प्रियंका से शादी के बाद रॉबर्ट वाड्रा ने क्यों तोड़ लिया था अपने परिवार से नाता

रॉबर्ट वाड्रा और प्रियंका गांधी
रॉबर्ट वाड्रा और प्रियंका गांधी

प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट पिछले कुछ समय से लगातार चर्चाओं में हैं. प्रवर्तन निदेशालय ने उनसे कई बार पूछताछ की तो विरोधी पार्टियां भी उन्हें निशाना बनाती रही हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 18, 2019, 10:29 AM IST
  • Share this:
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट वाड्रा का आज जन्मदिन है. वह सोनिया गांधी के दामाद और कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी के जीजा हैं. रॉबर्ट वाड्रा पिछले कुछ वर्षों से लगातार विवादों में घिरे रहे हैं. मौजूदा लोकसभा चुनाव के दौरान भी विरोधी दलों की ओर से उन्हें लेकर कोई ना कोई टिप्पणी आती रहती है. पिछले कुछ दिनों से उनकी चर्चा इसलिए भी है, क्योंकि ED लंदन में स्थित उनकी कथित प्रापर्टी को लेकर उनसे लगातार पूछताछ कर रही है. उनका परिवार पीतल के कारोबार में था. रॉबर्ट वाड्रा ने भी ब्रास एक्सपोर्ट से अपना कारोबार शुरू किया था और फिर उन्होंने रियल एस्टेट समेत कई क्षेत्रों में तेजी से अपना कारोबार फैलाया. हालांकि प्रियंका गांधी से शादी के कुछ समय बाद ही उन्हें अपने परिवार से अलग होने की सार्वजनिक घोषणा भी करनी पड़ी

रॉबर्ट वाड्रा के दादा पाकिस्तान के सियालकोट से आकर पीतलनगरी कहे जाने वाले मुरादाबाद में बस गए थे. यहीं पर उन्होंने ब्रास का कारोबार शुरू किया, बाद में इसे रॉबर्ट वाड्रा के पिता ने संभाला. उनकी मां मॉरीन दिल्ली के एक प्लेस्कूल में टीचर थीं. वो मूल रूप से स्कॉटिश हैं.

नेता जी कहां हैं: प्रियंका गुजरात में करेंगी प्रचार की शुरुआत, मेनका-अखिलेश भरेंगे पर्चा



कैसे प्रियंका गांधी से हुई मुलाकात
18 अप्रैल 1969 को पैदा हुए वाड्रा की पढ़ाई दिल्ली के ब्रिटिश स्कूल में हुई. प्रियंका गांधी भी उसी स्कूल में पढ़ती थीं. यहीं रॉबर्ट की बहन ने भाई की मुलाकात प्रियंका से कराई. प्रियंका तब 13 साल की थीं. इसके बाद दोनों की दोस्ती मजबूत होती गई. ये दोस्ती इतनी प्रगाढ़ हो गई कि राजीव गांधी के प्रधानमंत्री रहने के दौरान पीएम हाउस में रॉबर्ट बेरोकटोक आने जाने लगे. 1997 में दोनों की शादी हो गई. दोनों के दो बच्चे हैं. बेटे का नाम रेहान और बेटी का नाम मिराया.

बचपन की दोस्ती, जो शादी में बदल गई (फाइल फोटो)


सोनिया की ये नाराजगी और परिवार से अलगाव
दरअसल शादी के बाद इस तरह की खबरें उड़ने लगीं कि वाड्रा के पिता और भाई सियासी फायदा उठाने में लग गए हैं. उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और अफसरों से कुछ सिफारिशें भी कर डाली थीं. ये कहा जाने लगा था कि वो गांधी परिवार से अपने रिश्ते का हवाला देते थे. बात तब और टेढी हो गई, जब उन्होंने किसी को मुरादाबाद से टिकट दिलाने का वादा कर लिया. इसके बाद सोनिया गांधी नाराज हो गईं. रॉबर्ट को सार्वजनिक तौर पर अखबार में अपने परिवार से संबंध तोड़ने का इश्तेहार छपावाना पड़ा.

