लाइव टीवी

कोरोना के खिलाफ जंग में रतन टाटा ने दिए 15 सौ करोड़, पहले भी करते आए हैं मदद


Updated: March 29, 2020, 12:10 PM IST
कोरोना के खिलाफ जंग में रतन टाटा ने दिए 15 सौ करोड़, पहले भी करते आए हैं मदद
रतन टाटा ग्रुप

इस राशि का इस्तेमाल कोरोना वायरस की जांच (coronavirus test) के लिए ज्यादा से ज्यादा टेस्ट किट बनाने और संक्रमितों को इलाज दिलवाने के लिए होगा.

  • Last Updated: March 29, 2020, 12:10 PM IST
  • Share this:
सदी की सबसे बड़ी त्रासदी माने जा रहे कोरोना संक्रमण (corona infection) ने पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले लिया है. विश्वभर में लगभग 6,64000 लोग जबकि भारत में 900 से ज्यादा लोग कोरोना पॉजिटिव हैं. देशव्यापी लॉकडाउन और डर के इस माहौल में कई बिजनेस घराने मदद को आगे आए हैं. इनमें टाटा ट्रस्ट के चेयरमैन रतन टाटा (Ratan Tata) काफी आगे हैं.

रतन टाटा ने 28 मार्च को एक ट्वीट के जरिए अहम घोषणा की. COVID 19 को इंसानी नस्ल के सामने आई कुछ सबसे गंभीर चुनौतियों में से एक बताते हुए इन्होंने कहा कि टाटा ट्र्स्ट्स और टाटा ग्रुप ऑफ कंपनीज इस मुश्किल वक्त में मदद करेंगे. इसके लिए टाटा ट्र्स्ट्स के फंड से 500 करोड़ की रकम दी जाएगी. ये राशि किन कामों में खर्च जाए- इसका जिक्र भी किया गया है. ट्रस्ट की तरफ से आने वाली ये रकम कोरोना वायरस से लड़ रहे स्वास्थ्य कर्मियों को उपकरण मुहैया कराने और कोरोना मरीजों के इलाज में खर्च की जाएगी. टाटा ट्रस्ट के बाद टाटा सन्स ने 1000 करोड़ रुपयों की मदद का एलान किया. यानी रतन टाटा ग्रुप की तरफ से कुल 1500 करोड़ रुपयों की मदद की जा रही है. इस राशि का इस्तेमाल ज्यादा से ज्यादा टेस्ट किट बनाने और संक्रमितों को इलाज दिलवाने के लिए होगा. साथ ही इसके जरिए हेल्थ वर्कर्स और आम लोगों को खुद को कोरोना से बचाने की ट्रेनिंग भी दी जाएगी.





इन कामों पर खर्च होगा फंड:

  • फ्रंटलाइन पर काम कर रहे अस्पताल स्टाफ के लिए पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्युपमेंट बनाने के लिए

  • इलाज के दौरान मरीजों को रेस्पिरेटरी सिस्टम उपलब्ध कराने पर

  • ज्यादा से ज्यादा टेस्ट किट उपलब्ध कराने जाने पर

  • मरीजों के इलाज के लिए सुविधाएं मुहैया कराने में

  • हेल्थ वर्करों और आम लोगों को प्रशिक्षण देने पर


रतन टाटा के किसी आपदा में दान का यह पहला मामला नहीं. इससे पहले भी वे मदद के लिए आगे आते रहे हैं. जैसे फिलहाल को ही लें तो देश में कोरोना संक्रमण के मामले आने के हफ्तेभर के भीतर ही टाटा ग्रुप ने अपनी कंपनियों के फुलटाइम कर्मचारियों और दैनिक वेतनभोगियों को भी अगले दो महीने की तनख्वाह दे दी. कंपनी ने यह घोषणा भी की कि अगर संक्रमण के बचाव के लिए वे काम पर नहीं आ पा रहे हैं तो भी उनकी तनख्वाह या नौकरी पर कोई खतरा नहीं होगा. इससे पहले उत्तराखंड में आई भीषण बाढ़ और तबाही के दौरान भी टाटा ग्रुप ने राहत में काफी योगदान दिया था. Tata Relief Committee ने उत्तराखंड सरकार के साथ मिलकर ग्राउंड पर भी काम किया. लोगों तक साफ पानी पहुंच सके, इसके लिए Tata Chemicals काम करता रहा और रुद्रप्रयाग में सारी रिलीफ गतिविधियों में फंडिंग की. आम आदमी के लिए 1 लाख रुपए की कार नैनो को भी उनके बड़े कामों में शुमार किया जाता है.

हेल्थ वर्कर्स और आम लोगों को खुद को कोरोना से बचाने की ट्रेनिंग भी दी जाएगी


वैसे रतन टाटा के अलावा कई दूसरे उद्योग घराने भी मदद कर रहे हैं. जैसे मुकेश अंबानी, चेयरमैन, रिलायंस इंडस्ट्रीज ने कोरोना प्रभावित राज्य महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 करोड़ रुपए दिए. साथ ही मुंबई में कोरोना के मरीजों के इलाज के लिए 100 बेड का सेंटर बनाया है. रिलायंस इंडस्ट्री ने डॉक्टर्स और हेल्थ वर्कर्स के लिए प्रतिदिन 1 लाख फेस मास्क तैयार करने का ऐलान किया है.महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने अपनी एक महीने की तनख्वाह दान कर दी है, साथ ही कोरोना संक्रमित मरीजों की देखभाल के लिए अपने रिजॉर्ट्स टेंपररी तौर पर देने की घोषणा की है. इसके अलावा वेंटिलेटर तैयार करने की कोशिश की जा रही है. हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर बेहतर करने, खाने और रहने के इंतजाम करने के लिए बजाज ग्रुप ने 100 करोड़ रुपए देने का ऐलान किया है. फार्मेसी का नाम बड़ा सन फार्मा 25 करोड़ रुपए की दवाएं और सैनेटाइजर की मदद के लिए आगे आई है.

इसके अलावा कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में मदद करने वालों के लिए Prime Minister's National Relief Fund (PMNRF) का गठन किया गया है, जिसमें आम लोग भी हर तरह से योगदान दे सकते हैं.

ये भी देखें:

Coronavirus: ये टेस्ट बताएगा भारत में कोरोना के मरीजों की असल संख्या

कोरोना वायरस: क्या है चीन के पड़ोसी मुल्कों का हाल

Coronavirus: पास बैठे तो 6 महीने की कैद या भरना पड़ सकता है लाखों का जुर्माना

Coronavirus: किसी सोसायटी या इलाके में पॉजिटिव केस मिलने पर ऐसे डील कर रहा है प्रशासन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नॉलेज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 29, 2020, 12:10 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading