क्या दुनिया का गेमचेंजर है रूस का नया फिफ्थ जेनरेशन जेट फाइटर चेकमेट

चेकमेट (Checkmate) फाइटर जेट के अनावरण में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन भी आए थे. (तस्वीर: @papabear747)

Russia ने हाल ही में पांचवी पीढ़ी का फाइटर जेट (Fighter Jet) प्लेन लॉन्च किया है यह दुनिया की वायुसेनाओं के लिए गेम चेंजर साबित हो सकता है.

  • Share this:
    रूस (Russia) भले ही दुनिया के एक प्रमुख महाशक्ति नहीं रहा, लेकिन हथियार बाजार में वह अब भी एक प्रमुख विक्रेता है. हाल ही में उसने अपने सुखोई जेट यान (Sukhoi Fighter jet) शृंखला में एक नया फाइटर जेट यान जोड़ा है. चेकमेट (Checkmate) नाम का यह विमान रूस की एयरक्राफ्ट निर्माण कंपनी रोस्टेक ने मास्को से कुछ ही घंटों की दूरी पर स्थित जुकोव्स्की में इंटरनेशनल एविएश एंड स्पेस सैलून के MAKS-2021 एयर शो में प्रस्तुत किया. इस यान का नाम चेकमेट है और माना यह भी जा रहा है कि यहलड़ाकू विमानों की दुनिया में गेमचेंजर साबित हो सकता है.

    क्या खासियतें हैं चेकमेट की
    इस यान को मशहूर एफ-35 की मुकाबले का फाइटर जेट माना जा रहा है. चेकमेट पांचवी पीढ़ी का स्टील्थ लड़ाकू जेट विमान है. रोस्टेक ने इसे यूनाइटेड एयरक्राफ्ट कॉर्पोरेशन के साथ विकसित किया है. इसमें सुखोई SU-57 ट्विन इंजन वाले लड़ाकू विमान से हलका है. और अलग-अलग रेंच की हवा से हवा में मार करने वाली 5 मिसाइलों को लेकर उड़ान भर सकता है. यह उड़ान के दौरान ही ड्रोन लॉन्च कर सकता है और 7.5 टन से भारी हथियार अपने साथ ले जा सकता है.

    दूसरे फाइटर जेट से हटकर ये भी
    उड़ान भरने या उतरने के लिए इस विमान को बड़े रनवे की जरूरत नहीं पड़ती है और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का उपयोग इसकी एक बड़ी खासियत माना जा रहा है. एआई के जरिए इस विमान में एक ऑटो सहपायटल की सुविधा दी गई है जो युद्ध के हालात में विमान चालक के लिए उपयोग साबित होगा.

    तीन साल बाद भरेगा पहली उड़ान
    इस जेट की सबसे बड़ी खूबियों में से एक यह भी है कि यह जमीन, हवा या समुद्र तीनों जगहों पर एक साथ छह निशानों पर हमला कर सकता है. इलेक्ट्रॉनिक रूप से मजबूत व्यवधान आने पर भी यह विमान कारगर बना रहता है. इसकी कीमत 2.5 से 3 करोड़ डॉलर होगी. परीक्षणों के बाद यह अपनी पहली उड़ान 2023 में भरेगा.

    Russia, Air Force, Fighter jet, Fifth-Generation Fighter Jet, Game changer, F-22s F-35s, Sukhoi Fighter jets, IAF, Tejas, LAC,
    चेकमेट फाइटर जेट अमेरिका के एफ-35 लड़ाकू विमान (F-35)के समकक्ष बताया जा रहा है. (तस्वीर: shutterstock)


    बेचने का इरादा
    जिस तरह से चेकमेट को दुनिया के सामने पेश किया गया है, रूस की सरकार की मंशा इस विमान को निर्यात के लिए बनाने की ही लगती है. चेकमेट के अनावरण समारोह के लिए बाकायदा प्रचार किया गया था जिसके बाद लोगों में इसके लेकर कौतूहल बढ़ गया. इस समारोह में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन भी शामिल हुए थे. साफ है, रूस इसे दुनिया के कई देशों को बेचने की योजना बना रहा है.

    जानें क्या हैं भारत में पोर्नोग्राफी के कानून, किस तरह दंड के प्रावधान

    बड़े पैमाने पर उत्पादन
    बताया जा रहा है कि रूस 2026 से इसे ग्राहक देशों को बेचना शुरू कर देगा. यूनाइटेड एयरक्राफ़्ट कॉरपोरेशन का कहना है कि उसकी योजना अगले 15 साल में 300 चेकमेट जेट विमान बनाने की है. यह आंकड़ा ग्राहकों की ज़रूरतों को देखते हुए लगाया गया है. कंपनी इस विमान के मानव रहित संस्करण को विकसित करने के काम पर भी लगी हुई है.

    Russia, Air Force, Fighter jet, Fifth-Generation Fighter Jet, Game changer, F-22s F-35s, Sukhoi Fighter jets, IAF, Tejas, LCA,
    भारत का हलका लड़ाकू विमान तेजस (Tejas Jet) चेकमेट के बेहतर नहीं तो उसके आसपास जरूर है. (तस्वीर: Joe Ravi / Shutterstock)


    भारत भी हो सकता है खरीदार
    रूस जिन देशों को चेकमेट के खरीदारों के रूप में देख रहा है उनमें भारत भी शामिल है. भारत की ओर से इस विमान को खरीदने संबंधी कोई जानकारी सामने नहीं आई है. लेकिन विमान के अनावरण से पहले जारी एक टीज़र वीडियो में भारत सहित चार देशों के पायलटों को नए विमान का इंतज़ार करते हुए दिखाया गया है. बाकी तीन पायलट यूएई, वियतनाम और अर्जेंटीना के हैं.

    वैज्ञानिकों ने बनाया खास पदार्थ, सेकेंड में सुधारेगा मोबाइल की क्रैक स्क्रीन

    भारत पहले ही हलके लड़ाकू विमान (LAC) तेजस MK-1 के 73 लड़ाकू विमानों की मंजूरी दे चुका है. यह चेकमेट की तरह एकल इंजन लड़ाकू विमान है. तेजस भारत में बनने वाला एकल इंजन चौथी पीढ़ी का विमान है जो भारतीय वायु सेना और भारतीय नौसेना के लिए डिज़ाइन किया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.