अंग्रेजी अख़बारों से: बैन के बाद माया, मेनका, आजम रहे घर पर, योगी पहुंचे अयोध्या

परिवार में मौतें
इस इश्तेहार के बाद रॉबर्ट ने पिता से संबंध तोड़ लिये. इसके बाद अगले कुछ सालों में उनके पिता, बड़े और बहन की हादसों में मौतें हुई. वैसे कहा जाता है कि शुरू में उनके पिता ने इस शादी का विरोध भी किया था. 2009 में रॉबर्ट के पिता दिल्ली में एम्स के पास एक मोटेल में मृत पाए गए. उनके बड़े भाई, रिचर्ड ने भी 2003 में आत्महत्या कर ली. इससे पहले बहन मिशेल 2001 में एक कार एक्सीडेंट में मारी गई थीं.

जब सोनिया गांधी को पता लगा कि रॉबर्ट का परिवार सियासी फायदा उठाने की कोशिश कर रहा है तो नाराज हुईं थीं (फाइल फोटो)


रॉबर्ट वाड्रा ने बिजनेस में लगाई छलांग
शुरुआत में पिता के ही कारोबार में साथ देने के बाद 1997 में वाड्रा ने आर्टेक्स नाम से एक हैंडीक्राफ्ट्स का बिजनेस शुरू किया. उन्होंने और भी कई सारे बिजनेस शुरू किए, जिनमें रियल स्टेट, होटल और चार्टर एयरक्राफ्ट का बिजनेस भी शामिल थे. रियलिटी फर्म DLF, रियल स्टेट के क्षेत्र में उनका पार्टनर था.

उनकी मां मौरीन उनकी कंपनियों स्काई लाइट हॉस्पिटैलिटी, स्काई लाइट रियल्टी, नॉर्थ इंडिया आईटी पार्क्स, रियल अर्थ एस्टेट्स और ब्लू ब्रीज ट्रेडिंग में डायरेक्टर हैं. इसलिए प्रवर्तन निदेशालय जब हाल में रॉबर्ट से पूछताछ कर रहा था तो उसने जयपुर में रॉबर्ट की मां से भी पूछताछ की. ये सारी कंपनियां नवंबर 2007 और जून 2008 के बीच रजिस्टर्ड कराई गई थीं.

Loksabha Elections 2019: पहली बार वोट डालने जा रहे तो ध्यान रखें ये 5 बातें

लग्जरी लाइफ जीते हैं
मीडिया में आने वाली रिपोर्ट्स की मानें तो रॉबर्ड वाड्रा हाई-फाई जिंदगी जीने के शौकीन हैं. वो अक्सर दिल्ली के नाइटक्लब्स में देखे जाते हैं. उन्हें फिटनेस फ्रीक भी कहा जाता है. वो महंगे और डिजाइनर कपड़े पहनते हैं. जिन पार्टियों में वे जाते हैं, उसके केंद्र में रहते हैं. तेज स्पीड वाली स्पोर्ट्स बाइक्स का उनके पास कलेक्शन है.

अरविंद केजरीवाल लगा चुके हैं गड़बड़ी का आरोप
अरविंद केजरीवाल भी रॉबर्ट वाड्रा पर गड़बड़ी का आरोप लगा चुके हैं. 2012 में उन्होंने कहा था कि रॉबर्ट वाड्रा ने DLF से बहुत कम दामों पर जमीन और 65 करोड़ का बिना ब्याज का लोन लिया है. इसके बदले DLF को राजनीतिक फायदे पहुंचाने का वादा किया गया था. केजरीवाल ने इस मामले में जांच की मांग भी की थी.

फिलहाल ब्रिटिश वर्जिन द्वीप की प्रॉपर्टी को लेकर है विवाद
जिस मामले में अभी ED वाड्रा से पूछताछ कर रही है, वो ब्रिटिश वर्जिन द्वीप की दो प्रॉपर्टी से जुड़ा है. विवादित हथियार कारोबारी संजय भंडारी ने 2016 में ब्रिटिश वर्जिन द्वीप पर इन प्रॉपर्टी की गैरकानूनी खरीद से वाड्रा के जुड़े होने की बात कही थी. भंडारी की खुद भी करीब 35 फर्जी कंपनियों से जुड़ी वित्तीय अनियमितताओं के लिए जांच की जा रही है.

2025 तक चली जाएंगी साढ़े सात करोड़ नौकरियां, क्या आपकी नौकरी रहेगी सुरक्षित?
वर्ल्ड कप में सेलेक्ट ये इंडियन क्रिकेटर खेल में हीरो तो पढ़ाई में 'जीरो', देखें पूरी लिस्ट
भारत का वो नेता जिसकी बहादुरी की कहानियां इंडोनेशिया में सुनाई जाती हैं
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज