#RoyalWedding : ये काम बिलकुल न करें शाही शादी के मेहमान

प्रिंस हैरी और मेघन मार्कल की शाही शादी पर सबकी नज़र है. ऐसे में ब्रिटेन के इस राजघराने के किए गए हर इंतजाम में कुछ खास है. जैसे कि वह निमंत्रण पत्र जिसमें मेहमानों को कुछ नियमों से भी अवगत करवाया गया है. क्या वह नियम आइए जानें.

  • Share this:
शादी, वो भी शाही, वो भी ब्रिटेन के राजघराने की शादी – यहां सब कुछ जितना चमचमाता हुआ दिखता है, उतना ही नियमों से घिरा हुआ भी है. इतना कड़क कि आने वाले मेहमानों को किन बातों का ख्याल रखना है, उसका पूरा विवरण उन्हें भेजे गए कार्ड में दिया गया है. मेहमानों को क्या करना है, क्या नहीं करना है, यह सब कुछ उन्हें पहले से सूचित कर दिया गया है. वैसे अगर आपको नहीं पता तो हम बता दें कि यहां प्रिंस हैरी और मेघन मार्कल की शादी की बात हो रही है जो 19 मई को वैवाहिक बंधन में बंधने वाले हैं.

इस शादी की दुनिया भर में चर्चा है. दुल्हा-दुल्हन से लेकर उनके परिवार और आने वाले मेहमान हर पहलू पर नज़र रखी जा रही है. ऐसे में शादी का कार्ड कैसे छूट सकता है. करीब 600 मेहमानों को न्यौता दिया गया है जो विंडसर महल के गिरिजाघर में आयोजित शादी के गवाह बनेंगे. फिर करीब 200 लोगों उस खासी पार्टी का हिस्सा बनेंगे जो हैरी के पिता प्रिंस चार्ल्स ने रखी है जिसमें कई जाने माने चेहरे नज़र आ सकते हैं. इन सभी मेहमानों को जो निमंत्रण पत्र मिले हैं, बताया जा रहा है कि उसमें उन्हें कुछ नियमों से भी परिचित करवाया गया है. हालांकि हमारे पास तो शादी का कार्ड नहीं पहुंच पाया ;) इसलिए हम ब्रिटेन के अलग अलग अख़बारों के हवाले से आपको बताते हैं कि क्या है वो नियम जिनका मेहमानों को पालन करना होगा.

royal wedding, meghan markle, prince harry, harry weds meghan
हैरी और मेघन की शादी का कार्ड


  • फोन और कैमरा घर पर छोड़कर आएं – अगर आप यह सोच रहे हैं कि महल में घुसते ही फेसबुक पर अपडेट कर पाएंगे तो अफसोस इस शादी में सोशल मीडिया पर पूरी तरह प्रतिबंध है. यही नहीं, मेहमानों से बड़ी ही विनम्रता से फोन और कैमरे को बाहर ही रखवा लिया जाएगा ताकि किसी भी तरह की निजता में हनन न हो.



  • ड्रेस कोड - मेहमानों को न्यौते में कथित तौर पर ड्रेस कोड भी लिखकर दिया गया है. यानि किसी तरह के कपड़े पहनकर आने हैं. महिलाओं को डे ड्रेस और सिर पर हैट पहननी है तो पुरुषों को एक ख़ास तरह का सूट पहनकर आने को कहा गया है. तो अगर आप सोचते हैं कि यह ब्रिटेन में महिलाएं अजीबोगरीब हैट क्यों पहनती हैं तो उसका जवाब यह है कि दरअसल यह शाही परिवार के ड्रेस कोड का हिस्सा है. दबे शब्दों में आप इसे मजबूरी भी कह सकते हैं J

  • तोहफे मना हैं – शाही जोड़े को तोहफा देने से बेहतर होगा कि राजघराने से जुड़ी उन सात संस्थाओं में से किसी एक में वह अपनी इच्छा से कुछ दान कर दें. और अगर तोहफा देने का कुछ ज्यादा ही मन हो रहा है, तो फिर किसी और दिन मिलने आ जाइए. शादी के दिन तो तोहफे की सख्त मनाही है.

  • बड़े बैग से तौबा – सुरक्षा के कड़े इंतज़ाम की वजह से मेहमानों को सलाह दी गई है कि वह बड़े और भारी बैग न लाएं. क्योंकि उनकी पहचान और आईडी को चेक करने के बाद उन्हें शादी स्थल से तीन मील दूर एक बस से महल तक आना होगा.

  • तलवार नहीं, बिल्कुल नहीं – अब शाही शादी है तो कहीं कोई जोश में तलवार-ढाल न ल आए इसलिए निमंत्रण पत्र में इसे लेकर भी ऐतिहात के तौर पर मनाही है.

  • क्वीन से मिलना है – महारानी एलिज़ाबेथ 2 के पोते की शादी है. जाहिर है आप भी सोचेंगे कि उनसे मिलना भी हो जाए. लेकिन ठहरिए, रुकिए. उनसे मिलने आप नहीं, वह खुद आएंगी. एक तय हिसाब से महारानी मेहमानों से एक एक करके मिलेगी और जब वो आपके पास पहुंचे तो झुककर उन्हें सम्मान दीजिए.

  • कहीं भी न बैठे – ऐसा नहीं हो सकता कि आपको दुल्हन को पास से देखना है तो आपने आगे वाली सीट पकड़ ली. एक बार फिर याद दिला दें कि यह शाही शादी है इसलिए यहां पहले से ही कौन कहां बैठेगा तय किया जा चुका है. तभी तो 600 मेहमान चर्च में बहुत पहले आना शुरू कर देंगे ताकि शादी शुरू होने से पहले सब अपनी अपनी जगह बैठ जाएं


बस ऐसे ही कुछ नियम हैं जो शाही शादी में जाने वालों को जिसका पालन करना पड़ता है. कुछ और नियम भी इंटरनेट पर वायरल हो रहे हैं जैसे चावल, पास्ता, आलूओं की इस शादी में कोई जगह नहीं. जब महारानी खाना छोड़ दें, तब सबको रुक जाना होगा, वगैरह वगैरह. लेकिन हम इन नियमों की पुष्टि नहीं करते. वैसे अगर ऐसे नियम हैं भी तो इतनी बड़ी शादी का हिस्सा बनने के लिए आने वाले मेहमान इतना तो कर ही सकते हैं. है ना..!
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज