#RoyalWedding : ब्रिटेन के शाही परिवार की शादी की इतनी चर्चा क्यों..

19 मई को ब्रिटेन के शाही परिवार में शादी होने जा रही है. राजकुमार हैरी और हॉलीवुड अभिनेत्री मेघन मार्कल ब्याह करने वाले हैं और पूरी दुनिया की नज़र होगी इस शादी पर. जानिए क्यों इतनी ख़ास होती है इस शाही परिवार की शादी.

  • Share this:
हाल ही में सोनम कपूर की शादी को मीडिया और सोशल मीडिया ने जमकर कवर किया. मेहंदी से लेकर शादी का कार्ड और घर में होने वाली तमाम रस्मों के वीडियो आपके व्हाट्सएप पर भी आ चुके होंगे. उससे पहले अनुष्का शर्मा की शादी की तस्वीरें देखकर हम सब आहें भर रहे थे और शादी की 'व्यवस्था' को लेकर टिप्पणियां रख रहे थे. लेकिन अब बारी है ऐसी शादी की जिसका दुनिया भर में कोई मुकाबला नहीं.

ब्रिटेन के शाही खानदान की शादी जो खास है कई वजहों से. एक वजह तो यह परिवार है जो किसी वक्त दुनिया के आधे से ज्यादा हिस्से पर राज किया करता था. दूसरी वजह मौजूदा दौर है जहां राजकुमार और राजकुमारियों के किस्से अब किताबों तक सिमट कर रह गए हैं. ऐसे में जब हम ऐसे राजशाही परिवार के रहन सहन और शादी उत्सवों के बारे में पढ़ते या देखते हैं, तो मन में एक अलग तरह की उत्सुकता आना स्वाभाविक सी बात है.

इस शादी पर दुनिया भर की नज़र टिकी है. इंग्लैंड की महारानी एलिज़ाबेथ 2 के पोते हैरी की शादी. यह एक ऐसी शादी है जिसमें सिर्फ आम इंसान की ही नहीं, दुनिया की बड़ी बड़ी हस्तियों की रुचि है. इतिहास गवाह है कि जब जब शाही खानदान में शादी हुई है, तब तब दुनिया भर की मीडिया में ब्यौरे छपे हैं कि दुल्हे न क्या पहना, दुल्हन कौन है, क्या पहनने वाली है, कौन सी सवारी पर दुल्हा-दुल्हन आएंगे, कितने मेहमान आएंगे, कौन नहीं आएगा. जैसे कि हाल ही में ख़बर आई कि इस परिवार के रिश्ते बराक ओबामा से बहुत अच्छे हैं. लेकिन उन्हें न्यौता नहीं दिया गया क्योंकि उन्हें बुलाए जाने का मतलब है कि अमेरिका के मौजूदा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को भी निमंत्रण भेजना. शाही परिवार के रिश्ते ट्रंप से बहुत अच्छे नहीं बताए जाते. ऐसे में फैसला लिया गया कि ओबामा को भी नहीं बुलाया जाएगा.



royal wedding, meghan markle, prince harry
(तस्वीर - AP)

तो चलिए फटाफट जान लेते हैं इस ख़ास परिवार की ख़ास शादी के बारे में –

19 मई को शादी हो रही है राजकुमार हैरी की जो कि इंग्लैंड की महारानी एलिज़ाबेथ द्वितीय के बेटे और वेल्स के राजकुमार चार्ल्स और स्वर्गीय डायना के छोटे बेटे हैं.

हैरी की शादी हॉलीवुड अभिनेत्री मेघन मार्कल से होने जा रही है जो अमेरिका की लोकप्रिय टीवी सीरिज़ ‘सूट्स’ में मुख्य भूमिका में थी.

हैरी और मेघन की मुलाकात 2016 में एक दोस्त के घर पर हुई थी. बीबीसी को दिए एक इंटरव्यू में शादी के बंधन में बंधने वाले इस दंपति ने बताया कि कुछ महीने पहले चिकन बनाने के दौरान हैरी ने मेघन के सामने शादी का प्रस्ताव रखा था.

मेघन की इससे पहले एक बार शादी हो चुकी है.अमेरिकी निर्माता ट्रेवर एंजेलसन से मेघन का 2013 में तलाक हो गया था. वैसे मेघन और प्रियंका चोपड़ा बहुत अच्छे दोस्त माने जाते हैं. बताया जा रहा था कि प्रियंका शादी में ब्राइड्समेड (दुल्हन के साथ चलने वाली उनकी सहेली) का रोल भी निभा सकती हैं. लेकिन बाद में इसे दरकिनार कर दिया गया क्योंकि इस शाही परिवार की शादी में दुल्हन को सिर्फ छोटी बच्चियां ही साथ लेकर आती हैं.

royal wedding, meghan markle, prince harry
हैरी, राजकुमार चार्ल्स और स्वर्गीय डायना के बेटे हैं


ताज पहने जाने की कतार में राजकुमार हैरी छठें स्थान पर हैं. यानि उनसे पहले उनकी दादी, उनके पिता, उनके भाई, भाई के तीन बच्चे(एक जिसने हाल ही में जन्म लिया है) की बारी आती है. ईश्वर न करे लेकिन इन सबकी मृत्यु के बाद ही हैरी उस राजगद्दी पर बैठ सकते हैं जिस पर फिलहाल उनकी दादी विराजमान हैं. वैसे हैरी एक इंटरव्यू में कह चुके हैं कि उन्हें राजगद्दी में किसी तरह की रुचि नहीं है.



जहां तक मेहमानों की बात है तो जैसा कि ऊपर लिखा जा चुका है, ओबामा, ट्रंप समेत किसी भी राजनीतिक शख्स को शादी में नहीं बुलाया जा रहा है. यहां तक की ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे को भी शादी से दूर रखा गया है. ट्रंप ने हैरी की मां डायना के राजकुमार चार्ल्स से तलाक के बाद उन्हें कथित तौर पर आक्रमक रूप से आग्रह भेजा था. वहीं मेघन मार्कल भी राष्ट्रपति ट्रंप की खुलेआम आलोचना करती आ रही हैं. ऐसे में परिवार ने राजनीति और राजनीतिक हस्तियों को शादी से दूर रखने का फैसला किया.

अनुमान है कि इस शाही शादी का खर्चा करीब 300 करोड़ रुपये होगा जिसमें से सबसे अहम हिस्सा सुरक्षा व्यवस्था में जाएगा. हालांकि शादी का खर्चा परिवार ही उठाता है और कहा जा रहा है कि मार्कल अपनी शादी की गाउन की रकम खुद अदा करेंगी. लेकिन सुरक्षा का खर्चा सरकार के खाते में जाएगा. इसकी जाहिर तौर पर निंदा की जाती है क्योंकि सरकार द्वारा खर्चा उठाने का मतलब है करदाताओं की जेब से जाना. वैसे माना यह भी जाता है कि इसकी पूरी भरपाई पर्यटन से हो जाती है क्योंकि शाही शादी और शाही परिवार हमेशा से ही सैलानियों के लिए बहुत बड़ा आकर्षण का केंद्र रहा है. गौरतलब है कि पर्यटन का ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था में बहुत बड़ा योगदान है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज