तत्कालीन अमेरिकी राष्ट्रपति ने बता दी थी. कपल को इसपर कोई एतराज नहीं है. प्रिंसेज मेगन तो लगातार ये बात करती आई हैं कि वे अपने खर्च खुद उठाना चाहती हैं. बता दें कि मेगन प्रिंस हैरी से शादी से पहले एक स्थापित मॉडल रह चुकी हैं, जिनके सोशल मीडिया पर काफी फॉलोअर्स रहे. शाही परिवार से अलग होने के पीछे भी कपल ने यही कहा था कि वे आर्थिक तौर पर आत्मनिर्भर होना चाहते हैं.

Prince Harry and Meghan Markle
क्वीन एलिजाबेथ का ये राजमहल किसी छोटे लेकिन मॉडर्न शहर की तर्ज पर बसा हुआ है (Photo- news18 via Reuters)


वैसे शाही परिवार से अलग होने पर राजसी सुख-संपत्ति भी घटेगी. जैसे बकिंघम पैलेस बेहद आलीशान है. यहां 775 कमरे, 92 दफ्तर और 78 बाथरूम हैं. इमारत सामने से 108 मीटर लंबी है. वैसे तो शाही परिवार के ज्यादातर सदस्य पैलेस से बाहर अपने राजमहलों में रहते हैं लेकिन किसी भी बड़े उत्सव में सभी यहीं इकट्ठा होते हैं.

पैलेस की बालकनी दुनियाभर में जानी जाती है. साल 1851 में पहली बार यहां शाही परिवार बालकनी से एक साथ लोगों को दिखा था. तब क्वीन विक्टोरिया का राज था. इसके बाद से इसे रॉयल बालकनी कहा जाने लगा और हर बड़े मौके पर पूरा शाही खानदान बालकनी में तैयार होकर आता और अपने देशवासियों को दर्शन देता है.

ये भी पढ़ें: Explained: क्यों ऑस्ट्रेलिया और फेसबुक की ठनी, क्या होगा अंजाम?   

क्वीन एलिजाबेथ का ये राजमहल किसी छोटे लेकिन मॉडर्न शहर की तर्ज पर बसा हुआ है, जहां महल के भीतर ही बाजार से लेकर एटीएम जैसी सुविधाएं भी हैं. हर सदस्य की जरूरत के हिसाब से यहां पूरे समय डॉक्टर होते हैं. साथ ही मनोरंजन के लिए मूवी थिएटर भी है. लेकिन इन सबसे शानदार है रॉयल पैलेस का बगीचा. लगभग 40 एकड़ में फैला ये बाग वेंबले स्टेडियम से भी चार गुना लंबा-चौड़ा है और हर मौसम और देश-विदेश के फूल-पौधे यहां मिलते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज