होम /न्यूज /नॉलेज /क्या वाकई में पुतिन कर रहे हैं यूक्रेनियों का सफाया

क्या वाकई में पुतिन कर रहे हैं यूक्रेनियों का सफाया

व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) पर नरसंहार करने की आशंका पहले से जताई जा रही है. (तस्वीर: Wikimedia Commons)

व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) पर नरसंहार करने की आशंका पहले से जताई जा रही है. (तस्वीर: Wikimedia Commons)

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir piutin) पर यूक्रेन में नरसंहार (Ge ...अधिक पढ़ें

    रूस यूक्रेन युद्ध (Russia Ukraine War) को 50 दिन हो गए हैं. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) पर नरसंहार (Genocide) का आरोप लगाते कहा है कि वे यूक्रेनियों का सफाया करने की कोशिश कर रहे हैं. वहीं दूसरी तरफ रूसी रक्षा मंत्रालय का दावा है कि एक हजार से अधिक यूक्रेनी सैनिकों ने समर्पण किया है जिसमें 150 से ज्यादा अधिकारी हैं. बाइडन और यूक्रेन पहले से ही रूस और पुतिन पर युद्ध अपराध करने के आरोप लगा रहे हैं. इस तरह के आरोप तब भी लगे थे जब रूस ने अपनी नीति में बदलाव कर कीव से पीछे हटने का फैसला किया था और वहां से बहुत सारे लोगों के मारे जाने और कब्रें मिलने की खबरें सुनने और देखने को मिली थीं. लेकिन बाइडन के दावे को साबित करना क्या आसान होगा. यह भी एक सवाल है.

    क्या कहा बाइडन ने
    बाइडन ने इओवा से वॉशिंगटन आते समय हवाई जहाज में चढ़ने से पहले पत्रकारों से बातचीत में कहा, ”हें मैं इसे नरसंहार कहूंगा. अब यह साफ होता जा रहा है कि पुतिन यूक्रेनी होने का विचार तक साफ करने की कोशिश कर रहे हैं. ” इससे पहले बाइडन कहा था कि उन्हें लगता है कि पुतिन यूक्रेन के खिलाफ नरसंहार कर रहे हैं. लेकिन इसके आगे या इस पर उन्होंने और उनके प्रशासन ने बाद में कुछ नहीं कहा.

    जेलेंस्की ने किया स्वागत
    अमेरिकी राष्ट्रपति के  बयान का यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने स्वागत किया है. जेलेंस्की काफी दिनों से चाह रहे हैं कि पश्चिमी देश रूसी हमले के लिए इस तरह की शब्दावली का उपयोग करें. उन्होंने अपने ट्वीट में अमेरिका का अब तक के लिए किए गए सहयोग का आभार भी जताया और एक बार फिर रूस के खिलाफ युद्ध में भारी हथियारों की मांग की.

    क्या है नरसंहार
    संयुक्त राष्ट्र की संधि के अनुसार, जिसमें अमेरिका भी शामिल है, नरसंहार वे कदम हैं जिन्हें किसी देश, नस्ल, जाति या धार्मिक समूह को आंशिक या पूर्ण रूप से खत्म करने के उठाया जाता है. अभी तक के अमेरिकी राष्ट्रपति रूस यूक्रेन युद्ध जैसे हमलों के लिए नरसंहार जैसे शब्दों का इस्तेमाल करने से बचते रहे हैं. एक बार नरसंहार की औपचारिक पहचान होने पर अंतरराष्ट्रीय दखल जरूरी हो जाता है.

    World, Research, USA, Joe Biden, Russia, Russia Ukraine War, Vladimir Putin, Genocide, United Nations, Ethnic Cleansing

    युद्ध में रूसी सेना के द्वारा की गई तबाही को नरसंहार (Genocide) होने की पड़ताल की जा रही है. (तस्वीर: Wikimedia Commons)

    क्या कोई भूमिका बनाई जा रही है
    यह अभी देखना होगा कि क्या बाइडेन रूस यूक्रेन युद्ध में दखल देने का मौका पैदा करने के लिए कोई भूमिका बना रहे हैं. इस युद्ध दखल देने से अमेरिका सीधे और साफ तौर से बचता आया है. उसका कहना है कि इस तरह के दखल से तृतीय विश्व युद्ध शुरू हो सकता है. इससे पहले पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन 1994 में रवांडा हूतू द्वारा मारे 8 लाख टूटसीज की हत्या को नरसंहार कारार दिया था.

    यह भी पढ़ें: Russia Ukraine War के कारण क्या बदलने वाली है विश्व व्यवस्था?

    वकील करेंगे फैसला
    खुद बाइडन का कहना है कि यह वकीलों को तय करना होगा कि क्या रूसका बर्ताव अंतरराष्ट्रीय मानदंडों के अनुसार नरसंहार है या नहीं, जैसा कि यूक्रेनी अधिकारी दावा कर रहे हैं. यह कहते हुए उन्होंने आगे कहा कि उन्हें निश्चित तौर पर ऐसा ही लगता है. उन्होंने कहा कि इस तरह के और भी प्रमाण सामने आ रहे हैं कि रूस ने यूक्रेन में भयावह बर्ताव किया है.

    USA, Joe Biden, Russia, Russia Ukraine War, Vladimir Putin, Genocide, United Nations, Ethnic Cleansing

    युक्रेन के बूचा (Bucha) इलाके में रूसी सेना हटने के बाद वहां बड़ी संख्या में लोगों के मारे जाने की खबरें मिली थीं. (तस्वीर: Wikimedia Commons)

    साबित करना नहीं आसान
    फिलहाल यह साबित करना मुश्किल है कि पुतिन वाकई ऐसा चाहते हैं. जहां तक युद्ध में यूक्रेनी नागरिकों को मारे जाने की बात है तो इस नरसंहार कहना भी मुश्किल होगा कि क्योंकि खुद पश्चिमी देशों की रिपोर्ट कह चुकी है कि यूक्रेन के नागरिकों ने हथियार थाम लिए हैं और वे रूसी सेना से मुकाबला कर रही हैं.  ऐसे में यह साबित करना होगा कि रूसी सेना ने निहत्थे यूक्रेनी नागरिक मारे हैं.

    यह भी पढ़ें: Russia Ukraine War: क्या हो सकता है यूक्रेन में पुतिन का Plan B

    ऐसे में अभी संदेह केवल पुतिन की मंशा पर रह जाता है कि क्या वे वाकई यूक्रेनियों को साफ करना चाहते हैं. अगर ऐसा है भी, तो पुतिन को ऐसा करने में बहुत लंब समय लग जाएगा और इसके लिए उन्हें लंबे समय की जरूरत भी पड़ेगी. फिलहाल पुतिन युद्ध की तरह इस जंग को लड़ना चाहेंगे और यह साबित करने का प्रयास भी करेंगे कि यह सब पश्चिमी देशों का एजेंडा है. जो भी हो यह अब निश्चित ही लग रहा है कि यह युद्ध काफी लंबा चलने वाला है.

    Tags: Joe Biden, Research, Russia, Russia ukraine war, USA, World

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें