लाइव टीवी

अब कोरोना वायरस से मंडराया ‘राजमा-चावल’ पर खतरा!

News18Hindi
Updated: February 11, 2020, 12:01 PM IST
अब कोरोना वायरस से मंडराया ‘राजमा-चावल’ पर खतरा!
पिछले दिनों ग्लोबल मार्केट में राजमा की कीमतें बढ़ी हैं

चीन (China) में फैले कोरोना वायरस (Coronavirus) की वजह से पिछले 10 दिनों में राजमा (Rajma) की कीमतें बढ़ी हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 11, 2020, 12:01 PM IST
  • Share this:
कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर दुनियाभर के देश चिंतित हैं. चीन (China) में इस वायरस की चपेट में आकर मरने वालों का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है. चीन में कोरोना वायरस की वजह से मृतकों का आंकड़ा 1 हजार के पार चला गया है. दुनिया के कई देशों में इस वायरस का संक्रमण फैल रहा है. चिंता सिर्फ बीमारी की वजह से नहीं है. कोरोना वायरस का असर कई तरह से पड़ा है. चीन से होने वाले कारोबार पर भी इसका असर पड़ा है.

दुनियाभर के देश चीन के साथ कारोबार करते हैं. भारत भी उनमें से एक है. हम कई चीजों का चीन से आयात करते हैं और कई वस्तुएं उन्हें बेचते भी हैं. कोरोना वायरस की वजह से उन कारोबार पर असर पड़ा है. आयात और निर्यात पर पड़े असर की वजह से भारत में उसकी कीमतें प्रभावित हुई हैं.

पिछले 10 दिनों में महंगा हुआ राजमा
चीन में फैले कोरोना वायरस की वजह से पिछले 10 दिनों में राजमा की कीमतें बढ़ी हैं. भारत में पिछले 10 दिनों में राजमा की कीमतों में 8 फीसदी की बढ़ोत्तरी हुई है. हालांकि इसका अभी ज्यादा असर नहीं पड़ा है. लेकिन अगर कोरोना वायरस की वजह चीन में लॉक डाउन की स्थिति लंबी खिंचती है और उसकी वजह से वहां से होने वाला आयात प्रभावित होता है तो इसका असर अभी और बढ़ेगा.

भारत अपनी जरूरत का 50 फीसदी राजमा का आयात चीन से करता है. राजमा चीन से आयात होने वाले मुख्य खाद्य पदार्थों में से एक है. पिछले 10 दिनों में ग्लोबल मार्केट में राजमा की कीमतें 1100 डॉलर प्रति टन तक पहुंच चुकी है. ये करीब 8 फीसदी की वृद्धि है.

चीन के डालियान पोर्ट पर आयात-निर्यात का काम रुका पड़ा है. शटडाउन की वजह से बंदरगाह पर भारत आने वाले राजमा के 300 कंटेनर रखे हुए हैं. लेकिन इनका आयात अभी संभव नहीं है. इन कंटेनर्स में करीब 24 टन राजमा है. जानकार बता रहे हैं कि इस शिपमेंट को भारत पहुंचने में अभी भी करीब एक महीने का वक्त लगेगा. तब तक राजमा की कीमतें और महंगी हो जाएंगी.

rajma priceses increased due to import effect with china facing coronavirus epidemic
कोरोना वायरस की वजह से चीन के बंदरगाहों पर सन्नाटा पसरा है
हम हर दिन खा रहे हैं चीन का राजमा
विशेषज्ञ बता रहे हैं कि अभी तक शटडाउन की वजह से होने वाले नुकसान का सही आकलन नहीं हो पा रहा है. एकाध हफ्ते के बाद ही नुकसान के आंकड़े सामने आ पाएंगे. चीन के बंदरगाह पर फरवरी-मार्च का शिपमेंट अटका पड़ा है. अगर कोरोना वायरस की वजह से इस शिपमेंट के आने में देरी होती है तो नुकसान ज्यादा होगा.

एक आंकड़े के मुताबिक भारत में प्रतिदिन 8 कंटेनर राजमा की खपत होती है. इसमें से 6 कंटेनर चीन से आता है. इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि राजमा के आयात पर हम चीन पर कितना निर्भर हैं. जानकार बता रहे हैं कि फिलहाल राजमा के थोक और खुदरा बाजार में कीमतें स्थिर हैं. मुंबई के थोक बाजार में राजमा करीब 80 से 81 रुपए प्रति किलो के हिसाब से बिक रहा है. जबकि दिल्ली के थोक बाजार में इसकी कीमतें 83 से 84 रुपए प्रति किलो हैं. अगर चीन से आयात में इसी तरह की मुश्किल रही तो राजमा की कीमतें बढ़ सकती हैं.

rajma priceses increased due to import effect with china facing coronavirus epidemic
कोरोना वायरस का असर कारोबार पर भी पड़ा है


चीन को होने वाले निर्यात पर भी पड़ा है असर
भारत कई वस्तुओं का निर्यात भी चीन को करता है. इसमें कॉटन और धागा जैसे चीजें भी शामिल हैं. चीन के साथ निर्यात भी रुका पड़ा है. इस वजह से पिछले 10 दिनों में कॉटन और धागे की कीमतों में 4 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है.

भारत कॉटन और धागों के कुल निर्यात का 25 फीसदी हिस्सा चीन को निर्यात करता है. कोरोना वायरस फैलने की वजह से चीन को निर्यात होने वाली वस्तुएं भारत के बंदरगाहों पर अटकी पड़ी हैं. कॉटन धागों की कीमतों में 3 से 4 फीसदी की कमी दर्ज की गई है. इसी तरह से कॉटन की कीमतों में करीब 4 फीसदी की कमी दर्ज की गई है.

ये भी पढ़ें:

क्यों दिल्ली में सबसे VVIP सीट है नई दिल्ली, जहां से बनते रहे हैं सीएम
गिरिराज किशोर: खरा-खरा कहने वाला वो लेखक, जो साहित्य से लेकर फेसबुक तक मुखर था
कौन थी पिता के कातिल से शादी रचाने वाली कोटा रानी, जिससे की गई महबूबा मुफ्ती की तुलना
क्या आरक्षण के मुद्दे पर फिर फंसने वाली है बीजेपी
क्या हैक हो सकती है ईवीएम, हर चुनाव में क्यों उठते हैं सवाल?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नॉलेज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 11, 2020, 12:01 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर